Categories
Tech

होंडा भारत में करेगी ऐसी मोटरसाइकिल लांच जो 3 सैकिंड में पकड़ लेगी 100 की रफ्तार

जापानी कम्पनी होंडा एक ऐसी मोटरसाइकिल भारत में लांच करेगी जो मात्र 3 सैकिंड में 100 की रफ्तार पकड़ लेगी। यह जानकारी कम्पनी के ब्रांड ऑपरेटिंग प्रमुख और उपाध्यक्ष प्रभु नागराज ने दी। दुपहिया वाहन निर्माण की प्रमुख कंपनी होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड भारतीय बाजार में अगले साल प्रीमियम श्रेणी की मोटरसाइकिल और स्कूटर उतारने की आक्रमक रणनीति बना रही है जिससे भारतीय बाजार की संभावनाओं का पूरा इस्तेमाल किया जा सके। कंपनी के ब्रांड ऑपरेटिंग प्रमुख और उपाध्यक्ष प्रभु नागराज ने बताया कि भारतीय बाजार में प्रीमियम श्रेणी के दुपहिया वाहनों की मांग में भारी इजाफा हो रहा है। देश में युवाओं में प्रीमियम श्रेणी के वाहनों में रूचि बढ़ रही है। परंपरागत तौर पर भारतीय बाजार यात्री वाहनों के लिए जाना चाहता है लेकिन अर्थव्यवस्था का स्वरूप बदलने और व्यक्तिगत आय बढ़ने के कारण प्रीमियम श्रेणी के वाहनों की बिक्री में वृद्धि हो रही है।

होंडा भारतीय बाजार में उन दुपहिया वाहनों को भी भारतीय युवाओं के लिए पेश करने की तैयारी कर रहा है जो अभी तक यूरोपीय बाजार में ही देखे जा सकते हैं। कंपनी यूरोप के पर्यावरण मानकों को पूरा कर रही है और इन वाहनों को भारतीय बाजार में भी उतारा जाएगा। इससे पहले कंपनी के यूरोपीय क्षेत्र के वरिष्ठ उपाध्यक्ष टॉम गार्डनर ने मोटरसाइकिल सीबीआर 1000 आर आर के नए संस्करण को वैश्विक स्तर पर जारी किया।
इसमें नई तकनीक का इस्तेमाल किया गया है जिसके कारण यह पर्यावरण के आधुनिक मानकों के अनुरूप है और इसकी क्षमता में भी वृद्धि की गई है। इसके साथ ही एस एच 125 आई , सीएमएस 500 रिबेल और अफ्रीका ट्विन के नए संस्करण भी वैश्विक बाजार में उतारे गये है तथा सीबी 1000 आर, मोटरसाइकिल का नया संस्करण जारी किया गया। यह सभी वाहन वर्ष 2020 की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए तैयार किए गए हैं। जारी किए गए सभी दुपहिया वाहन भारतीय ग्रामीण परिस्थितियों और आवश्यकता के अनुरूप है। इन सभी वाहनों को अगले वर्ष के अंत तक भारतीय बाजार में जारी कर दिया जाएगा।

नये वाहन निश्चित रूप से भारतीय युवाओं और उपभोक्ताओं को पसंद आएंगे। कंपनी ग्रामीण क्षेत्रों में भी अपना डीलर नेटवर्क बढ़ाने की योजना भी बना रही है। इस योजना को प्रयोग के तौर पर गुड़गांव में लागू किया जा चुका है और यह सफल रही है। उन्होंने बताया कि दिवाली के अवसर पर कंपनी के दुपहिया वाहनों की बिक्री से यह साफ हो गया है कि भारतीय बाजार में होंडा के वाहनों के प्रति भरोसा है और कंपनी इसका पूरा लाभ उठाएगी।

देश में स्वच्छ ऊर्जा से चलने वाले वाहनों के लिए होंडा अगले साल अनुकूलता रिपोर्ट तैयार करेगी। भारत में अभी बिजली से चलने वाले वाहनों के लिए बुनियादी ढांचा विकसित करने की जरूरत है। मोटरसाइकिल और स्कूटर जैसे दुपहिया वाहनों की ग्रामीण क्षेत्रों में भारी मांग है तथा ज्यादातर लोग दुपहिया वाहनों का इस्तेमाल रोजमर्रा की जिंदगी में करते हैं। ऐसे में इनके लिए बुनियादी ढांचा विकसित करना जरूरी है।



