Categories
Results

Download sample paper CBSE board : सीबीएसई बोर्ड परीक्षा तैयारी के लिए यहां से डाउनलोड करें सैंपल पेपर

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) की 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाएं 15 फरवरी से चल रही हैं। परीक्षा में अच्छा स्कोर करने के लिए सैंपल पेपर हल कर सकते हैं। इससे प्रश्नों के प्रकार आदि का पता चलेगा। सैंपल पेपर इन वेबसाइट्स से प्राप्त कर सकते हैं।

 

10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के आयोजन से कुछ महीने पहले सैंपल पेपर जारी किए जाते हैं। BYJU’S परीक्षा की तैयारी के लिए ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है। वेबसाइट के साथ-साथ इसका एप भी उपलब्ध है। छात्र यहां से बोर्ड परीक्षाओं के लिए सैंपल पेपर डाउनलोड कर सकते हैं। सैंपल पेपर के साथ-साथ मार्किंग स्कीम भी डाउनलोड कर सकते हैं।

mycbseguide.com
बोर्ड परीक्षा की तैयारी और सैंपल पेपर के लिए mycbseguide.com भी लोकप्रिय वेबसाइट है। यह सभी विषयों के लिए फ्री में स्टडी मैटेरियल और सैंपल पेपर ऑफर करती है। 10वीं बोर्ड परीक्षाओं के लिए फ्री में और पेड दोनों तरह से सैंपल पेपर मिलते हैं। वेबसाइट पर पिछले कई सालों के सैंपल पेपर सॉल्यूशन के साथ उपलब्ध हैं।

Vedantu
Vedantu ऑनलाइन ट्यूटरिंग प्लेटफॉर्म है। छात्रों को स्टडी मैटेरियल के साथ-साथ सैंपल पेपर ऑफर करती है। CBSE 10वीं और 12वीं के लिए सैंपल पेपर पर उपलब्ध हैं, जिन्हें फ्री डाउनलोड किया जा सकता है। यहां पिछले साल के प्रश्न पत्र आदि भी उपलब्ध हैं। साथ ही यहां से NCERT सॉल्यूशन भी प्राप्त कर सकते हैं।

डाउनलोड करें सैंपल पेपर
बोर्ड परीक्षा की और भी अच्छी तैयारी करने के लिए tiwariacademy.com से सभी विषयों के सैंपल पेपर डाउनलोड कर सकते हैं। यहां पिछले कई साल के सैंपल पेपर उपलब्ध हैं। इसके साथ ही मार्किंग स्कीम, पिछ्ले साल के प्रश्न पत्र और सॉल्यूशन भी प्राप्त कर सकते हैं। NCERT Textbooks सॉल्यूशन भी हैं।

बोर्ड सैंपल पेपर
cbse बोर्ड भी अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर cbseacademic.nic.in पर सैंपल पेपर जारी करता है। छात्र आधिकारिक वेबसाइट से फ्री में सैंपल पेपर डाउनलोड कर सकते हैं।

Categories
National

विज्ञान की मदद से नया भारत केे निर्माण करेगे, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

जालंधर| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विज्ञान की मदद से नया भारत केे निर्माण का आह्वान करते हुए गुरुवार को देश के वैज्ञानिकों से ‘इज ऑफ लिविंग’ पर तेजी सो काम करने को कहा ताकि भारत दुनिया में विज्ञान के क्षेत्र में नेतृत्व कर सके।

मोदी ने यहां लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी में 106वें भारतीय विज्ञान कांग्रेस के उद्घाटन के मौके पर कहा कि देश ने विज्ञान के क्षेत्र में काफी प्रगति की है लेकिन नये भारत के सपने के लिए अभी काफी कुछ करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि ‘इज ऑफ डूईंग बिजनेस’ की तरह ही ‘इज ऑफ लिविंग’ पर भी तेजी से काम करना होगा। उन्होंने कृषि पैदावार बढ़ाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सेंसर टेक्नॉलॉजी, ड्रोन और विग डाटा का पैकेज तैयार करने की भी अपील की|

प्रधानमंत्री ने वैज्ञानिकों से बच्चों का बेहतर स्वास्थ्य सुनिश्चित करने, संवेदनशील संस्थानों की साइबर सुरक्षा अभेद्य बनाने तथा कम बारिश वाले इलाकों में सूखा प्रबंधन की नयी तकनीक पर काम करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि इन सवालों के जवाब खोजने होंगे। विज्ञान को आम लोगों के जीवन से जोड़ना होगा।

