Categories
sports

आईसीसी विश्वकप के सेमीफाइनल में पुहंचकर ये बोले आस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच

लंदन, । आईसीसी विश्वकप के सेमीफाइनल में आठवीं बार पहुंचने के बाद गत चैंपियन आस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच ने कहा है कि विश्व की नंबर एक टीम तथा मेजबान इंग्लैंड को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचना उनके लिये बहुत सुखद है।

इंग्लैंड के खिलाफ कल 64 रन की महत्वपूर्ण जीत हासिल करने के बाद फिंच ने कहा कि उनकी टीम इस टूर्नामेंट में संतुलित होकर खेल रही है और वह बहुत अच्छी लय में है। फिंच ने कहा, “हमने अब तक अच्छा क्रिकेट खेला है।

टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में क्वालीफाई करना इस विश्वकप का पहला पड़ाव है। मैं टीम के प्रदर्शन से काफी खुश हूं। हम सही दिशा में खेल रहे हैं। इंग्लैंड मजबूत टीम है और वह बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों ही क्षेत्रों में इतनी आसानी से हमें आगे बढ़ने नहीं दे सकती थी।”

Categories
sports

सेमीफाइनल में मारिन ने सायना को दी मात

कुआलालम्पुर | सातवीं वरीयता प्राप्त सायना नेहवाल का मलेशिया मास्टर्स बैडमिंटन टूर्नामेंट में सफर शनिवार को सेमीफाइनल में हार के साथ थम गया।सायना को सेमीफाइनल में चौथी वरीयता प्राप्त और ओलम्पिक चैंपियन स्पेन की कैरोलिना मारिन ने 40 मिनट में ही 21-16 21-13 से हरा कर खिताबी मुकाबले में प्रवेश कर लिया। मारिन का खिताब के लिए छठी सीड थाईलैंड की रत्चानोक इंतानोन से मुकाबला होगा।

इस हार के साथ सायना का छठी रैंकिंग की मारिन के खिलाफ 5-6 का करियर रिकॉर्ड हो गया है। सायना को मारिन से पिछले मुकाबले में विश्व चैंपियनशिप में हार का सामना करना पड़ा था। सायना की हार के साथ टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती समाप्त हो गयी।

[divider style=”solid” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

Categories
sports

यहां खेले जा रहे इस टूर्नामेंट के सेमीफइनल में जगह बनाई इस टीम ने

चेन्नई|भारत ने थाईलैड के पटाया में खेली जा रही एशियाई जूनियर स्क्वैश चैंपियनशिप में शुक्रवार को पुरुष और महिला वर्ग के सेमीफाइनल में जगह बना ली है।सेमीफाइनल में भारत की महिला एवं पुरुष टीमों का मुकाबला शनिवार को मलेशिया से होगा।

ग्रुप के आखिरी मैच में भारतीय पुरुषों की टीम ने कोरिया को 3-0 से मात देकर ग्रुप ए में पाकिस्तान के बाद दूसरे स्थान पर रही जबकि महिला टीम हांगकांग से अपने आखिरी ग्रुप मैच में 0-3 से हार गयी और अपने पूल बी में दूसरे स्थान पर रही।भारतीय पुरुष टीम की तरफ से उत्कर्ष बहेती, यश फड़ते और तुषार सहानी ने अपने-अपने मैच जीते तो वहीं महिला वर्ग की तरफ से सान्या वत्स,योशना सिंह और अमीरा सिंह अपने-अपने मैच गंवा बैठीं।

[divider style=”solid” top=” 10″ bottom=” 10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

Categories
sports

ओलंपिक पदक विजेता स्टार मुक्केबाज़ ये दोनों खिलाडी सेमीफाइनल में, भारत के लिए दो पदक पक्के

नयी दिल्ली। ओलंपिक पदक विजेता स्टार मुक्केबाज़ एमसी मैरीकॉम और लवलीना बोर्गोहेन ने मंगलवार को आईबा विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में पहुंचकर भारत के लिए दो पदक पक्के कर दिए जबकि मनीषा मौन और भाग्यवती काचारी को क्वार्टरफाइनल में हार का सामना करना पड़ा।35 साल की मैरीकॉम ने अपने 45-48 किग्रा वर्ग के क्वार्टरफाइनल मुकाबले में चीन की वू यू को 5-0 से पराजित करने के साथ सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। मैरीकॉम ने अपना मुकाबला 30-27, 29-28, 30-27, 29-28, 30-27 से जीता। उन्होंने इसी के साथ अपना सातवां विश्व चैंपियनशिप पदक पक्का कर लिया जिससे वह इस टूर्नामेंट की सबसे सफल मुक्केबाज़ बन गयी हैं।