		
Categories
Tech

तेजस विमान बनाने वालों ने दी केन्द्र सरकार को चुनौती, उठा लिया ये कदम

हथियार बनाने वाली सरकारी फैक्ट्रियों के कर्मचारियों की हड़ताल के बाद अब देश की वायुसेना की रीढ़ हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) के कर्मचारी सरकार को चुनौती देने के लिए हड़ताल पर चले गए हैं। एचएएल के कर्मचारी संगठन का कहना है कि उनके वेतन पुनरीक्षण मुद्दे पर प्रबंधन विचार ही नहीं करना चाहता। संगठन के अनुसार वेतन पुनरीक्षण के मुद्दे पर प्रबंधन के साथ वार्ता विफल रहने के बाद रक्षा क्षेत्र की बड़ी कंपनी हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) के कर्मचारी सोमवार को राष्ट्रव्यापी हड़ताल पर चले गये।
एचएएल स्टाफ इंप्लाइज यूनियन के सूत्रों के अनुसार एचएएल प्रबंधन उनकी उचित मांगों को मानने के लिए तैयार रही है। इस वजह से कर्मचारियों के पास अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने के सिवाय दूसरा कोई रास्ता नहीं है। यूनियन नेता ने कहा, “हमने अंतिम कदम उठाने के फैसले को टालने के लिए अपनी ओर से सर्वश्रेष्ठ कोशिश की है।”

 

बेंगलुरु स्थित एचएएल मुख्यालय के इंप्लायी यूनियन देशभर में स्थित एचएएल की सभी ठिकानों पर नोटिस भेज दिया है, जिसमें कर्मचारियों के 14 अक्टूबर से अनिश्चितकाली हड़ताल पर जाने की बात कही गयी है। इस नोटिस में समझौता के लिए कर्मचारियों के वेतन जनवरी 2017 से पुनरीक्षण प्रभावित होने की शर्त रखी गयी है।
यहां ये उल्लेखीनय है कि एचएएल वायुसेना के लिए विदेशों से खरीदे ​गए विमानों का लाइसेंस के तहत उत्पादन करने के साथ ही स्वदेशी विमान तेजस का उत्पादन करता है। इसके अलावा वह हैलीकॉप्टर समेत अन्य रक्षा उपकरणों का भी देश का एक मात्र बड़ा कारखाना है।

Categories
Tech

आज आ रहा है राजस्थान बोर्ड की इस बड़ी परीक्षा का परिणाम, पढ़ें पूरी खबर

जयपुर। राजस्थान बोर्ड आफ एजुकेशन की एक बड़ी परीक्षा का परिणाम आज घोषित होगा। बोर्ड के अनुसार रिजल्ट करीब 3 बजे आनलाइन किया जाएगा। इससे पहले बोर्ड ने 12वीं साइंस के परिणाम पिछले सप्ताह ही जारी किए थे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार राजस्थान बोर्ड आफ सैकण्डरी एजुकेशन 12वीं कला का परीक्षा परिणाम गुुुुरूवार करीब दोपहर 3 बजे जारी करेगा। परीक्षा परिणाम बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर रिलीज किए जाएंगे।

आपको बता दें कि मार्च—अप्रेल में आयोजित 12वीं की परीक्षा में करीब 6 लाख छात्र बैठै थे। इस रिजल्ट के अलावा 10वीं बोर्ड के परिणामों का भी इंतजार किया जा रहा है। सूचना है कि ये रिजल्ट जून में घोषित किए जाएंगे।

