Categories
National

M. Venkaiah Naidu ने दी ईद की बधाई

नयी दिल्ली । उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने ईद-उल-फितर की पूर्व संध्या पर देशवासियों को बधाई दी।नायडू ने रविवार को ईद को परिवारों और समुदायों को साथ लाने का अवसर बताया। साथ ही उपराष्ट्रपति ने सभी लोगों से पर्व के दौरान कोविड-19 से बचाव के सुरक्षा मानकों का पालन करने और सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील की।

उपराष्ट्रपति ने एक संदेश में कहा , “मैं ईद-उल-फितर के शुभ अवसर देशवासियों को शुभकामनाएं और बधाई देता हूं।”उन्होंने कहा कि ईद उल फितर पर रमज़ान के मुबारक माह की समाप्ति का उत्सव मनाया जाता है और इस्लामी कैलेंडर के दसवें माह शव्वाल की शुरुआत होती है।ये पर्व हमारे समाज में दान, दया, करुणा और त्याग का उत्सव है। इस मौके पर परिवार और समुदाय सभी साथ आ जाते हैं।

इस साल जब भारत और सारी दुनिया कोविड-19 महामारी से जूझ रही है, हम अपने लगभग सारे पारंपरिक पर्व घर में सीमित रह कर ही मना रहे हैं।
उन्होंने कहा, ” इस वर्ष हमें अपनी खुशियों और उल्लास को सीमित ही रखना होगा और दो गज दूरी तथा सफाई जैसी सावधानियां बरतनी होंगी। फिर भी उम्मीद करता हूं कि इस पावन पर्व को हम पारंपरिक हर्ष, उल्लास, इबादत – दुआओं और भाईचारे की भावना के साथ मनाएंगे। आशा करता हूं कि ईद उल फित्र हमारे जीवन में रहमत, बरकत, स्वास्थ्य और खुशहाली लाये।”

Categories
National

अपराह्न एक बजे होगा अनंत कुमार का अंतिम संस्कार

बेंगलुरु । भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार का अंतिम संस्कार यहां के चामराजापेट श्मशान घाट पर आज अपराह्न एक बजे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा।

Ananth Kumar

कुमार के पार्थिव शरीर को पार्टी कार्यकर्ताओं के अंतिम दर्शन के लिए बसावगुडी स्थित उनके निवास से राज्य के पार्टी कार्यालय लाया जाएगा। इसके बाद उनके पार्थिक शरीर को नेशनल कॉलेज ग्राउंड ले जाया जाएगा। यहां आम जनता कुमार को श्रद्धांजलि अर्पित करेगी।

कुमार के अंतिम संस्कार में उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन तथा केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह समेत विभिन्न दलों के नेताओं के शामिल होने की संभावना है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार रात अपने सहयोगी को पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी और उनके परिजनों को ढांढस बंधाया।

Categories
National

भारत के शाश्वत, सामंजस्यपूर्ण दृष्टिकोण को विश्व तक पहुंचाएं: नायडू

उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने अमेरिका में भारतीय समुदाय से कहा है कि वे भारत के शाश्वत और सामंजस्यपूर्ण दृष्टिकोण को विश्व के हर हिस्से तक पहुंचाएं और विश्व के कोने-कोने से अच्छे विचारों और पद्धतियों को देश में लाएं।

M. Venkaiah Naidu
M. Venkaiah Naidu

 

नायडू ने सोमवार को अमेरिका के शिकागो में ऐतिहासिक कला संस्थान में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा,“ विदेशों में रह रहे भारतीय मूल के लोग देश के सांस्कृतिक और आध्यात्मिक दूत बन चुके हैं और अमेरिका तथा भारत की दोस्ती व्यक्तिगत आजादी, स्वतंत्रता, लोकतंत्र, बहुवाद, कानून का शासन अौर न्याय पर आधारित है। भारतीय समुदाय के यहां रह रहे लोग विश्व के अन्य देशों के मुकाबले अधिक मजबूत और जोशपूर्ण है तथा चिकित्सा, इंजीनियरिंग, व्यापार, अकादमिक क्षेत्र में अाप लोगों की उत्कृष्टता हमारे लिए गर्व का विषय है।”

