Categories
National

कोरोना की दूसरी लहर में देश बंद नहीं होगा- trump

वाशिंगटन। (शिन्हुआ) अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि कोरोना वायरस (कोविड-19) महमारी की दूसरी लहर में देश बंद नहीं होगा।

मिशिगन राज्य में फोर्ड उत्पादन संयंत्र के दौरे के दौरान पत्रकार के एक सवाल के जवाब में  ट्रंप ने कहा, “लोग कह रहे है बहुत पृथक संभावना है। यह मानक है और हम विपत्ति से बाहर आ रहे है। हम देश को बंद नहीं कर रहे है। हम विपत्ति से बाहर रहे है।”

उन्होंने कहा, “ एक स्थायी लॉकडाउन स्वस्थ राज्य या स्वस्थ देश की रणनीति नहीं है। हमारे देश को बंद करने का कोई मतलब नहीं है।” राष्ट्रपति ने कहा, “कभी न खत्म होने वाले लॉकडाउन एक सार्वजनिक स्वास्थ्य आपदा को आमंत्रित करेगा।” अपने लोगों के स्वास्थ्य की रक्षा के लिए हमारे पास एक कामकाजी अर्थव्यवस्था होनी चाहिए।”

उल्लेखनीय है कि अमेरिका के सभी 50 राज्यों ने अपनी अर्थव्यवस्थाओं को गति देने के उद्देश्य से कोरोना वायरस प्रतिबंधों में ढील देने की शुरु करने योजना की घोषणा की है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने सर्दी के मौसम में वायरस की दूसरी लहर आने की संभावना को लेकर चेतावनी दी है।

  • अमेरिका में अभी तक डेढ़ लाख लोग इस महमारी मारी से बीमारी है और 90 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्रों के अनुसार जून की शुरुआत तक देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या एक लाख तक पहुंचने की संभावना है।
Categories
National

हवाई अड्डे पर कम से कम दो घंटे पहले पहुँचना जरूरी होगा

नयी दिल्ली। कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी के कारण दो महीने तक बंद घरेलू यात्री उड़ानें 25 मई से कई नये दिशा-निर्देशों के साथ दुबारा शुरू हो रही हैं जिनमें हवाई अड्डे पर कम से कम दो घंटे पहले पहुँचना और आरोग्य सेतु ऐप का इस्तेमाल जरूरी होगा।

सूत्रों ने बताया कि हवाई अड्डों के लिए मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) में यात्रियों का हवाई अड्डे पर कम से कम दो घंटे पहले पहुँचना अनिवार्य किया गया है। सिर्फ उन्हीं यात्रियों को टर्मिनल बिल्डिंग में प्रवेश करने दिया जायेगा जिनकी उड़ान अगले चार घंटे में है।

टर्मिनल में प्रवेश से पहले ही यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जायेगी और बिना लक्षण वाले यात्रियों को ही प्रवेश की अनुमति मिलेगी।यात्रियों के लिए उनके मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप होना अनिवार्य किया गया है। ऐप पर हरा संकेत नहीं दिखने पर प्रवेश नहीं दिया जायेगा हालाँकि 14 साल से कम उम्र के बच्चों को आरोग्य सेतु ऐप की अनिवार्यता से छूट दी गयी है।

कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए 25 मार्च से देश में सभी यात्री उड़ानें बंद हैं। नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार को घोषणा की थी कि 25 मई से घरेलू यात्री उड़ानें दुबारा शुरू होंगी।

Categories
National

विश्व में कोरोना से 3.23 लाख मौतें, करीब 49 लाख संक्रमित

बीजिंग/जिनेवा/नयी दिल्ली।वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड 19) का प्रकोप दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है और विश्व में इस जानलेवा वायरस के कहर से अबतक 3.23 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और करीब 49 लाख लोग इससे संक्रमित हो गए है।

अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केन्द्र (सीएसएसई) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक कुल संक्रमितों की संख्या 4,897,567 हो गयी जबकि कुल 323,286 लोगों की इस बीमारी से मौत हो चुकी है।

भारत में भी कोरोना वायरस ने तेजी से पैर पसारे हैं और अब यह एक लाख से अधिक संक्रमण के मामलों वाले देशों में शामिल हो गया है। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से बुधवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक देश के 32 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में इसके संक्रमण से अब तक 106750 लोग प्रभावित हुए हैं तथा 3303 लोगों की मौत हुई है जबकि 42298 लोग इस बीमारी से निजात पा चुके हैं।