रिजल्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें:

http://rajresults.nic.in/

Categories
Tech

अब कौड़ियों के दाम मिल रहा है सैमसंग गैलेक्सी, कम्पनी ने दी भारी छूट

नई दिल्ली.गैलेक्सी एम स्मार्टफोन खरीदना सैमसंग के सबसे ज्यादा बिकने वाले स्मार्टफोन्स पर नए ऑफर की घोषणा के साथ ही अधिक फायदेमंद हो गया। पहली बार M20 इवेंट के दौरान कीमत से पहले कभी भी उपलब्ध होगा। अमेज़न समर सेल के दौरान गैलेक्सी M20 पर INR 1,000 का इंस्टेंट डिस्काउंट है, गैलेक्सी M20 (3/32 GB वेरिएंट) की प्रभावी कीमत को घटाकर INR 9,990 और गैलेक्सी M20 (4/64 GB वेरिएंट) को INR 11,990 कर दिया गया है।

इसके अतिरिक्त, गैलेक्सी एम सीरीज़ के स्मार्टफोन खरीदने वाले उपभोक्ता जिनमें गैलेक्सी एम 10 और एम 20 शामिल हैं, जो अमेज़ॅन समर सेल के दौरान एसबीआई डेबिट या क्रेडिट कार्ड के माध्यम से खरीदे जाने पर 10% के तत्काल कैशबैक के लिए पात्र हैं। नए ऑफर – कैशबैक और डिस्काउंट – अमेज़न समर सेल के दौरान वैध हैं जो अमेज़न प्राइम मेंबर्स के लिए 3 मई को दोपहर में लाइव होंगे। अन्य सभी ग्राहक अमेज़न समर सेल के दौरान 4 मई की आधी रात से 11:59 बजे तक और 7 मई को शुरू होने वाले इन आकर्षक ऑफर का लाभ उठा सकते हैं।

मिलेनियल्स के लिए डिज़ाइन किया गया, गैलेक्सी एम लाइन शक्तिशाली प्रदर्शन, शक्तिशाली बैटरी और शक्तिशाली प्रदर्शन के लिए शक्तिशाली कैमरा के साथ आता है। गैलेक्सी एम लाइन स्मार्टफोन Amazon.in के माध्यम से खरीदा जा सकता है। 3 मई 2019 से शुरू होने वाले गैलेक्सी एम 20 का 32 जीबी संस्करण INR 9,990 की कीमत से पहले कभी भी उपलब्ध नहीं होगा, जबकि 64 जीबी संस्करण की कीमत INR 11,990 है। गैलेक्सी M20 चारकोल ब्लैक और ओशन ब्लू रंगों में उपलब्ध है। गैलेक्सी M20 6.3-इंच FHD + इन्फिनिटी-वी डिस्प्ले के साथ आता है और यह सैमसंग के Exynos 7904 ऑक्टा-कोर प्रोसेसर द्वारा संचालित है जिसमें पीछे की तरफ 13MP + 5MP का डुअल कैमरा सेटअप, 5000 mAh की बैटरी, डुअल सिम सपोर्ट और फिंगरप्रिंट स्कैनर के साथ 15W फास्ट चार्जर ।

गैलेक्सी M10 की कीमत वर्तमान में INR 7,990 (16GB संस्करण) है, जबकि 32GB संस्करण की कीमत INR 8,990 है। गैलेक्सी M30 की कीमत INR 14,990 (4/64 GB संस्करण) और INR 17,990 (6/128 GB संस्करण) है। गैलेक्सी एम 30 सुपर AMOLED इन्फिनिटी यू डिस्प्ले, ट्रिपल रियर कैमरा और 5,000 एमएएच फास्ट चार्ज बैटरी के साथ आता है।

Categories
Tech

भगवान राम हुए आनलाइन, चक्रधारी मुरलीवाले की भगवद्गीता को भी मिला इंटरनेट पर ठिकाना

विश्व में धार्मिक पुस्तकों के विख्यात प्रकाशक गीता प्रेस गोरखपुर की प्रमुख पुस्तकें अब आन लाइन उपलब्ध रहेगीं। गीता प्रेस के उत्पादक प्रबंधक लालमणि तिवारी का कहना है कि गीता प्रेस के प्रमुख का डिजिटल बैकअप तैयार हो चुका और उन्हें अपलोड करने की तैयारी चल रही है।

अभी तक 98 किताबों का ई-वर्जन पीछीएफ फार्मेट में गीता प्रेस की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है जिन्हें कभी भी नि:शुल्क डाउनलोड किया जा सकता है। इसके अलावा सभी 1880 पुस्तकों और लगभग दो हजार से अधिक फोटो का डिजीटल बैकअप तैयार हो चुका है उन्हें भी अपलोड करने की तैयारी चल रही है।

