Categories
National

महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की संख्या 50000 के पार

मुंबई । महाराष्ट्र में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) ने रविवार को सबसे अधिक कहर बरपाया और रिकॉर्ड तीन हजार से अधिक नये मामलों से कुल संक्रमितों की संख्या 50 हजार को पार कर गई जबकि 58 मरीजों की और मृत्यु से कोरोना वायरस 1635 लोगों की जान ले चुका है।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से आज जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में संक्रमण के रिकॉर्ड 3041 मामले आए और कुल संक्रमितों की संख्या 50 हजार 231 पर पहुंच गई।इस दौरान 58 मरीजों की मृत्यु संक्रमण से 1635 की यह वायरस जान ले चुका है।महाराष्ट्र में इस अवधि में 1196 लोग स्वस्थ भी हुए और 14600 मरीज ठीक हो चुके हैं। राज्य में 33 हजार 988 संक्रमण मामले सक्रिय हैं।

Categories
National

देश में कोरोना के 1,429 नये मामले, संक्रमितों की संख्या 24 हजार के पार

नयी दिल्ली। देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं और पिछले 24 घंटों के दौरान 1,429 नये मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या 24 हजार के पार पहुंच गयी तथा इस दौरान इस संक्रमण के कारण 57 लोगों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा 775 हो गया है।

देश के विभिन्न राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना के अब तक कुल 24506 मामलों की पुष्टि हुई है जिनमें 77 विदेशी मरीज शामिल हैं। कोरोना से संक्रमित लोगों के स्वस्थ होने की रफ्तार भी तेज हुई है और पिछले 24 घंटों में कोरोना से संक्रमित 314 लोगों के स्वस्थ होने के साथ ऐसे लोगों की संख्या 5063 पर पहुंच गयी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार सुबह जारी किये गये आंकड़ों के मुताबिक कोरोना वायरस का प्रकोप देश के 32 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में फैल चुका है। कोरोना से सबसे गंभीर रूप से प्रभावित महाराष्ट्र में संक्रमितों की संख्या में एक दिन में 387 की वृद्धि दर्ज की गयी और कुल आंकड़े 6,817 पर पहुंच गये। पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 18 और लोगों की मौत के बाद इस महामारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 283 हो गयी है। राज्य में 840 संक्रमित मरीज ठीक हो चुके हैं।

गुजरात पिछले 24 घंटों के दौरान 191 नये मामले सामने आने के साथ संक्रमितों की संख्या के मामले में सूची में दूसरे स्थान पर बना हुआ है। गुजरात में संक्रमितों की कुल संख्या में 2,815 हो गयी है तथा 15 और लोगों की मौत के बाद मृतकों की संख्या 127 पर पहुंच गयी है।

इसके बाद देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली है जहां पिछले 24 घंटाें में 138 नये मामले दर्ज किये जाने के कारण अब तक कुल 2,514 लोग इस महामारी से संक्रमित हुए हैं तथा इस दौरान मरने वालों की संख्या तीन बढ़कर 53 हो गयी है। राजधानी में कुल 857 मरीजों को उपचार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

वहीं राजस्थान में पिछले 24 घंटों के दौरान 70 नये मामले सामने आये है और इनका आंकड़ा बढ़कर 2034 हो गया। राज्य में इस दौरान संक्रमण से किसी की मौत नहीं हुई और मरने वालों की संख्या 27 पर बनी रही।
तमिलनाडु में 72 नये संक्रमित सामने आये है और संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 1,755 हो गई तथा राज्य में संक्रमण से मरने वालों की संख्या दो बढ़कर 22 हो गयी। मध्य प्रदेश में पिछले 24 घंटों में संक्रमण के 153 नये मामले सामने आये जिससे संक्रमितों की संख्या 1,852 हो गयी तथा मरने वालों की संख्या 12 बढ़कर 92 हो गयी।

देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में संक्रमण के 111 नये मामले सामने आने के बाद कुल संक्रमितों की संख्या 1621 हो गई है तथा इस दौरान एक व्यक्ति की मौत के बाद मृतकों की संख्या 25 हो गयी है और अभी तक 247 मरीजों को उपचार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।
तेलंगाना में इस दौरान 24 नये मामले सामने आये और संक्रमितों की कुल संख्या 984 हो गयी। राज्य में इस संक्रमण से पिछले 24 घंटों में दो लोगों की मौत हुई है

जिससे मरने वालों की संख्या में 26 हो गयी है। केरल में 450 लोग संक्रमित हुए हैं और तीन लोगों की मौत हुई है।
दक्षिण भारतीय राज्य आंध्र प्रदेश में 955 और कर्नाटक में 474 लोग संक्रमित हैं तथा इन राज्यों में क्रमश: 29 और 18 लोगों की मौत हुई है।केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में संक्रमितों की संख्या 454 है और पांच लोगों की मौत हुुई है।इसके अलावा पंजाब में 17, पश्चिम बंगाल में 18, हरियाणा, केरल और झारखंड में तीन-तीन, बिहार में दो तथा मेघालय, ओडिशा, हिमाचल प्रदेश और असम में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है।

Categories
international

इस जानलेवा बीमारी ने ले ली नौ लोगों की जान,जानिए क्या है यह बिमारी

तेगुसीगाल्पा(शिन्हुआ) हाेंडुरास में डेंगू बुखार से इस वर्ष नौ लोगों की मौत हो गयी है।स्वास्थ्य मंत्रालय के निगरानी प्रमुख एडिथ रोड्रिगेज ने सोमवार को इसकी पुष्टि करते हुए कहा, “हमें 14 लोगों की मौत की खबर मिली थी लेकिन प्रयोगशाला परीक्षण के बाद उनमें से केवल नौ लोगों की मौत डेंगू से होने की पुष्टि हुई है।”डेंगू से मौतों के अधिकतर मामले देश के उत्तर पूर्वी प्रांत कोर्टेस से आये है।इस बीमारी से एक 35 वर्षीय वयस्क की मौत हुई है जबकि शेष दो से 13 वर्ष के आयुवर्ग के बच्चे हैं।

मंत्रालय ने बताया कि अब तक डेंगू के 4200 मामले सामने आये जिनमें से 1131 गंभीर मामले है।कोर्टेस प्रांत के कोलोमा, सैन मैनुअल, पिमिएंटा, विलानुएवा, सैन फ्रांसिस्को डी योजोआ और ओमोआ नगर पालिकाओं में इस बीमारी के सर्वाधिक मामले सामने आये हैं।होंडुरास में वर्ष 2018 तक कुल 9144 मामले सामने आये थे। इससे पिछले वर्ष इस बीमारी का आंकड़ा 5217 था।जीका और चिकनगुनिया के समान, डेंगू एक मच्छर जनित बीमारी है जिसमें तेज बुखार, सिरदर्द, उल्टी, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द और त्वचा पर लाल चकत्ते हो जाते हैं।

Categories
international

इस देश में सेना से संघर्ष में दो प्रदर्शनकारि फिलिस्तीनी की मोके पर मोत, अन्य घायल

गाजा (शिन्हुआ)| विवादित गाजा पट्टी के पास इजरायली सीमा के निकट शुक्रवार को अपराह्न में इजरायली सेना की गोलीबारी में दो फिलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों की मौत हो गयी तथा कई अन्य घायल हो गये।

गाजा स्थित स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता अशरफ अल केद्रा ने शनिवार को बताया कि पूर्वी गाजा में इजरायली सेना की गोलीबारी में हमजा इश्तिवी (18) की मौत हो गई।इससे पहले सुबह में इजरायली सीमा के निकट दक्षिणी गाजा पट्टी के खान युनिस शहर के पूर्वी इलाके में इजरायली सेना की गोलीबारी में हसन शलाबी (14) की मृत्यु हुई थी।