अमेरिका में कोरोना वायरस से दुनिया में सर्वाधिक 15 लाख से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं और इसके संक्रमण से मरने वालों की संख्या 90 हजार के आंकड़े को पार कर चुकी है। विश्व की महाशक्ति माने जाने वाले अमेरिका में कुल संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 15,28,568 हो गयी जबकि 91,921 लोगाें की मौत हो चुकी है।

रूस में भी कोविड-19 का प्रकोप लगातार तेजी से बढ़ रहा है और यह इस संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित होने वाले देशों की सूची में अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर है। यहां अब तक 299,941 लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं और 2837 लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

इस बीच ब्राजील में भी कोरोना को संकट गहराता जा रहा है। यहां 271,885 लोग संक्रमित हुए हैं तथा पिछले 24 घंटों के दौरान ‘कोविड 19’ के प्रकोप से रिकॉर्ड 1179 मरीजों की मौत के बाद देश में इस संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 17,971 हो गयी है। संक्रमण के मामले में ब्राजील का तीसरा स्थान है।

इसके अलावा ब्रिटेन में भी हालात लगातार खराब होते जा रहे हैं। यहां अब तक इस महामारी से 250,138 लोग प्रभावित हुए हैं और अब तक 35,422 लोगों की इसके कारण मौत हो चुकी है।यूरोप में गंभीर रूप से प्रभावित देश इटली में इस महामारी के कारण अब तक 32,169 लोगों की मौत हुई है और 226,699 लोग इससे संक्रमित हुए हैं।

स्पेन में कुल 232,037 लोग संक्रमित हुए है जबकि 27,778 लोगों की मौत हो चुकी है।इस वैश्विक महामारी के केंद्र चीन में अब तक 84,063 लोग संक्रमित हुए हैं और 4638 लोगों की मृत्यु हुई है। इस वायरस को लेकर तैयार की गयी एक रिपोर्ट के मुताबिक चीन में हुई मौत के 80 प्रतिशत मामले 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के थे।

यूरोपीय देश फ्रांस और जर्मनी में भी स्थिति काफी खराब है। फ्रांस में अब तक 180,933 लोग संक्रमित हुए हैं और 28,025 लाेगों की मौत हो चुकी है। जर्मनी में कोरोना वायरस से 177,778 लोग संक्रमित हुए हैं और 8,081 लोगों की मौत हुई है।तुर्की में कोरोना से अब तक 151,615 लोग संक्रमित हुए हैं तथा इससे 4,199 लोगों की मौत हो चुकी है।

कोरोना वायरस से गंभीर रूप से प्रभावित खाड़ी देश ईरान में 124,603 लोग संक्रमित हुए हैं जबकि 7119 लोगों की इसके कारण मौत हुई है।बेल्जियम में 9108, कनाडा में 6028, नीदरलैंड में 5734, मेक्सिको में 5,666, स्वीडन में 3743, इक्वाडोर में 2839, पेरू में 2789, स्विट्जरलैंड में 1891, आयरलैंड में 1,561 और पुर्तगाल में 1247 लोगों की मौत हो गयी है।
इसके अलावा पड़ोसी देश पाकिस्तान में अब तक कुल संक्रमितों की संख्या 43,966 हो गयी है जबकि 939 लोगाें की मौत हुई है।

Categories
National

देश में कोरोना संक्रमण के एक दिन में रिकॉर्ड 5611 मामले, 3124 स्वस्थ हुए

नयी दिल्ली। देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के एक दिन में रिकाॅर्ड 5611 मामले सामने आने के साथ कुल संक्रमितों की संख्या 106750 पर पहुंच गयी है तथा इस दौरान 3124 लोग स्वस्थ हुए जिससे इस महामारी से उबरने वालों की संख्या बढ़कर 42298 हो गयी।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बुधवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में 5611 नये मामले आये जिससे कुल संक्रमितों की संख्या 106750 पर पहुंच गयी। देश में फिलहाल कोरोना संक्रमण के 61149 सक्रिय मामले हैं। इससे एक दिन पहले 4970 नये मामले सामने आये थे।