जो पुस्तकें गीता प्रेस की वेबसाइट पर अपलोड की गयी पुस्तकों में हिन्दी-संस्कत की 35, इंग्लिश की नौ, गुजराती की आठ, तेलगू की दस, उडिया की छह, बंगला की छह, असमियां की दो, मलयालम, उर्दू, पंजाबी व नेपाली की एक-एक पुस्तक शामिल हैं।

इन्हें गीता प्रेस की वेबसाइट पर नि:शुल्क डाउनलोड किया जा सकता है। अमेजन किंडले पर हिंदी की 41, मराठी की पांच, तेलगू की नौ, उडिया की तीन तथा संस्कृत, संस्कृत, गुजराती, बंगला व तमिल की एक-एक पुस्तकों का ई-वर्जन अपलोड है जिनका शुल्क अदा कर डाउनलोड किया जा सकता है। उनका मूल्य प्रिंट की अपेक्षा 20 प्रतिशत कम है।

अपलोड होने वाली महत्वपूर्ण पुस्तकों में मदभगवतगीता, राम चरित मानस, सुंदरकांड, दुर्गा सप्तसती, योग दर्शन, व्रत परिचय, ईशादि के नौ उपनिषद, गीता की तत्वविवेचनी अीका तथा हनुमान चालीसा आदि हैं।

Categories
National Tech

Big News: 60 लाख लोगों के मोबाइल में सेव प्राइवेट फोटोज लीक, फेसबुक से हुई गलती

मोबाइल फोन पर फेसबुक चलाने वालों के लिए ये चौंकाने वाली खबर हो सकती है। जानकारी के अनुसार फेसबुक एप के जरिए करीब 60 लाख 80 हजार लोगों की प्राइवेट फोटोज लीक हो गई है। ये फोटोज अब तक करीब 1500 से ज्यादा थर्ड पार्टी एप तक पहुंच गई है। इस गंभीर चूक पर फेसबुक ने माफी भी मांग ली है।

आपको बता दें कि फेसबुक एप से आप मोबाइल से अपनी फोटोज को शेयर कर सकते हैं। इससे ये सीधे आपके अकाउंट पर दिखने लगती हैं। इसी फीचर के चलते 60 लाख से ज्यादा लोगों के ऐसे फोटोज लीक हो गए हैं जो अपलोड नहीं किए गए थे।

कौन से हैं ये फोटोज
फेसबुक स्टोरी, फेसबुक मार्केटप्लेस साफ्टवेयर पर ये फोटोज यूजर्स ने अपलोड किए। ये वो फोटोज हैं जो आपने केवल अपलोड की हों लेकिन शेयर नहीं की हों। इसे समझने के लिए एक उदाहरण लिया जा सकता है। मान लीजिए आप अपनी कोई फोटो फेसबुक पर शेयर करना चाहते हैं। आप फेसबुक ऐप पर ​गए और पोस्ट में फोटो को अपलोड करने लगे। बीच में ही आपको आपका बॉस बुला लेता है। आप तुरंत जाते हैं। इसके बाद आप मोबाइल पर कोई और काम करने लगते हैं और फोटो अपलोड होकर रह जाती है। आपने इसे शेयर नहीं किया है। ऐसे फोटोज लीक हो गए हैं।

लीक होने से क्या है नुकसान

फेसबुुक से लीक हुए इन फोटोज से किसी को क्या खतरा हो सकता है। खतरा ये हो सकता है कि आपकी फोटो का दुरुपयोग 1500 से भी ज्यादा एप कर सकते हैं। ये फोटोज उन तक पहुंच गए हैं। गंदी साइट्स, प्रलोभन देने वाले विज्ञापनों आदि में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। आपकी फेसबुक आईडी को हैक करने में इन फोटोज की मदद ली जा सकती है। हालांकि आपकी फोटो का इस्तेमाल तभी हो पाएगा जब हैकर्स के किसी मैसेज का गलती से जवाब दे दें या उनके कहे अनुसार फोन में बदलाव कर दें।

