Categories
Results

Download sample paper CBSE board : सीबीएसई बोर्ड परीक्षा तैयारी के लिए यहां से डाउनलोड करें सैंपल पेपर

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) की 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाएं 15 फरवरी से चल रही हैं। परीक्षा में अच्छा स्कोर करने के लिए सैंपल पेपर हल कर सकते हैं। इससे प्रश्नों के प्रकार आदि का पता चलेगा। सैंपल पेपर इन वेबसाइट्स से प्राप्त कर सकते हैं।

 

10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के आयोजन से कुछ महीने पहले सैंपल पेपर जारी किए जाते हैं। BYJU’S परीक्षा की तैयारी के लिए ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है। वेबसाइट के साथ-साथ इसका एप भी उपलब्ध है। छात्र यहां से बोर्ड परीक्षाओं के लिए सैंपल पेपर डाउनलोड कर सकते हैं। सैंपल पेपर के साथ-साथ मार्किंग स्कीम भी डाउनलोड कर सकते हैं।

mycbseguide.com
बोर्ड परीक्षा की तैयारी और सैंपल पेपर के लिए mycbseguide.com भी लोकप्रिय वेबसाइट है। यह सभी विषयों के लिए फ्री में स्टडी मैटेरियल और सैंपल पेपर ऑफर करती है। 10वीं बोर्ड परीक्षाओं के लिए फ्री में और पेड दोनों तरह से सैंपल पेपर मिलते हैं। वेबसाइट पर पिछले कई सालों के सैंपल पेपर सॉल्यूशन के साथ उपलब्ध हैं।

Vedantu
Vedantu ऑनलाइन ट्यूटरिंग प्लेटफॉर्म है। छात्रों को स्टडी मैटेरियल के साथ-साथ सैंपल पेपर ऑफर करती है। CBSE 10वीं और 12वीं के लिए सैंपल पेपर पर उपलब्ध हैं, जिन्हें फ्री डाउनलोड किया जा सकता है। यहां पिछले साल के प्रश्न पत्र आदि भी उपलब्ध हैं। साथ ही यहां से NCERT सॉल्यूशन भी प्राप्त कर सकते हैं।

डाउनलोड करें सैंपल पेपर
बोर्ड परीक्षा की और भी अच्छी तैयारी करने के लिए tiwariacademy.com से सभी विषयों के सैंपल पेपर डाउनलोड कर सकते हैं। यहां पिछले कई साल के सैंपल पेपर उपलब्ध हैं। इसके साथ ही मार्किंग स्कीम, पिछ्ले साल के प्रश्न पत्र और सॉल्यूशन भी प्राप्त कर सकते हैं। NCERT Textbooks सॉल्यूशन भी हैं।

बोर्ड सैंपल पेपर
cbse बोर्ड भी अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर cbseacademic.nic.in पर सैंपल पेपर जारी करता है। छात्र आधिकारिक वेबसाइट से फ्री में सैंपल पेपर डाउनलोड कर सकते हैं।

Categories
National

CBSE Board Exam: इंटरनल असेसमेंट में लाने ही होंगे छह नम्बर, अन्यथा फेल कर दिए जाएंगे

CBSE ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा देने जा रहे छात्रों के लिए सत्र 2019-20 के परीक्षा पैटर्न में बदलाव किया है। जिन विषयों में प्रैक्टिकल व इंटरनल असेसमेंट नहीं होता था, उनमें से ज्यादातर में इंटरनल असेसमेंट लागू कर दिया गया है। यह 20 अंकों का होगा। बोर्ड परीक्षार्थियों को पास होने के लिए इनमें छह अंक लाने होंगे।
बोर्ड ने 10वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए थ्योरी, प्रोजेक्ट और इंटरनल असेसमेंट में न्यूनतम व अधिकतम अंक लाने की सूची जारी की है। सर्कुलर के मुताबिक प्रोजेक्ट और प्रैक्टिकल परीक्षा लेने के लिए बोर्ड द्वारा परीक्षक नियुक्त किया जाएगा। इंटरनल असेसमेंट स्कूल के शिक्षक ही करेंगे।

 

 