देश में इस संक्रमण से पिछले 24 घंटे में 140 लोगों की मौत होने से मृतकों की संख्या 3303 हो गयी। संक्रमण के बढ़ते मामलों के बावजूद एक सकारात्मक पक्ष यह भी है कि इस बीमारी से ठीक होने वालों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है और पिछले 24 घंटों में 3124 लोग स्वस्थ हुए हैं जिसके साथ स्वस्थ हुए लोगों की कुल संख्या 42298 हो गयी है।

देश में कोरोना से सबसे अधिक महाराष्ट्र प्रभावित हुआ है और कुल संक्रमण के मामलों में एक तिहायी हिस्सा यहीं का है। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में 4083 नये मामले सामने आये हैं , जिसके बाद यहां कुल संक्रमितों की संख्या 37136 हो गयी है तथा कुल 1325 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 9639 लोग इसके संक्रमण से ठीक भी हुए हैं।

कोरोना वायरस से प्रभावित होने के मामले में तमिलनाडु दूसरे नंबर पर है। तमिलनाडु में अब तक 12448 लोग इससे संक्रमित हुए हैं तथा 84 लोगों की मृत्यु हुई है जबकि 4895 लोगों को उपचार के बाद विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी मिल चुकी है।

कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों में पांच अंकों के आंकड़ों की सूची में गुजरात तीसरे नंबर पर है। यहां कुल संक्रमितों की संख्या 12140 हो गई है तथा इसके संक्रमण से 719 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा 5043 लोग इस बीमारी से उबरे हैं।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की भी स्थिति इस जानलेवा विषाणु के कारण चिंताजनक बनी हुई है और यहां भी संक्रमितों की संख्या पांच अंकों पर पहुंच गयी है। दिल्ली में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 500 नये मामले सामने आये हैं हालांकि इस दौरान किसी की मौत नहीं हुई है।

यहां अब तक 10,554 लोग संक्रमित हुए हैं तथा मृतकों का आंकड़ा 168 पर है जबकि 4750 लोगों को उपचार के बाद अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है।राजस्थान में भी कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है। यहां कोरोना संक्रमितों की संख्या 5845 हो गयी है तथा 143 लोगों की मौत हो चुकी है , जबकि 3337 लोग पूरी तरह ठीक हुए हैं।

देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में अब तक 4926 लोग इसकी चपेट में आए हैं तथा इसके संक्रमण से मरने वालों की संख्या 123 हो गयी है और 2918 लोग अब तक इससे ठीक हुए हैं।पश्चिम बंगाल में 2961 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं तथा 250 लोगों की मौत हो चुकी है और अब तक 1074 लोग ठीक हुए है।

तेलंगाना में अब तक कोरोना से 1634 लोग संक्रमित हुए हैं। राज्य में जहां कोरोना से 38 लोगों की जान गई है , वहीं 1010 लोग अब तक ठीक हुए हैं।दक्षिण भारतीय राज्य आंध्र प्रदेश में 2532 और कर्नाटक में 1397 लोग संक्रमित हैं तथा इन राज्यों में इससे मरने वालों की संख्या क्रमश: 52 और 40 हो गयी है।

वहीं केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1317 हो गई है और 17 लोगों की मृत्यु हुई है। पंजाब में 38, हरियाणा में 14, बिहार में नौ, ओडिशा में पांच, केरल और असम में चार-चार, झारखंड, चंडीगढ़, और हिमाचल प्रदेश में तीन-तीन तथा मेघालय, पुड्डचेरी और उत्तराखंड में एक-एक व्यक्ति की इस महामारी से मौत हुई है।

Categories
National

देश में कोरोना संक्रमण के मामले हुए एक लाख से अधिक

नयी दिल्ली। देश में पिछले दो दिन में कोरोना वायरस (कोविड-19 ) के 10 हजार मामले सामने आने से संक्रमितों की संख्या एक लाख से अधिक हो गयी है और इस आंकड़े काे पार करने वाला यह विश्व का 11वां देश बन गया। देश में इस संक्रमण से तीन हजार से अधिक लोगों की अब तक मौत हो चुकी है।

देश में फिलहाल कोरोना संक्रमण के सक्रिय मामलों की संख्या 58,802 है।स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में 4,970 नये मामले आये जिससे कुल संक्रमितों की संख्या 101139 पर पहुंच गयी है। इससे एक दिन पहले 5,242 मामले सामने आये थे।