फेसबुक ने मांगी माफी
इस गलती पर फेसबुक की नजर तो पड़ी लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। जब मामला सामने आया तब तक लीक हुए फोटोज सैंकड़ों एप्स तक पहुंच गए। फेसबुक ने इसके लिए माफी मांगी है। फेसबुक उन हैकर्स से बात कर रहा है जिन्होंने इस काम को अंजाम दिया है। उनसे फोटोज वापस लेने या उनका दुरुपयोग नहीं करें, इसकी कोशिश की जा रही है। साथ ही जल्द ही फेसबुक ने इस गलती को सुधारने के लिए नया अपडेट लांच करने की बात कही है।

फेसबुक का दावा है कि ये फोटोज 13 सितंबर से 25 सितंबर 2018 के बीच लीक हुई हैं। कंपनी के लिखे नए ब्लॉग में बताया गया है कि फेसबुक बिना शेयर हुए अपलोड फोटोज को केवल 3 दिन के लिए अपने डाटा में रखता है।

Categories
Tech

गंदी वेबसाइटें हो गई बंद तो लोगों ने निकाल लिया ये रास्ता, अचानक बढ़ गया…

देशभर में पोर्न वेबसाइट्स को बैन कर दिया गया है। विशेष तौर पर बाल यौन अपराधों को देखते हुए ये कदम उठाया गया है। सबसे पहले जियो नेटवर्क पर ये बैन लागू हुआ। इसके बाद अन्य कंपनियों ने भी इन साइट्स पर पाबंदी लगा दी है। लेकिन इस कदम से कुछ साइट्स के मजे हो गए हैं। पोर्न बैन का सबसे ज्यादा फायदा उन्हें ही हो रहा है। आइए जानते हैं किसे हो रहा है फायदा:

देश में किसी भी तरीके से पोर्न नहीं देख पाने के चलते यूजर दूसरी साइट्स पर अपनी तलाश पूरी करने में लगे हैं। ऐसे में उन वीडियो साइट्स और सोशल अकाउंट्स को फायदा मिलने लगा है जो उत्तेजक वीडियो दिखाती हैं। यूट्यूब पर हजारों वीडियो मौजूद हैं जिनमें भाभी, देवर, कामवाली, पड़ोसन, टीचर इत्यादि टाइटल होते हैं। हालांकि इन्हें पोर्न नहीं कहा जा सकता है। लेकिन शायद इन्हें देखने के बाद व्यक्ति पोर्न ही देखना चाहेगा।

इन यूट्यूब चैनलों पर अब लाखों की संख्या में लोग विजिट कर रहे हैं। जिन वीडियोज के व्यूज पहले हजारो में थे उनके लाखों हो गए और जिनके लाखों में थे उनके करोड़ों हो गए।

इस तरह के कई मोबाइल एप्स भी मौजूद हैं जिनमें इस तरह के कामुक वीडियो यूजर ही डालते हैं और बाकी लोग देखते हैं। इंस्टाग्राम पर आज भी आपको लाखों की संख्या में ऐेसे वीडियोज मिल जाएंगे जिनमें कामुकता भरी पड़ी है। इनमें बॉलीवुड स्टार पूनम पांडे भी शामिल है। पूनम अपने फैंस को ललचा कर अपने एप पर आने को कहती हैं। इनकी इंस्टाग्राम पोस्ट भी ऐसे ही वीडियोज से भरी पड़ी है।

यहां ध्यान देने वाली बात ये है कि सोशल साइट्स पर आज भी पोर्न वीडियोज शेयर किए जा रहे हैं। हालांकि ना तो कोई इस बारे में शिकायत कर रहा है और ना ही कोई मुंह खोल रहा है। बस लोग एक—दूसरे को ऐसे वीडियोज शेयर जरूर कर रहे हैं।

Categories
Tech

शाओमी मोबाइल कंपनी ने लॉन्च किया ये नया स्मार्टफोन

नयी दिल्ली। स्मार्टफोन और घरेलू स्मार्ट उपकरण बनाने वाली प्रमुख कंपनी शाओमी ने गुरूवार को भारतीय बाजार में डुअल फ्रंट और डुअल रियर कैमरा वाला नया स्मार्टफोन रेडमी नोट 6 प्रो लाँच करने की घोषणा की जिसकी कीमत 13999 रुपये और 15999 रुपये है।