10वीं कक्षा में पास होने के लिए प्रत्येक विषय में प्रैक्टिकल व थ्योरी में मिलाकर 33 प्रतिशत अंक ही लाने होंगे, लेकिन 12वीं कक्षा में प्रैक्टिकल, थ्योरी और इंटरनल असेसमेंट में अलग-अलग 33 फीसद अंक लाने होंगे। 12वीं में हिंदी, अंग्रेजी, गणित आदि विषयों की परीक्षा 100 अंक की होती थी। अब इनमें भी 20 अंकों का इंटरनल असेसमेंट कराया जाएगा। जिन विषयों की प्रैक्टिकल परीक्षा 70 अंकों की होगी, उनमें न्यूनतम 23 अंक और 30 अंकों की परीक्षा में कम से कम नौ अंक लाने अनिवार्य होंगे।
सीबीएसई परीक्षा नियंत्रक के अनुसार बदले परीक्षा पैटर्न को लेकर सभी स्कूलों को सूचित कर दिया गया है। प्री-बोर्ड परीक्षा भी इसी पैटर्न पर ली जाएगी, ताकि विद्यार्थी बोर्ड परीक्षा के लिए तैयार हो सकें। प्री- बोर्ड परीक्षा के लिए टाइम टेबल जारी कर दिया गया है। 16 से 30 दिसंबर तक 10वीं व 12वीं की प्री-बोर्ड परीक्षाएं होंगी। विद्यालयों को निर्देश दिया गया है कि प्री-बोर्ड परीक्षाएं दो शिफ्टों के बजाय एक शिफ्ट में कराएं।

Categories
National

बच्चों के दिमाग से गणित के भय को दूर करने के लिए एक समिति गठित -जावडेकर

सरकार ने स्कूली बच्चों के दिमाग से गणित के भय को दूर करने के लिए एक समिति गठित की है । यह जानकारी मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसन्धान प्रशिक्षण परिषद की वार्षिक सभा की बैठक के बाद पत्रकारों को दी। उन्होंने बताया कि एनसीआरटी की वार्षिक सभा की बैठक में दो महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये। राष्ट्रीय आकलन सर्वेक्षण से यह बात सामने आयी थी कि छात्रों के मन में गणित को लेकर भय व्याप्त रहता है , उसे दूर करने के लिए गुजरात के शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह मनुभा चुडासमा की अध्यक्षता में एक समिति गठित की गयी है जो तीन महीने के भीतर अपनी रिपोर्ट देगी। इस समिति में शिक्षाविद भी होंगे।

जावडेकर ने बताया कि सेवारत शिक्षकों के प्रशिक्षण में और सुधर लाने के लिए तेलंगाना के शिक्षा मंत्री कादियान श्रीहरि की अध्यक्षता में एक गठित की गयी है जिसमें शिक्षाविद और अधिकारी होंगे। उन्होंने कहा कि बैठक में सभी राज्यों के शिक्षा मंत्रियों ने शिक्षा के क्षेत्र में उठाये गए क़दमों का स्वागत किया। उन्होंने कहा,“ हमने सर्वशिक्षा अभियान को समग्र शिक्षा के रूप में शुरू किया है जिसका सबने स्वागत किया।इसके अलावा कस्तूरबा गांधी बालिका योजना छठी से आठवीं की जगह बढाकर बारहवीं तक कर दिया गया। इस साल हमने शिक्षा का बज़ट बीस प्रतिशत बढाया और अगले साल फिर बीस प्रतिशत बढ़ायेंगे तथा हर साल इसी तरह बढ़ाते रहेंगे।

उन्होंने बताया कि हर स्कूल खेल उपकरण खरीदने के लिए पांच से दस हज़ार सालाना दिए जायेंगे। अब हर स्कूल में पुस्तकालय खोले जायेंगे जिसके लिए पांच हज़ार से बीस हज़ार दिए जायेंगे और स्कूलों के लिए समग्र फण्ड चौदह हज़ार से पचास हज़ार होती थे उसे बढाकर 25 हज़ार से एक लाख रुपये किया गया है। विशेष लड़कियों के लिए दो सौ रुपये मासिक छात्रवृति दी जायेगी तथा छात्रों को किताबें के लिए ढाई सौ से चार सौ किये गए हैं। यूनिफार्म के लिए चार सौ से बढाकर छह सौ रुपये कर दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि इस साल एनसीआरटी ने छह करोड़ किताबें छपी हैं जबकि गत वर्ष एक करोड़ किताबें छपी थी। गत वर्ष दो हज़ार स्कूलों ने किताबों के लिए अग्रिम बुकिंग की थी इस बार साधे तीन हज़ार स्कूलों ने यह बुकिंग करायी। उन्होंने बताया कि दिल्ली में एन सी आर टी के 94 वेंडर हैं अब एक नया स्टाल शास्त्री एन सी आर टी का खुलेगा।