देश में इस संक्रमण से पिछले 24 घंटे में 134 लोगों की मौत होने से मृतकों की संख्या 3163 हो गयी। संक्रमण के बढ़ते मामलों के बावजूद एक सकारात्मक पक्ष यह भी है कि इस बीमारी से ठीक होने वालों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है और पिछले 24 घंटों में 2350 लोग स्वस्थ हुए हैं जिसके साथ स्वस्थ हुए लोगों की कुल संख्या 39174 हो गयी है।

देश में कोरोना से सबसे अधिक महाराष्ट्र प्रभावित हुआ है और कुल संक्रमण के मामलों में एक तिहायी हिस्सा यहीं का है। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में 2347 नये मामले सामने आये हैं , जिसके बाद यहां कुल संक्रमितों की संख्या 33,053 हो गयी है तथा कुल 1198 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 7688 लोग इसके संक्रमण से ठीक भी हुए हैं।

कोरोना वायरस से प्रभावित होने के मामले में गुजरात दूसरे नंबर पर है। गुजरात में अब तक 11379 लोग इससे संक्रमित हुए हैं तथा 659 लोगों की मृत्यु हुई है जबकि 4499 लोगों को उपचार के बाद विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी मिल चुकी है।

कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों में पांच अंकों के आंकड़ों की सूची में तमिलनाडु तीसरे नंबर पर है। यहां कुल संक्रमितों की संख्या 11,224 हो गई है तथा इसके संक्रमण से 78 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा 4172 लोग इस बीमारी से उबरे हैं।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की भी स्थिति इस जानलेवा विषाणु के कारण चिंताजनक बनी हुई है और यहां भी संक्रमितों की संख्या पांच अंको पर पहुंच गयी है।

दिल्ली में अब तक 10,054 लोग संक्रमित हुए हैं तथा पिछले 24 घंटों में 31 मरीजों की मौत के साथ मृतकों का आंकड़ा 160 पर पहुंच गया है और 4485 लोगों को उपचार के बाद अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है।

राजस्थान में भी कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है। यहां कोरोना संक्रमितों की संख्या 5202 हो गयी है तथा 131 लोगों की मौत हो चुकी है , जबकि 2992 लोग पूरी तरह ठीक हुए हैं।

देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में अब तक 4259 लोग इसकी चपेट में आए हैं तथा इसके संक्रमण से मरने वालों की संख्या 104 हो गयी है और 2441 लोग अब तक इससे ठीक हुए हैं।

पश्चिम बंगाल में 2677 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं तथा 238 लोगों की मौत हो चुकी है और अब तक 959 लोग ठीक हुए है। तेलंगाना में अब तक कोरोना से 1551 लोग संक्रमित हुए हैं। राज्य में जहां कोरोना से 34 लोगों की जान गई है , वहीं 992 लोग अब तक ठीक हुए हैं।

दक्षिण भारतीय राज्य आंध्र प्रदेश में 2407 और कर्नाटक में 1147 लोग संक्रमित हैं तथा इन राज्यों में इससे मरने वालों की संख्या क्रमश: 50 और 37 हो गयी है। वहीं केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1163 हो गई है और 13 लोगों की मृत्यु हुई है।

  • पंजाब में 35, हरियाणा में 14, बिहार में आठ, केरल और ओडिशा में चार-चार, झारखंड, चंडीगढ़, और हिमाचल प्रदेश में तीन-तीन, असम में दो तथा मेघालय, पुड्डचेरी और उत्तराखंड में एक-एक व्यक्ति की इस महामारी से मौत हुई है।
Categories
National

भारत बनेगा विश्व का आकर्षक विनिर्माण केन्द्र

नयी दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने शनिवार को माना कि प्रवासी मजदूरों के देशव्यापी घरवापसी से कोरोना विषाणु के संक्रमण फैलने तथा उद्योगों के पुन: चालू होने की राह में चुनौती आयेगी लेकिन सरकार के उपायों से देश इन चुनौतियों से आगे बढ़ेगा और विश्व में एक आकर्षक विनिर्माण केन्द्र के रूप में उभरेगा।

भाजपा के आर्थिक मामलों के राष्ट्रीय प्रवक्ता गोपाल कृष्ण अग्रवाल ने यहां संवाददाताओं से एक संवाद कार्यक्रम में यह बात कही। श्री अग्रवाल ने कहा कि केन्द्र सरकार ने कोविड-19 वैश्विक महामारी से निपटने के लिए मार्च से ही लगातार अनेक कदम उठाये हैं और तेजी से बदल रही परिस्थितियों की दिन-प्रतिदिन के हिसाब से समीक्षा करके चरणबद्ध ढंग से नये नये फैसले तुरंत कर रही है।

Categories
National

जेल में भी कैदी हुए कोरोना संक्रमित

नयी दिल्ली। राजधानी के रोहिणी जेल के एक कैदी के कोरोना वायरस ‘काेविड-19’ से संक्रमित पाए जाने के बाद उनके साथ रहने वाले 19 में से 15 कैदी और एक जेल कर्मी प्रभावित पाये गये हैं।

तिहाड़ जेल महानिदेशक संदीप गोयल ने शनिवार को यहां बताया कि रोहिणी जेल में एक कैदी कुलदीप के हाल में कोरोना संक्रमित पाये जाने के बाद उनके साथ बैरक में रहने वाले 19 कैदियों की कोरोना जांच की गयी जिसमें से 15 कैदी कोरोना संक्रमित पाये गये हैं।

कुलदीप को आंतों से संबंधित बीमारी के कारण 10 मई को दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में भर्ती कराया गया था और 11 मई को उसका ऑपरेशन हुआ था।ऑपरेशन वाले दिन ही उसकी जांच की गयी थी और अगले दिन रिपोर्ट आई है, जिसमें वह संक्रमित पाया गया। कोरोना संक्रमित पाये जाने के बाद उसको लोक नायक जयप्रकाश अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Categories
National

‘कोविड 19’ के इंदौर जिले में 2378 संक्रमित, 99 मौतें

इंदौर ।मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में ‘कोविड 19’ के 79 नये मामले आने के बाद संक्रमितों की संख्या 02 हजार 03 सौ 78 तक पहुंची गयी, जबकि एक मौत दर्ज होने के बाद मृतकों की संख्या 99 हो गयी है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ प्रवीण जड़िया ने कल रात स्वास्थ्य बुलेटिन जारी कर बताया कि जांचे गये 01 हजार 55 सैम्पलों में 09 सौ 76 असंक्रमित और 79 संक्रमित पाये गये हैं।

इस प्रकार यहां संक्रमितों की संख्या 02 हजार 02 सौ 99 से बढ़कर 02 हजार 03 सौ 78 तक जा पहुंची है, जबकि एक 57 वर्षीय पुरूष की मौत के बाद मृतकों की संख्या 99 तक पहुंच गयी है।

वहीं 01 हजार 01 सौ 79 मरीज उपचाररत बताये जा रहे हैं। कल तक 20 हजार 6 सौ 45 सैम्पल जांचे गये हैं, जबकि 01 हजार 05 सौ 29 नये सैम्पल प्राप्त हुए हैं।
डॉ जड़िया ने बताया कि स्वस्थ्य होने पर 02 रोगियों को अस्पताल से छुट्टी दिये जाने के पश्चात अब तक कुल 11 सौ रोगियों को छुट्टी दी जा चुकी है।

जबकि आज संस्थागत क्वारेंटाइन केंद्रों से 55 रोगियों को स्वस्थ्य होने के पश्चात छुट्टी दिये जाने के पश्चात अब तक कुल 02 हजार 61 लोगों को छुट्टी दी जा चुकी है।

Categories
international

बच्चों में इंफ्लेमेट्री सिंड्रोम हो सकता है कोरोना का लक्षण

एजिनेवा/नयी दिल्ली।विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूचओ) ने बच्चों में इंफ्लेमेट्री सिंड्रोम यानी सूजन के साथ लाल चकत्ते निकलने के प्रति डॉक्टरों को सावधान रहने की सलाह देते हुये कहा है कि ये कोरोना के लक्षण हो सकते हैं।

डब्ल्यूएचओ की शुक्रवार को जारी एक वैज्ञानिक टिप्पणी में डॉक्टरों और अस्पतालों को सलाह दी गयी है कि यदि बच्चों की जीभ, हाथों या पैरों पर चकत्ते निकलते हैं या सूजन आता है अथवा शॉक के लक्षण दिखते हैं और इसका कोई जीवाणु से जुड़ा कारण नहीं पाया जाता तो यह कोरोना के लक्षण हो सकते हैं।

यदि बच्चे की कोरोना जाँच में संक्रमण की पुष्टि होती है या उसके संपर्क में आया कोई व्यक्ति कोविड-19 से संक्रमित है तो इसकी रिपोर्ट डब्ल्यूएचओ को भेजी जाये।कोविड-19 पर डब्ल्यूएचओ की मुख्य तकनीकी विशेषज्ञ डॉ मरिया वैन कोरखोव ने बताया कि अमेरिका और इटली से कुछ ऐसी रिपोर्टें मिली हैं कि कुछ बच्चों को इंफ्लेमेट्री सिन्ड्रोम के साथ आईसीयू में भर्ती कराना पड़ा है। इनमें से कई बच्चों की जाँच में कोविड-19 के संक्रमण की भी पुष्टि हुई है।

अभी यह तय नहीं है कि इंफ्लेमेट्री सिंड्रोम कोरोना से सीधे जुड़ा हुआ है या नहीं। इसलिए हम और डाटा एकत्र कर रहे हैं।डब्ल्यूएचओ के स्वास्थ्य आपदा कार्यक्रम के कार्यकारी निदेशक डॉ. माइकल जे. रेयान ने कहा कि हो सकता है कि यह बच्चों में दिखने वाला मल्टीसिस्टम इंफ्लेमेट्री सिंड्रोम सीधे वायरस के कारण न होकर वायरस के खिलाफ शरीर के रोग प्रतिरोधक तंत्र की अत्यधिक सक्रियता का परिणाम हो।

वैज्ञानिक टिप्पणी में कहा गया है कि इस सिंड्रोम के लक्षणों और इससे होने वाले जोखिम तथा जनहानि को समझना जरूरी है। साथ ही ऐसी परिस्थितियों में उपचार भी विकसित करने की आवश्यकता है। अभी यह भी स्प्ष्ट नहीं है कि यूरोप और अमेरिका के अलावा दूसरे महादेशों में यह सिंड्रोम नहीं है या यह मौजूद है लेकिन इस पर किसी का ध्यान नहीं गया है।

Categories
Entertainment

कोरोना ने बदली कैटरीना की जिंदगी

मुंबई ।बॉलीवुड की बार्बी गर्ल कैटरीना कैफ की जिंदगी के प्रति सोच कोरोना महामारी ने बदल दी है।कोरोना महामारी ने लगभग हर चीज को बदलकर रख दिया है।इससे जिंदगी के प्रति इंसानों का नजरिया बदला है। कैटरीन का भी कुछ ऐसा ही मानना है।

कैटरीना ने कहा, “यह महामारी और इसके चलते लगाए गए लॉकडाउन ने हम में से कई लोगों कोआत्मनिरीक्षण करने का मौका दिया है कि हमारी जिंदगी कितनी बेहतर है या किस तरह से हम इसे आम तौर पर ले लेते हैं।

इसके साथ ही मामलों की बढ़ती संख्या के कारण मेरा मानना है कि हमें अपने खानपान और जीवनशैली के माध्यम से अपनी बेहतर इम्युनिटी की दिशा में काम करना चाहिए। इसने कुछ मायनों में जिंदगी के प्रति मेरी सोच भी बदल दी है।”

कैटरीना ने कहा , “मैं यह सोचकर कभी-कभार परेशान हो जाती हूं कि जिंदगी पटरी पर कब आएगी, लेकिन दुनिया इस वक्त जिस परेशानी का सामना कर रही है मैं उसे भी समझती हूं। तनाव ऐसी स्थिति में एक गंभीर मुद्दा है।

मेरा सभी से सुझाव यह है कि शांत रहें, ध्यान लगाएं या योगाभ्यास करें और इसके बेहतर पहलुओं के बारे में सोचने का प्रयास करें। इस दौर के बाद आने वाले समय के बारे में सोचें, इस पर भी विचार करें कि आगामी समय में पर्यावरण के प्रति हमारी पहले की गई गलतियों को कैसे न दोहराया जाएं।

फिलहाल मैं जब भी खुद को निराश महसूस करती हूं, तो मैं या तो ध्यान लगाती हूं या योगा करती हूं या खुद को दोबारा खुश करने के लिए कोई फिल्म या शो देखती हूं।”