मोदी ने कहा,“अब रूकने, किसी के लिए इंतजार करने का वक्त नहीं है। अब हमें दुनिया में नेतृत्व लेना होगा। सरकार हर तरह की मदद के लिए प्रतिबद्ध है। हमें विज्ञान की मदद से नया भारत बनाने की दिशा में काम करना चाहिए।

 

Categories
National

राज्य सभा के बने चार नए सदस्य

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने उत्तर प्रदेश के दलित नेता राम शकल, जाने माने विचारक प्रो. राकेश सिन्हा, प्रख्यात प्रस्तरशिल्पी रघुनाथ महापात्रा और सुप्रसिद्ध शास्त्रीय नृत्यांगना सोनल मानसिंह को राज्यसभा का नया सदस्य मनोनीत किया है।एक सरकारी विज्ञप्ति में आज यहां बताया गया कि संविधान के अनुच्छेद 80 के तहत प्रधानमंत्री की सलाह पर राष्ट्रपति ने राज्यसभा के सदस्य के रूप में इन चार लोगों को मनोनीत किया है।

rajaysbha mamber
rajaysbha mamber

राष्ट्रपति को साहित्य, विज्ञान, कला या समाजसेवा के क्षेत्र में काम करने वाले या कोई विशिष्ट योग्यता रखने वाले 12 व्यक्तियों को संविधान में अनुच्छेद 80(1)(ए) सहपठित अनुच्छेद 80(3) के तहत राज्यसभा का सदस्य मनोनीत करने का अधिकार है।इस समय आठ मनोनीत सदस्य हैं और चार स्थान रिक्त हैं।इन चारों की नियुक्तियों से सभी रिक्तियां पूरी हो गयी हैं। राम शकल उत्तर प्रदेश के जाने पहचाने समाजसेवी और किसान नेता हैं जिन्होंने अपना जीवन दलित समुदाय के कल्याण के लिए समर्पित किया है।उनकी पहचान किसानों, मज़दूरों एवं प्रवासियों की दिक्कतों को लेकर संघर्ष करने वाले नेता के रूप में है।वह उत्तर प्रदेश के रॉबर्ट्सगंज से तीन बार लोकसभा सदस्य रह चुके हैं।

 आँध्र के पूर्व मुख्यमंत्री किरण कुमार रेड्डी कांग्रेस मेंलौटे

राकेश सिन्हा एक प्रतिष्ठित लेखक हैं।वह दिल्ली स्थित थिंक टैंक इंडिया पॉलिसी फाउंडेशन के संस्थापक एवं दिल्ली विश्वविद्यालय के मोतीलाल नेहरू कॉलेज में प्रोफेसर हैं।वह भारतीय सामाजिक विज्ञान अनुसंधान परिषद के सदस्य हैं।वह अनेक समाचार पत्रों में नियमित स्तंभ लेखन का भी कार्य करते हैं।रघुनाथ महापात्र अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त प्रस्तरशिल्पी हैं।पत्थरों पर उनकी कारीगरी का सिलसिला 1959 से शुरू हुआ है।वह दो हजार से अधिक छात्रों को प्रशिक्षित कर चुके हैं।

यह भी दखिये- तीस सितम्बर तक प्रदेश को खुले में शौच मुक्त बनाया जाये: चौधरी

उन्होंने पुरी के भगवान जगन्नाथ मंदिर के सौंदर्यीकरण में योगदान दिया है।संसद के केन्द्रीय कक्ष में ग्रे पत्थर पर सूर्यदेव की प्रतिमा तथा पेरिस के बुद्ध मंदिर में लकड़ी पर भगवान बुद्ध की प्रतिमा को उन्होंने ही उकेरा है। सोनल मानसिंह भारतीय शास्त्रीय नृत्यकला की मशहूर कलाकार है।वह छह दशकों से भरतनाट्यम एवं ओडिसी का प्रदर्शन करती रहीं हैं।वह नृत्यनिर्देशिका, शिक्षिका और सामाजिक कार्यकर्ता भी है।उन्होंने दिल्ली में 1977 में सेंटर फॉर इंडियन क्लासिकल डाँसेज़ की स्थापना की थी।

 मायावती और अखिलेश ने किया था नौकरियों का सौदा: भाजपा