उन्होंने कहा कि भारत के साथ निंरतर संबंध, विशेषज्ञता, सलाह और बेहतर पद्धतियों को साझा करने से युवाअों को ढालने में मददगार साबित होगा और उन्हें कौशलयुक्त बनाने से समग्र विकास तथा वृद्धि होगी। नायडू ने भारतीय समुदाय को इस विकास की गाथा का हिस्सा बनने का आग्रह करते हुए कहा कि भारत इस समय अभूतपूर्व पैमाने पर बदलाव की प्रकिया में हैं।

इसमें समावेशी विकास तथा बेहतर सुशासन आवश्यक तत्व हैं जो देश और अर्थव्यवस्था में एक नयी ऊर्जा का संचार कर रहे हैं। गौरतलब है कि इसी संस्थान में स्वामी विवेकानंद ने 1893 में विश्व धर्म सभा को संबाेधित करते हुए भारत का प्रतिनिधित्व किया था और अपने भाषण से विदेशियों का दिल जीत लिया था।

[divider style=”dashed” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

Categories
National

कारगिल में लड़ने वाले लांस नायक सत्यवीर को उचित मदद दी गयी: निर्मला सीतारमण

नयी दिल्ली। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज राज्यसभा को बताया कि सरकार ने कारगिल युद्ध में घायल हुए सेना के लांस नायक सत्यवीर सिंह को हर उचित मदद दी है और उन्हें नियमों के तहत सभी भुगतान कर दिया गया है।

 Nirmalasitraman

 

रक्षा मंत्री ने जनता दल यू के रामनाथ ठाकुर द्वारा शून्यकाल में लांस नायक सिंह की बदहाली का मामला उठाये जाने पर कहा कि सरकार शहीद की स्थिति के बारे में बतायी गयी बातों को समझती है लेकिन कारगिल की लड़ाई में घायल हुए इस जवान की उचित मदद की गयी है और रक्षा मंत्रालय ने उन्हें उचित सहायता राशि का भुगतान किया है। उन्हाेंने कहा कि जवान के बारे में मीडिया में आयी रिपोर्ट पर वह कुछ नहीं कह सकती।सभापति एम वेंकैया नायडू ने रक्षा मंत्री से कहा कि सरकार ने अपना काम किया है लेकिन यदि कुछ और मदद की जा सकती है तो उस पर विचार करे।

 

इससे पहले ठाकुर ने यह मामला उठाते हुए कहा था कि लांस नायक सत्यवीर सिंह दिल्ली के मुखमेल पुर गांव में जूस की दुकान चलाकर गुजारा कर रहा है। उनके पैर में जो गोली लगी थी वह अभी भी फंसी हुई है और वह बैसाखी के सहारे चलते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार को कारगिल में लड़ने वाले जवानों की मदद के लिए किये गये अपने वादों को पूरा करना चाहिए और इस जवान के परिवार की गुजर बसर के लिए मदद करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कारगिल की लड़ाई लडने वाले जवानों के परिवारों को पेट्रोल पंप दिये गये थे लेकिन सत्यवीर को यह सहायता नहीं दी गयी।

[divider style=”dashed” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

Categories
National

तेदेपा के शोर शराबे से राज्यसभा में शून्यकाल बाधित

नयी दिल्लीआंध्रप्रदेश के मुद्दे पर शून्यकाल में तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के सांसदों के शोरशराबे के कारण सभापति एम् वेंकैया नायडू नेसदन की कार्यवाही बारह बजे तक स्थगित कर दी।

Rajya Sabha
Rajya Sabha

सदन की कार्यवाही शुरू होने पर शून्यकाल में जब नायडू ने कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा को अपना सवाल उठाने को कहा तो तेलगुदेशम के सी एम् रमेश अपनी सीट से उठकर आंध्रप्रदेश के मुद्दे पर कुछ बोलने लगे जो शोर शराबे में साफ़ सुनायी नही पड़ा। इस पर नायडू ने कहा कि आपकी नोटिस पर कल सदन में अल्पकालिक चर्चा होगी इसलिए आज इस मुद्दे को न उठायें। इस के बाद तेलगु देशमे के तीन सदस्य सभापति के आसन के पास चले गये।

इस बीच नायडू नेशर्मा को अपनी बात कहने की अनुमति दी। शर्मा ने जांच एजेंसियों के राजनीतिक इस्तेमाल और दुरुपयोग का मुद्दा उठाया। उन्होंने जब अपनी बात ख़त्म की तो रमेश फिर अपनी सीट से उठकर अपना मुद्दा उठाने लगे। नायडू ने उन्हें ऐसा करने से मना किया लेकिन रमेश नही माने और वे सभापति से उलझने लगे और अपनी बात पर अड़ गये।

नायडू का कहना था कि आपकी पार्टी के नेता के अनुरोध पर ही अल्पकालिक चर्चा कल निर्धारित की गयी है जबकि वह पहले आज ही होनी थी, इसलिए इस मुद्दे पर आज कुछ भी कहने की अनुमति नही दी जा सकती।रमेश के अड़ियल रवैये को देखते हुए नायडू ने सदन की कार्यवाही बारह बजे तक स्थगित कर दी।

[divider style=”solid” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

Categories
National

एम वेंकैया नायडू अपनी मातृभाषा के लिए क्या क्या कर रहे हैं जानिए इस खबर में

नयी दिल्ली, उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने मातृभाषा की उपेक्षा किये जाने पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए सभी राज्यों से स्कूलों में अपनी भाषा को अनिवार्य विषय के रूप में पढ़ाने सलाह दी है।

M. Venkaiah Naidu
M. Venkaiah Naidu

 

नायडू ने आज यहां आर के पुरम में आंध्र प्रदेश एजुकेशन सोसाइटी के स्थापना दिवस समारोह पर नए भवन का शिलान्यास करते हुए यह सलाह दी। इस मौके पर दक्षिण दिल्ली के महापौर नरेंद्र चावला भी मौजूद थे।

यह भी देखिये-वर्दी का रौब दिखाकर करते थे ऐसा काम पुलिस वाले भी हैरान

उप राष्ट्रपति ने कहा कि हर भाषा में संस्कृति ,मूल्य ,नैतिकता और परम्परा छिपी होती हैं। कोई चाहे तो कितनी भी भाषा सीख सकता है पर मातृभाषा की उपेक्षा नही होनी चाहिए। अन्य भारतीय भाषाओं को सीखने से देश की एकता एवं अखंडता मज़बूत होती है। लेकिन सभी राज्यों को चाहिए कि वे अपनी भाषा की पढ़ाई को स्कूलों में अनिवार्य करें।

इस अवसर पर उन्होंने दुर्गा भाई देशमुख को याद करते हुए कहा कि वह न केवल स्वतंत्रता सेनानी बल्कि समाज सेविका शिक्षा शास्त्री और अधिवक्ता भी थी तथा उन्होंने समाज के विकास के लिए काफी कुछ किया। वह सबके लिए प्रेरणा स्रोत थीं और उनकी जन्मशती को आंध्र प्रदेश एजुकेशन सोसाइटी के स्थापना दिवस के रूप में मनाना उपयुक्त होगा ।