मैरीकॉम पांच बार विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण विजेता रही हैं। उन्होंने वर्ष 2002 अंताल्या, 2005 पोडोल्स्क, 2006 नयी दिल्ली, 2008 निंग्बो सिटी, 2010 ब्रिजटाउन में खिताब जीते थे जबकि 2001 के स्क्रांटन में पहले संस्करण में उन्होंने रजत पदक जीता था। हालांकि ओलंपिक कांस्य पदक विजेता वर्ष 2010 के बाद आईबा चैंपियनशिप में पहले खिताब की तलाश में हैं।मणिपुरी मुक्केबाज़ यदि इस बार भी स्वर्ण तक पहुंचती हैं तो आयरलैंड की केटी टेलर के पांच विश्व खिताब के रिकार्ड को पीछे छोड़ देगी। वह अपने रिकार्ड छठे स्वर्ण से दो कदम दूर हैं और सेमीफाइनल मुकाबले में उत्तर कोरिया की किम हयांग मी की चुनौती का सामना करने उतरेंगी। हयांग ने अपने क्वार्टरफाइनल मैच में कोरिया की बाक चोरोंग को हराया था।

लवलीना ने भी अपना शानदार प्रदर्शन बरकरार रखते हुए 64-69 किग्रा वेल्टरवेट वर्ग में ऑस्ट्रेलिया की फ्रांसिस केई स्कॉट को 5-0 से पराजित किया। लवलीना ने यह मुकाबला 30-27, 29-28, 30-27,30-27,30-27से जीता। लवलीना का सेमीफाइनल में ताइपे की निएन चिन चेन से मुकाबला होगा।इस बीच 54 किग्रा बैंटम वजन वर्ग में मनीषा को क्वार्टरफाइनल मुकाबले में स्टोइका पेत्रोवा के हाथों 1-4 से शिकस्त झेलनी पड़ गयी। मनीषा को पेत्रोवा ने 30-27, 29-28, 30-27, 27-30, 30-27 से हराया।भाग्यवती लाइट हैवी 81 किग्रा में कोलंबिया की जेसिका सिनिस्टेरा से नजदीकी मुकाबले में 2-3 से हार गयीं। कोलम्बियाई मुक्केबाज ने यह मुकाबला 29-28, 29-28, 27-30, 29-28, 28-29 से जीता।

Categories
sports

इंग्लैंड के शानदार प्रदर्शन को रोका इस छोटी टीम ने, तीसरे स्थान से भी धकेला

सेंट पीटर्सबर्ग। बेल्जियम ने इंग्लैंड को तीसरे स्थान के प्लेऑफ मुकाबले में शनिवार को 2-0 से हराकर फीफा विश्वकप फुटबॉल टूर्नामेंट में तीसरे स्थान के साथ विजयी विदाई ली। बेल्जियम का विश्व कप में यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। बेल्जियम की जीत में थॉमस म्यूनियर ने चौथे और एडेन हेजार्ड ने 82वें मिनट गोल दागे। बेल्जियम ने इंग्लैंड को ग्रुप चरण में भी 1-0 से हराया था। हेजार्ड मैन ऑफ द मैच बने।

 

रेड डेविल्स’ के नाम से मशहूर बेल्जियम विश्व कप के इतिहास में ऐसी चौथी टीम बन गयी है जिसने छह मैच जीते लेकिन विश्व कप उसके हाथ नहीं लगा। पोलैंड (1974, तीसरा), इटली (1990, तीसरा) और हॉलैंड (2010, उपविजेता) के साथ भी पहले ऐसी स्थिति रही थी। बेल्जियम ने चौथे मिनट में ही गोल कर इंग्लैंड को बैकफुट पर धकेल दिया। थॉमस म्यूनियर ने यह गोल किया। म्यूनियर पहले सेमीफाइनल मैच में बाहर थे लेकिन उन्होंने वापसी करते हुए गोल नासेर चाडली के बाई तरफ से दिए नीचे क्रास पर किया। म्यूनियर गोल के सामने ही खड़े थे और उन्होंने बड़ी आसानी से गेंद को गोल में पहुंचा दिया।

माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में हत्या, जेलर सहित चार निलंबित

बेल्जियम ने 12वें मिनट में एक मौका गंवाया जब इंग्लैंड के गोलकीपर जॉर्डन पिकफोर्ड ने केविन डी ब्रूने के शॉट को शानदार तरीके से बचा लिया। 23वें मिनट में इंग्लैंड ने बराबरी का मौका गंवाया। इंग्लैंड के टॉप स्कोरर हैरी केन, जेसे लिंगार्ड, कीरान ट्रिपिर और मार्कस रेशफोर्ड मौकों को गंवाते रहे।

इस्लामी शरीयत अदालतें खुलेंगी देश के हर जिले में, खर्चा करने वालों …

मैच के 82वें मिनट में हेजार्ड ने डी ब्रूने से मिली गेंद को गोल में डाल कर बेल्जियम को 2-0 से आगे कर दिया और बेल्जियम ने अपनी बढ़त बरकरार रखते हुए तीसरा स्थान अपने नाम कर डाला।

हैलमेट पहनने से विरोध कर रहे सिख अकाली दल