Off Beat

ये करते हैं चीनी का नशा, नहीं मिलती है चीनी तो ऐंठने लगता है शरीर

क्या आजकल आप किसी भी वक्त मीठा खाने की इच्छा का सामना करते हैं। अगर ऐसा है तो सतर्क हो जाइए क्योंकि यह सिर्फ शुगर पेशेंट को ही नहीं होती। कई अन्य कारणों की वजह से भी आपकी मीठा खाने की इच्छा बढ़ जाती है। जो लोग रातभर जागते हैं या जिनकी नींद पूरी नहीं होती उनके शरीर में जब ऊर्जा की कमी होती है तब उन्‍हें जंक फूड या मीठी चीजें खाने का मन करता है। खराब नींद हमारे हार्मोन्‍स को प्रभावित करती है। जिसकी वजह से हमें बार-बार भूख लगती है और शुगर खाने की इच्छा होने लगती है।
कई लोगों को चीनी की तलब बहुत ज्‍यादा होती है। यह उनके लिए एक नशीले पदार्थ की तरह होता है जिसे वह चाह कर भी नहीं छोड़ पाते। महिलाओं को 6 चम्‍मच तो वहीं पुरुषों को 9 चम्‍मच चीनी तक सीमित रखने की सलाह दी जाती है।

 

भूखे शरीर को भी मीठा चाहिए

हमारा शरीर जब भूखा होता है तब उसे अधिक ईंधन या फ्यूल की आवश्‍यकता पड़ती है। जब आप कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन खाते हैं, तो पाचन तंत्र उसे शुगर में तोड़ देता है। जो उसे रक्‍त के जरिए कोशिकाओं में ले जाकर एनर्जी में बदलता है। जब हमें बिना खाए पिए एक लंबा समय बीत जाता है तब हमारी कोशिकाओं को फ्यूल यानी ईंधन की जरूरत पड़ती है। ऐसे में हमें अधिक कार्बोहाइड्रेट लेने की आवश्यकता पड़ती है और मीठा खाने का मन करने लगता है।

शरीर जब स्‍ट्रेस में होता है तब कोर्टिसोल और एड्रेनालिन हार्मोन ज्‍यादा बनने लगते हैं। ये दोनों हमारी बॉडी में असंतुलन पैदा करते हैं जिससे ब्‍लड प्रेशर और इंसुलिन का स्तर बढ़ाता है। यही नहीं इससे हमें मीठा खाने की भी क्रेविंग होने लगती है।
कई लोग मोटापा कम करने के चक्‍कर में खुद को भूखा रखकर कड़ी डायटिंग करते हैं। जिस वजह से उनके शरीर को पूरा पोषक तत्‍व नहीं मिल पाता। इससे शरीर में ग्लूकोज का स्तर बिगड़ जाता है और इसके साथ ही मीठा खाने का मन करने लगता है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Notifications    Ok No thanks