[divider style=”solid” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

Categories
National

इजरायल के लड़ाकू विमानों ने इस शिविर पर किया हमला,जानिए कारण

तेल अवीव | (स्पूतनिक) इजरायल की रक्षा सेना (आईडीएफ) के मुताबिक उसके लड़ाकू विमानों ने मंगलवार को उत्तरी गाजा पट्टी में हमास के एक शिविर को निशाना बनाकर हमले किए।आईडीएफ ने हमले की पुष्टि करते हुए कहा कि यह हमले इजरायल-गाजा सीमा पर परिस्थितियों के जवाब में किए गए हैं।

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इजरायली वायु सेना ने मंगलवार को सीमा पर तनाव के बाद उत्तरी गाजा पट्टी में हमास के एक शिविर को निशाना बनाकर हमले किए।आईडीएफ ने टि्वटर पर कहा, “ आतंकवादियों ने दिन भर में कई बार गाजा के साथ इजरायल की सीमा पर तैनात हमारे सैनिकों पर गोलियां चलाईं। इसके जवाब में आईडीएफ के लड़ाकू विमानों ने उत्तरी गाजा पट्टी में हमास के एक शिविर को निशाना बनाकर हमले किए।”इससे पहले आईडीएफ ने मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा कि गाजा सीमा पर फिलीस्तीनियों के साथ झड़प में एक इजरायली अधिकारी घायल हो गया। इसके जवाब में इजरायली टैंक ने हमास की एक चौकी को निशाना बनाकर हमला किया।गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इजरायली हमले में एक फिलीस्तीनी नागरिक की मौत हो गयी और दो अन्य घायल हो गए।

Categories
National

सेरीडॉन, पिरिटॉन, डार्ट पर सुप्रीम कोर्ट ने प्रतिबंध हटाया, सरकार से पूछा क्यों की बैन

नयी दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने सेरीडॉन, पिरिटॉन और डार्ट ड्रग्स पर केंद्र सरकार की ओर से लगे प्रतिबंध पर रोक लगा दी है। फिलहाल इन दवाओं की बिक्री की जा सकेगी। शीर्ष अदालत ने यह आदेश दवा निर्माताओं की याचिका पर सुनवाई करते हुए दिया। साथ ही इसने केंद्र सरकार को नोटिस जारी करके जवाब भी मांगा है।

दरअसल, ये तीनों दवाएं 328 दवाओं की उस सूची में शामिल हैं, जिन्हें केंद्र सरकार ने पिछले दिनों प्रतिबंधित कर दिया था। केंद्र सरकार ने एक झटके में इन 328 फिक्स डोज कंबीनेशन यानी एफडीसी दवाओं पर रोक लगा दी थी। एफडीसी ऐसी दवाएं हैं जो दो या दो से अधिक सॉल्ट को मिलाकर बनाई जाती हैं।

आपको बता दें कि हाल ही में सरकार ने एक बड़ा फैसला लेते हुए पेनकिलर सैरिडॉन और स्किन क्रीम पेनड्रम समेत कॉम्बिनेशन वाली 328 दवाओं पर बैन लगा दिया​ था। स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि ये ऐसी दवाएं हैं जिनके सेवन से लोगों की सेहत को कोई अतिरिक्त फायदा नहीं पहुंचता। जनहित में इन्हें प्रतिबंधित किया गया है। इन दवाओं के उत्पादन, मार्केटिंग और बिक्री पर तत्काल प्रभाव से रोक लग गई है। इनमें कुछ कफ सीरप, सर्दी-जुकाम-फ्लू की दवाएं और एंटी डायबिटिक ड्रग्स भी शामिल हैं।

Supreme Court

बता दें कि प्रतिबंधित की गईं सभी दवाओं के कॉम्बिनेशन और ब्रांड का अभी खुलासा नहीं हुआ है। ड्रग टेक्निकल एडवायजरी बोर्ड ने कहा कि इन दवाओं के इनग्रीडिएंट्स का थैरेपी में सही इस्तेमाल साबित नहीं होता। ये वे दवाएं हैं जो फिक्स्ड डोज कॉम्बिनेशन कहलाती हैं। उदाहरण के लिए पैरासिटामॉल के साथ अगर कोई और दवा मिली हुई हो तो वह फिक्स्ड डोज कॉम्बिनेशन मानी जाएगी।