Categories
National

महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की संख्या 50000 के पार

मुंबई । महाराष्ट्र में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) ने रविवार को सबसे अधिक कहर बरपाया और रिकॉर्ड तीन हजार से अधिक नये मामलों से कुल संक्रमितों की संख्या 50 हजार को पार कर गई जबकि 58 मरीजों की और मृत्यु से कोरोना वायरस 1635 लोगों की जान ले चुका है।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से आज जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में संक्रमण के रिकॉर्ड 3041 मामले आए और कुल संक्रमितों की संख्या 50 हजार 231 पर पहुंच गई।इस दौरान 58 मरीजों की मृत्यु संक्रमण से 1635 की यह वायरस जान ले चुका है।महाराष्ट्र में इस अवधि में 1196 लोग स्वस्थ भी हुए और 14600 मरीज ठीक हो चुके हैं। राज्य में 33 हजार 988 संक्रमण मामले सक्रिय हैं।

Categories
National

देश में कोरोना के मामले तीसरे दिन भी छह हजार से अधिक

नयी दिल्ली । देश में लगातार तीसरे दिन भी वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के छह हजार से अधिक मामले सामने आने से कुल संक्रमितों की संख्या 1,31,868 पर पहुंच गयी है हालांकि राहत की बात यह है कि देश में 54 हजार से अधिक लोगों ने इस संक्रमण से निजात भी पायी।

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवंकी ओर से रविवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के अब तक के सर्वाधिक 6767 नये मामले सामने आये जिससे कुल संक्रमितों की संख्या 1,31,868 पर पहुंच गयी। देश में कुल सक्रिय मामले 73560 हैं। इससे एक दिन पहले 6654 नये मामले सामने आये थे।

देश में कोविड-19 संक्रमण से पिछले 24 घंटों में 147 लोगों की मौत होने से मृतकों की संख्या 3,867 हो गयी। शनिवार की तुलना में रविवार को मृतकों की संख्या 10 बढ़ गयी है। शनिवार के आंकड़ों के मुताबिक एक दिन में कोविड-19 से 137 लोगों की मौत हुई थी। संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच पिछले 24 घंटों में इस महामारी से 2657 लोग मुक्त हुए हैं जिससे स्वस्थ हुए लोगों की कुल संख्या 54,441 हो गयी है।देश में कोरोना से सबसे अधिक महाराष्ट्र प्रभावित हुआ है और कुल संक्रमण के मामलों में एक तिहाई से अधिक हिस्सा यहीं का है। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में 2608 नये मामले सामने आये हैं , जिसके बाद यहां कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 47190 हो गयी है तथा कुल 1577 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 13404 लोग इसके संक्रमण से ठीक भी हुए हैं।

Categories
National

शेयरधारकों की सुविधा आकर्षक बनाने हेतु रिलायंस right issue की राशि लेगी 3 EMI में

मुंबई । देश के सबसे अमीर मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के राईट इश्यू के आवेदकों को शेष राशि को दो किस्तों में भुगतान अगले वर्ष करना होगा।

रिलायंस सूत्रों ने कहा है कि वैश्विक महामारी के दौर में नगदी की किल्लत को ध्यान में रखकर राईट इश्यू को शेयरधारकों के लिए आकर्षक बनाने और आसानी से निवेश कर पाने को लेकर पूरी राशि डेढ वर्ष में तीन किस्तों में लेने का फैसला किया गया। यह पहला मौका है जब किसी कंपनी ने राईट इश्यू की राशि किस्तों में और इतनी लंबी अवधि में भुगतान करने की सुविधा दी है।कंपनी का 53036.13 करोड का राईट इश्यू 20 मई को खुलेगा और तीन जून को बंद होगा। आवेदक को 1257 रुपये पर दिये जाने वाले राईट इश्यू की 25 प्रतिशत राशि 314.25 रुपये का भुगतान आवेदन के समय करना है। इसमें 2.50 रुपये शेयर के फेसमूल्य और 311.75 रुपये प्रीमियम के होंगे।

रिलायंस के निदेशक मंडल की राईट इश्यू पर गठित समिति ने 17 मई को बैठक में शेष 75 प्रतिशत राशि अगले वर्ष दो किस्तों में लेने का फैसला किया।शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कंपनी ने बताया कि शेष राशि में से राईट इश्यू का 25 प्रतिशत भुगतान 314.25 रुपये मई 2021और बाकी 50 प्रतिशत 628.50 रुपये नवम्बर 2021में देने होंगे।आरआईएल ने 30 अप्रैल को तिमाही परिणाम घोषित करते हुए राईट इश्यू का ऐलान किया था।कंपनी राईट इश्यू से प्राप्त राशि में से 39755.08 करोड रुपये का इस्तेमाल रिण भुगतान में करेगी। कंपनी पर डेढ लाख करोड रुपये का कर्ज है।