यह भी देखिये- फीफा विश्व कप में फ्रांस की रोमांचक जीत और दुनिया भर मिल रही बधाई

उन्होंने कहा कि दुर्गाभाई देशमुख संविधान सभा की अध्यक्ष तथा योजना आयोग की सदस्य थी और उन्होंने कई स्कूल कालेज ,अस्पताल, नर्सिंग होम्स खोलने में महत्चपूर्ण भूमिका निभायी थी। उन्होंने दिल्ली नेत्रहीन संघ में भी बड़ा योगदान दिया।

यह भी देखिये- महापुरुषो में गिनती होती है संत कबीरदास की : कोविंद

[divider style=”dashed” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी से सीधे प्रकाशित की गई है।)
मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:
mobilepenews@gmail.com
हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:
फेसबुक मोबाइलपेन्यूज
ट्विटर मोबाइलपेन्यूज
Categories
National

हर शहर में बने साइकिल के लिए अलग लेन

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडु ने स्वस्थ रहने के लिए साइकिल चलाने को सबसे बेहतर व्यायाम बताते हुए आज कहा कि देश के हर शहर में साइकिल सवारी के लिए सड़क पर अलग से अनिवार्य रूप से ट्रैक बनाया जाना चाहिए।

M. Venkaiah Naidu

 

नायडु ने पहले विश्व साइकिल दिवस पर यहां साइकिल रैली और स्मार्ट साइकिल स्टैंड की शुरुआत करने के बाद साइकिल सवारों तथा पर्यावरणविदों को संबोधित करते हुए कहा कि स्वच्छ पर्यावरण के लिए सभी को साइकिल का इस्तेमाल करना चाहिए।

साइकिल की सवारी विश्व साइकिल दिवस पर सिर्फ खानापूर्ति के लिए ही नहीं हो, बल्कि इसका उपयोग बढाने के वास्ते सभी स्तर पर प्रयास होने चाहिए। पर्यावरण के बढते खतरे का जिक्र करते हुए उपराष्ट्रपति ने कहा कि दुनिया के कई शहर वाहनों से उत्सर्जित प्रदूषण के कारण चिमनी में बदल चुके हैं। साइकिल को बढ़ावा देने का समय आ गया है और इसके लिए सभी प्रमुख शहरों में साइकिल के वास्ते अलग से ट्रैक तैयार किया जना चाहिए।

उन्होंने कहा कि साइकिल की सवारी न सिर्फ पर्यावरण के लिए उपयुक्त है, बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है। उन्होंने नयी दिल्ली नगर निगम द्वारा स्मार्ट साइकिल स्टैंड स्थापित किये जाने की सरहाना भी की और कहा कि इस तरह के प्रयास देश के सभी हिस्सों में किये जाने चाहिए।

[divider style=”dashed” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

Categories
National

उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने की तारीफ मिजाेरम के शांत माहौल की

उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने मिजाेरम के शांत माहौल की तारीफ करते हुए कहा कि इसने ही राज्य के विकास में वृहत भूमिका निभाई है। नायडू ने तानहरिल में मिजोरम विश्वविद्यालय के अकादमिक एवं संगाेष्ठी परिसर का उद्घाटन करने और यूजीसी एवं एनईसी वित्त पोषित महिला तथा पुरूष छात्रावास की अाधारशिला के मौके पर कहा कि शिक्षा का उद्देश्‍य मनुष्‍य का समग्र विकास होना चाहिए और उसके मस्‍तिष्‍क और हृदय में अच्‍छे गुणों का वास होना चाहिए।

M. Venkaiah Naidu
M. Venkaiah Naidu

 

