Categories
National

आँध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल के अलावा सभी राज्य कल से घरेलू उड़ान के लिए तैयार

नयी दिल्ली । आँध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल के अलावा सभी राज्य सोमवार से घरेलू उड़ानें दुबारा शुरू करने पर सहमत हो गये हैं। मुंबई, चेन्नई, पश्चिम बंगाल और आँध्र प्रदेश में उड़ानों की संख्या एक-तिहाई से भी कम होगी।नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने आज बताया कि घरेलू उड़ानें दुबारा शुरू करने को लेकर विभिन्न राज्यों की सरकारों के साथ दिन भर उनकी वार्ता के बाद सभी राज्य इस पर सहमत हो गये हैं। आँध्र प्रदेश ने हालाँकि 26 मई से और पश्चिम बंगाल ने 28 मई से उड़ान शुरू करने की सहमति दी है। अन्य राज्यों में कल से उड़ान शुरू होगी।

केंद्र सरकार ने पूर्व में मंजूरी ग्रीष्मकालीन समय-सारणी की तुलना में अभी एक-तिहाई उड़ानों की अनुमति दी थी, लेकिन आँध्र प्रदेश सरकार ने कहा है कि वह 26 तारीख से सीमित उड़ानों की अनुमति देगी। इसी प्रकार पश्चिम बंगाल सरकार ने भी 28 मई से सीमित उड़ानों की सहमति दी है।
तमिलनाडु ने चेन्नई हवाई अड्डे पर रोजाना मात्र 25 उड़ानों को उतरने की सहमति दी है जबकि राज्य ने अन्य हवाई अड्डों के मामले में वह केंद्र सरकार के एक-तिहाई उड़ानों के प्रस्ताव को मान लिया है। इसी प्रकार महाराष्ट्र सरकार ने भी कहा है कि वह मुंबई हवाई अड्डे पर सीमित उड़ानों की अनुमति देगी जबकि राज्य के अन्य हवाई अड्डों पर केंद्र के एक-तिहाई उड़ानों को प्रस्ताव को वह स्वीकार करेगी।

Categories
National

मेट्रो में महिलाओं की मुफ्त यात्रा को लेकर आई ये बात सामने

नयी दिल्ली । केंद्र सरकार ने स्पष्ट किया है कि मेट्रो रेल सेवा में महिलाओं की मुफ्त यात्रा के संबंध में दिल्ली सरकार ने कोई प्रस्ताव उसके पास नहीं भेजा है।

आवास और शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने गुरुवार को लोकसभा में यह जानकारी दी । तृणमूल कांग्रेस के सौगत राय ने दिल्ली मेट्रो में महिलाओं की मुफ्त यात्रा के संबंध में जानकारी चाही थी ।

पुरी ने लिखित उत्तर में बताया कि केंद्र सरकार का दिल्ली मेट्रो रेल सेवा में महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा का कोई प्रस्ताव नहीं है। उन्होंने बताया कि मेट्रो रेल में महिलाओं के लिए की स्वीकृति के लिए दिल्ली सरकार से कोई प्रस्ताव नहीं मिला है और इसलिए उसे मंजूरी देने का कोई सवाल ही नहीं

Categories
National

सुगम आवागमन आधुनिक जीवन की महत्वपूर्ण जरुरत: हरदीप सिंह पुरी

नयी दिल्ली । केंद्रीय आवास एवं शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने शहरों में सुगम आवागमन काे आधुनिक जीवन शैली की अहम जरुरत बताते हुए आज कहा कि यातायात के साधनों को तेज रफ्तार देने के साथ – साथ उन्हें पर्यावरण के अनुकूल बनाना होगा।

 Hardeep Singh Puri

पुरी ने शनिवार को यहां नीति आयोग के कार्यक्रम ‘मूव समिट इंडिया’ के एक सत्र ‘ मोबिलिटी इन सिटीज:प्रैक्टिशर्स पर्सपेक्टिव’ की अध्यक्षता करते हुए कहा कि भारत में शहरीकरण तेजी से बढ़ रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों से लोग शहरों की ओर पलायन कर रहे हैं। इससे शहरों का आकार बढ़ रहा है और रोजगार के लिय लोग एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाते हैं। इसके लिए शहरों में आवागमन के साधनों को रफ्तार देने की जरुरत है। यह आधुनिक जीवन शैली की आवश्यकता है। विशेषज्ञों और उद्योगों को इस आेर ध्यान देना चाहिए।

विभिन्न शहरों में मेट्रो रेल परियोजनाओं का जिक्र करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इससे लोगों का दैनिक जीवन सुगम हुआ है और आवागमन में तेजी आयी है। उन्होंने कहा कि इससे पर्यावरण संरक्षण में भी मदद मिली है। उन्होंने कहा कि भारत ने वर्ष 2015 में यह घोषणा की थी कि वह 2030 तक कार्बन उत्सर्जन में 2005 की तुलना में 30 से 35 प्रतिशत की कमी करेगा। इस लक्ष्य को हासिल करने में शहरी यातायात के साधन महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगे।