Categories
National

कोरोना: सबसे ज्यादा मामले वाले 10 देशों में शामिल हुआ India

नयी दिल्ली । कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ के एक ही दिन में करीब सात हजार मामले आने के साथ भारत इस महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित 10 देशों में शामिल हो गया है।स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आँकड़ों के अनुसार, आज कुल 6,977 नये मामले सामने आये। अब तक देश में 1,38,845 मरीजों में इस वायरस के संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। देश में इस समय कोरोना वायरस के 77,103 मरीज उपाचाराधीन हैं और 57,721 स्वस्थ हो चुके हैं जबकि 4,021 लोगों को नहीं बचाया जा सका।

इसके साथ ही देश में कोविड-19 के कुल मरीजों की संख्या ईरान से अधिक हो गयी है और इस मामले में हम 10वें स्थान पर पहुँच गये हैं। दुनिया भर में कोविड-19 के 54 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। कुल 16.43 लाख मामलों के साथ अमेरिका इससे सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है। इसके बाद क्रमश: ब्राजील (3.63 लाख), रूस (3.44 लाख), ब्रिटेन (2.60 लाख), स्पेन (2.35 लाख), इटली (2.29 लाख), फ्रांस (1.82 लाख), जर्मनी (1.80 लाख) और तुर्की (1.56 लाख) का स्थान है।भारत में मई महीने में ही एक लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक 01 मई की सुबह देश में इस महामारी के 35,043 मामलों की पुष्टि हुई थी जो आज सुबह बढ़कर 1,38,845 पर पहुँच गयी। इस प्रकार महज 24 दिन में 1,03,802 मामले सामने आ चुके हैं।

Categories
Business

Corona’s के दबाव में लगातार तीसरे सप्ताह लुढ़का शेयर बाजार

मुंबई । लॉकडाउन के बीच वाणिज्यिक गतिविधियाँ शुरू किये जाने के बावजूद कोविड-19 के बढ़ते मामलों की चिंता में पिछले सप्ताह घरेलू शेयर बाजारों में एक फीसदी से अधिक की गिरावट रही।बाजार लगातार तीसरे सप्ताह लुढ़का है और जिस प्रकार कोविड-19 के नये मामले बढ़ रहे हैं, आने वाले सप्ताह में भी बाजार दबाव में रह सकता है। कोरोना वायरस के मामले बढ़ते हैं तो बाजार पर इसका प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा। देश में कोविड-19 के मरीजों की संख्या अब एक लाख 32 हजार के करीब पहुँच चुकी है।

पिछले सप्ताह बीएसई का सेंसेक्स 425.14 अंक यानी 1.37 प्रतिशत लुढ़ककर 30,672.59 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 97.60 अंक यानी 1.07 प्रतिशत की साप्ताहिक गिरावट के साथ सप्ताहांत पर 9,39.25 अंक पर आ गया।मझौली और छोटी कंपनियों पर ज्यादा दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप दो प्रतिशत टूटकर सप्ताहांत पर 11,270.02 अंक पर और स्मॉलकैप 1.54 फीसदी गिरकर 10,524.23 अंक पर आ गया।पिछले सप्ताह सोमवार को ही शेयर बाजारों में करीब साढ़े तीन प्रतिशत की भारी गिरावट देखी गयी। सेंसेक्स 1069 अंक और निफ्टी 314 अंक टूट गया। इसके बाद पूरे सप्ताह बाजार वापसी नहीं कर सका। अगले तीन दिन लिवाली का जोर रहा जबकि शुक्रवार को एक बार फिर यह लाल निशान में बंद हुआ।

Categories
sports

IPL के आयोजन पर सोचना जल्दबाजी होगी: BCCI

मुंबई । कोरोना वायरस के कारण देशभर में जारी लॉकडाउन के बीच स्पोटर्स कॉम्प्लेक्स और स्टेडियम को सशर्त खोलने की इजाजत के बावजूद (बीसीसीआई) का कहना है कि मौजूदा हालात में आईपीएल के आयोजन के बारे में सोचना जल्दबाजी होगी।

सरकार ने रविवार को देशभर में लॉकडाउन को 31 मई तक बढ़ाने की घोषणा की थी। गृह मंत्रालय ने दिशानिर्देश जारी करते हुए बताया था कि लॉकडाउन के बावजूद देशभर में स्पोटर्स कॉम्प्लेक्स और स्टेडियम दर्शकों के बिना खोले जा सकते हैं। हालांकि इस दौरान ऐसे टूर्नामेंटों के आय़ोजन पर रोक बरकरार है जिसमेंं भारी संख्या में दर्शकों की भीड़ जुटने की संभावना है। बीसीसीआई ने सरकार के इस आदेश का स्वागत किया है।

सीसीआई के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने सोमवार को कहा कि भले ही सरकार ने स्टेडियम खोलने की इजाजत दी है लेकिन देशभर में 31 मई तक हवाई यात्रा पर प्रतिबंध लगा हुआ है और मौजूदा हालात में आईपीएल के 13वें सत्र का आयोजन करने के बारे में सोचना जल्दबाजी होगी। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस के कारण देशभर में जारी लॉकडाउन और विदेशी यात्रियों के आने पर प्रतिबंध के बाद बीसीसीआई ने अप्रैल में आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया था।

यह पूछे जाने पर कि क्या बीसीसीआई इस साल आईपीएल के आयोजन के बारे में विचार कर रही है, धूमल ने कहा कि मौजूदा हालात में टूर्नामेंट के आयोजन के बारे में सोचना जल्दबाजी होगी। उन्होंने कहा कि विश्वभर में विदेशी यात्राओं पर प्रतिबंध हटने के बाद क्रिकेट कलेंडर को देखते हुए आईपीएल के लिए विंडो देखना होगा। इस बीच आईपीएल की फ्रेंचाइजी टीमें इसके आय़ोजन को लेकर बीसीसीआई के फैसले का इंतजार कर रही हैं।

आईपीएल की एक फ्रेंचाइजी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने कहा कि सरकार के आदेश से बीसीसीआई पर प्रभाव पड़ेगा और इससे आईपीएल के आयोजन को लेकर सकारात्मक स्थिति बनेगी।भारतीय टीम को जुलाई में श्रीलंका का भी दौरा करना है जहां उसे तीन वनडे और टी-20 मैचों की सीरीज खेलनी है। धूमल ने कहा कि श्रीलंका क्रिकेट ने इस संबंध में बीसीसीआई को पत्र लिखकर इस सीरीज की मेजबानी की इच्छा जाहिर की है लेकिन सरकार के निर्देश के बिना अभी यह कह पाना संभव नहीं है कि टीम इस सीरीज के लिए श्रीलंका जा पाएगी या नहीं।

Categories
National

भारत को वेंटिलेटर देगा अमेरिका : ट्रम्प

वाशिंगटन । अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) के खिलाफ लड़ाई में भारत-अमेरिका साझेदारी को महत्वपूर्ण करार देते हुए भारत को वेंटिलेटर देने की घोषणा की है।

ट्रम्प ने शुक्रवार को ट्वीट किया, “ मुझे यह घोषणा करते हुए गर्व हो रहा है कि अमेरिका अपने मित्र भारत को वेंटिलेटर देगा। इस महामारी के समय में हम भारत और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ खड़े हुए हैं। हम कोविड-19 का टीका विकसित करने की दिशा में भी सहयोग कर रहे हैं। हम साथ मिलकर इस अदृश्य शत्रु को हराएंगे।”

ट्रम्प ने कहा कि भारत और अमेरिका कोविड-19 का टीका विकसित करने की दिशा में एक-दूसरे के साथ सहयोग कर रहे हैं। हम साथ मिलकर इस अदृश्य शत्रु को हराएंगे।उल्लेखनीय है कि भारत ने अप्रैल में कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका की मदद के तहत हाइड्रॉक्सोक्लोरोक्वीन दवा की बड़ी खेप भेजी थी। जिसके बाद  ट्रम्प ने मोदी के नेतृत्व को मजबूत करार देते हुए उनकी प्रशंसा की थी और भारत का धन्यवाद किया था।

गौरतलब है कि अमेरिका में यह महामारी विकराल रूप ले चुकी है और अब तक 14 लाख से अधिक लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं। भारत में भी कोरोना संक्रमण के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं और संक्रमितों की संख्या चीन से अधिक हो गयी है।

जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केन्द्र (सीएसएसई) की ओर से जारी किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 87 हजार को पार कर 87427 पहुंच गयी है जबकि संक्रमितों की संख्या 14 लाख का आंकड़ा पार कर 1441172 हो गयी है।