इस अवसर पर मिजोरम के राज्‍यपाल ले. जनरल (रिटायर) निर्भय शर्मा तथा राज्‍य के मुख्‍यमंत्री लाल थनहवला और अन्‍य गणमान्‍य नागरिक उपस्‍थित थे। उप राष्‍ट्रपति ने कहा कि बेहतर आधारभूत ढांचा गुणवत्‍तापूर्ण शिक्षा के लिए बेहतर स्‍थितियों का निर्माण करता है।उन्‍होंने कहा कि मजबूत ढांचे का निर्माण करना किसी भी शैक्षणिक संस्‍थान के लिए सबसे महत्‍वपूर्ण है। इससे शैक्षणिक संस्‍थान की गुणवत्‍ता में सुधार होता है।  नायडू ने कहा कि इस विश्‍वविद्यालय के परिसर में मौजूद बेहतर ढांचे और अच्‍छे वातावरण से छात्रों को अपनी अकादमिक महत्‍वाकांक्षाओं और सपनों को साकार करने में मदद मिलेगी।उप राष्‍ट्रपति ने कहा कि आज के छात्रों को इस तरह तैयार किया जाना चाहिए

कि वे भविष्‍य की चुनौतियों से निपट सकें। शिक्षा का उद्देश्‍य सिर्फ नवीन ज्ञान प्रदान करना नहीं है, बल्‍कि छात्रों को ऐसे कौशल से पारंगत करना है, जिससे कि वे अपने चुने हुए क्षेत्र में सफलता प्राप्‍त कर सकें। उप राष्‍ट्रपति नें छात्रों को सलाह देते हुए कहा कि वे स्‍वयं को नौकरी ढूंढने वाला नहीं बल्‍कि उद्यमी बनकर नौकरी प्रदाता बनाएं।उन्‍होंने कहा कि छात्रों के समक्ष कैरियर की कई विकल्‍प हैं, लेकिन उन्‍हें उसी क्षेत्र में काम करना चाहिए, जिसके प्रति उनका लगाव हो।उन्‍होंने कहा शिक्षा हमारे सशक्‍तिकरण, ज्ञानोदय, सक्षम बनाने के लिए है।

[divider style=”dotted” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

 

Categories
National

पर्यावरण और संसाधन दोहन के बीच सामंजस्य बनाया जाए: एम. वेंकैया नायडु

नयी दिल्ली उप राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडु ने भारतीय शहरों के सतत विकास पर बल देते हुए आज कहा कि इसके लिए पर्यावरण और संसाधनों के दोहन के बीच सामंजस्य बनाया जाना चाहिए।नायडु ने आज यहां ‘ नौरोजी नगर विश्व व्यापार केंद्र और नेताजी नगर जीपीआरए कॉलोनी के पुनर्विकास’ के शिलान्यास समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि देश का ग्रामीण क्षेत्रों का तेजी से शहरीकरण हो रहा है।

M. Venkaiah Naidu
M. Venkaiah Naidu

देश की आबादी का बड़ा हिस्सा शहरों में रह रहा है और आगे भी लोग शहरों में बसना चाहेंगे।उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटीज अभियान के बाद से शहरीकरण में तेजी आयी है लेकिन इसके साथ ही शहरों को आर्थिक गतिविधियों का केंद्र बनाया जाना चाहिए।

शहर प्रशासन को नागरिकों का जीवन स्तर सुधारने पर जोर देते हुए स्वच्छता और सतत विकास पर ध्यान देना चाहिए।नायडु ने कहा कि पर्यावरण और संसाधन का संरक्षण करते हुए शहरों का सतत विकास सुनिश्चित किया जाना चाहिए।उन्होंने कहा कि भवनों का निर्माण पर्यावरण की अनुकूलता को ध्यान रखकर किया जाना चाहिए।शहरों में ऊर्जा किफायत की तकनीक को अपनाया जाना चाहिए और संसाधनों को उचित इस्तेमाल किया जाना चाहिए।इस समारोह में केंद्रीय हरदीप सिंह पुरी और लोकसभा सांसद मीनाक्षी लेखी भी मौजूद थी।

[divider style=”dashed” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी से सीधे प्रकाशित की गई है।)
मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:
mobilepenews@gmail.com
हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:
फेसबुक मोबाइलपेन्यूज
ट्विटर मोबाइलपेन्यूज