आरआईएल की पूर्ण स्वामित्व वाले जियो प्लेटफामर्स ने पिछले चार सप्ताह के दौरान निवेशकों से 67194.75 करोड की राशि जुटाई है जिसमें सोशल मीडिया की अग्रणी फेसबुक भी शामिल है।इससे पहले आरआईएल के राईट इश्यू समिति की 15 मई को हुई बैठक में इसे हरी झंडी दी गई। यह देश का सबसे बडी रकम का राईट इश्यू है।कंपनी का तीन दशकों में यह पहला राईट इश्यू है। आरआईएल के 15 शेयरों पर एक शेयर राईट इश्यू के तहत दिया जायेगा। राईट इश्यू की रिकार्ड तिथि 14 मई रखी गई है। इसका तात्पर्य यह है कि जिस शेयरधारक के पास 14 मई को कंपनी के 15 शेयर होंगे वह आवेदन के लिए पात्र होगा।

कंपनी दस रुपये मूल्य का शेयर 1247 रुपये प्रीमियम पर कुल 1257 रुपए पर देगी।इश्यू के आवेदन के समय आवेदकों को 25 प्रतिशत राशि देनी है। इसमें ढाई रुपया फेसवैल्यू का और 311.75 रुपये प्रीमियम का अर्थात कुल 314.25 रुपए देने हैं।शुक्रवार 15 मई को कारोबार बंद होने के समय आरआईएल के शेयर की कीमत 1453.20 रुपए थी। हालांकि सोमवार के शुरुआती कारोबार में यह कुछ 1449 रुपये पर नीचा था।

आरआईएल की स्थापना 47 वर्ष पहले आठ मई 1973 को धीरुभाई अंबानी ने की थी और आज यह निजी क्षेत्र की सबसे बडी तेलशोधन कंपनी के अलावा विभिन्न क्षेत्रों में सिक्का जमाये है।मुकेश अंबानी के प्रभुत्व वाली आरआईएल के करीब 3.1अरब शेयर है जिसमें अंबानी परिवार की हिस्सेदारी 46.32 प्रतिशत और सार्वजनिक 53.68 प्रतिशत है।

Categories
National

वैदिक मंत्रोच्चार के साथ खुले भगवान बदरीनाथ के कपाट

देहरादून। उत्तराखंड में शुक्रवार को तड़के साढ़े चार बजे वैदिक मंत्रोच्चार के साथ भगवान बदरीनाथ धाम के कपाट खोल दिये गये।

इस मौके पर बदरीनाथ धाम के मुख्य पुजारी, धर्माधिकारी तथा अन्य पूजा स्थलों से जुड़े 11 लोग मौजूद रहे। वैश्विक महामारी कोरोना के मद्देनजर लागू लॉकडाउन की वजह से इतिहास में पहली बार कपाट खुलते समय श्रद्धालु मौजूद नहीं थे। भगवान बदरीनाथ के कपाट को ज्येष्ठ माह, कृष्ण अष्टमी तिथि, कुंभ राशि धनिष्ठा नक्षत्र, ऐंद्रधाता योग के शुभ मुहूर्त पर खोला गया। इस अवसर पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हुआ और मास्क पहने गए। इस बार भगवान बदरीनाथ के कपाट खुलते समय सेना के बैंड की सुमधुर ध्वनि, भक्तों का हुजूम, भजन मंडलियों की स्वर लहरियां सुनायी नहीं दी।

तड़के तीन बजे से बदरीनाथ धाम में कपाट खुलने की प्रक्रिया शुरू हो गई थी। देवस्थानम बोर्ड के अधिकारी/ सेवादार -हक हकूकधारी मंदिर परिसर के निकट पहुंचे। कुबेर जी बामणी गांव से बदरीनाथ मंदिर परिसर में पहुंचे तो रावल एवं डिमरी हक हकूकधारी भगवान के सखा उद्धव जी एवं गाडू घड़ा तेल कलश लेकर द्वार पर पूजा हेतु पहुंचे। इसके बाद वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ द्वार पूजन का कार्यक्रम संपन्न हुआ। फिर प्रात: चार बजकर 30 मिनट पर  रावल ईश्वरी प्रसाद नंबूदरी द्वारा धाम के कपाट खोले गए। इसके बाद रावल ने माता लक्ष्मी जी को मंदिर के गर्भ गृह से मंदिर परिसर स्थित लक्ष्मी मंदिर में रखा। साथ ही उद्धव जी एवं कुबेर जी बदरीश पंचायत के साथ विराजमान हो गए।