[divider style=”solid” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

———————————

<p style=”text-align: justify;”>

Categories
Tech

अब लें गेम खेलने का जबरदस्त मजा, इस कंपनी ने उतारा 1,24,990 का गेमिंग लैपटॉप

नयी दिल्ली। कंप्यूटर एवं लैपटॉप बनाने वाली प्रमुख कंपनी आसुस ने गुरूवार को भारतीय बाजार में टफ गेमिंग लैपटॉप एफएक्स505, एफएक्स705 के साथ ही डेस्कटॉप भी लाँच करने की घोषणा की।कंपनी ने यहां कहा कि 15.6इंच और 17.3इंच स्क्रीन साइज वाले ये हाई-एंड गेमिंग लैपटॉप हैं।

इसमें 8वीं पीढ़ी का इंटेल कोर आई7-8750एचसीपीयू, एनवीआईडीआईए जीईफोर्स जीटीएक्स 1060 जीपीयू है। गेमिंग की सभी जरूरतों के साथ144 हर्ट्ज आईपीएस स्तर नैनोएज डिस्प्ले, वायर्ड लैन, गीगाबाइट-क्लास वाई-फाई, डीटीएस, हेडफोन, फ्लेक्जिबल रैम और स्टोरेज बढ़ाने की सुविधा के साथ है।

 

कंपनी ने का कि एमआईएल-एसटीडी-810जी मिलिट्री स्टैंडर्ड ग्रेड के ये गेमिंग लैपटॉप एंटी-डस्ट कूलिंग (एडीसी) सिस्टम के साथ डुअल-फैन प्लेसमेंट से लैस है। एफएक्स505 की शुरुआती कीमत 79,990 रुपए और एफएक्स 705 की शुरुआती कीमत 1,24,990 रुपए है। टफ डेस्कटॉप एफएक्स10सीपी की कीमत 91,990 रुपए है।

[divider style=”solid” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

———————————

<p style=”text-align: justify;”>

Categories
Tech

दूध में पानी की मिलावट है या कुछ और, झट से बता देगा ये भारतीय स्मार्टफोन, सजा उम्रकैद

नयी दिल्ली। अब मोबाइल फोन की मदद से दूध में मिलावट का पता लगाया जा सकेगा। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), हैदराबाद एक ऐसा मोबाइल फोन तैयार कर रहा है जिससे दूध में मिलावट का पता लगाया जा सकता है। संस्थान के शोधकर्ताओं ने एक ऐसे स्मार्ट फोन का नमूना तैयार किया है जिसके जरिए दूध में सोडा, बोरिक अम्ल, यूरिया, पानी और शर्करा का पता लगाया जा सकता है।

आईआईटी के इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर शिव गोविन्द सिंह के नेतृत्व में शोध टीम ने यह स्मार्ट फोन प्रयोग के तौर पर बनाया है। इस महीने फ़ूड एंड एनालिटिकल मेथेड जर्नल में इस आशय का उनका एक लेख भी प्रकाशित हुआ है।

सिंह ने बताया कि दूध में एक डिटेक्टर डालने के बाद उसके रंग में परिवर्तन होगा और मोबाइल फोन से फोटो खींच कर उसे अपलोड कर लिया जायेगा और फिर मोबाइल फोन उसका अध्यन कर यह बता देगा कि दूध में कौन सी चीज़ मिलाई हुई है। यह डिटेक्टर सेंसर चिप पर आधारित होगा।

पशु कल्याण बोर्ड के अनुसार 68 प्रतिशत दुग्ध में मिलावट होती है और इस मोबाइल फोन से दूध में 99.7 प्रतिशत से अधिक शुद्धता का पता लगाया जा सकता है। यहां हम बताना चाहेंगे कि एक जनहित चाचिका की सुनवाई पर आदेश देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा था सरकार ऐसे कानून को आईपीसी में शामिल करे। हालांकि देश के कुछ ही राज्यों ने इस पर सह​म​ति बनाई थी।