Categories
Crime

delhi police getting alert: मिलते रहे अलर्ट फिर भी हाथ बांधे खड़ी रही पुलिस

delhi police getting alert:  खुफिया एजेंसियों ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा शुरू होने से पहले दिल्ली पुलिस को कम से कम छह बार अलर्ट भेजा गया था। भाजपा नेता कपिल मिश्रा के भड़काऊ बयान के दौरान पुलिस को ये अलर्ट भेजे गए थे और इलाके में पुलिस बल की तैनाती बढ़ाने को कहा गया था। लेकिन पुलिस कार्रवाई में नाकाम रही और हिंसा पूरे इलाके में फैल गई।

हिंसा से पहले बढ़ा तनाव

शनिवार रात को जाफराबाद में लगभग 500 महिलाएं नागरिकता कानून (CAA) के विरोध में सड़क पर धरने पर बैठ गईं थीं। विरोध में भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने CAA समर्थकों से रविवार दोपहर तीन बजे मौजपुर चौक पर इकट्ठा होने को आह्वान किया।
मिश्रा तय समय पर चौक पर पहुंचे और समर्थकों की मौजूदगी में पुलिस को चेतावनी दी कि वो तीन दिन के अंदर सड़के खाली कराएं नहीं तो उन्हें खुद सड़कों पर उतरना पड़ेगा।

मिश्रा के जाने के बाद पत्थरबाजी

भाषण देने के बाद कपिल मिश्रा इलाके से चले गए। उनके जाने के बाद CAA समर्थकों और विरोधियों में पत्थरबाजी शुरू हो गई। पहले पत्थरबाजी किसने की, ये अभी तक साफ नहीं है। रविवार को देर शाम तक पत्थरबाजी की खबरें आती रहीं। अगले दिन सोमवार को हिंसा ने बड़ा रूप ले लिया और ये दंगे में बदल गया जो तीन दिन तक चलता रहा। दिल्ली पुलिस के हिंसा रोकने में नाकाम पर गंभीर सवाल उठे हैं।

इस समय भेजा गया पहला अलर्ट

‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ की रिपोर्ट के अनुसार, स्पेशल ब्रांच और खुफिया इकाई ने वायरलेस रेडियो के जरिए उत्तर-पूर्व जिले के पुलिस अधिकारियों को कई अलर्ट भेजे।
पहला अलर्ट दोपहर 1:22 बजे के बाद भेजा गया जब मिश्रा ने ट्वीट कर लोगों को मौजपुर चौक पर जमा होने को कहा था। दोनों गुटों में टकराव की आशंका को देखते हुए खुफिया इकाई ने स्थानीय पुलिस को इलाके में सतर्कता बढ़ाने को कहा था।

पत्थरबाजी शुरु होने के बाद आए बाकी अलर्ट

जब इलाके में दोनों गुटों के बीच पत्थरबाजी हुई और भीड़ इकट्ठा होने लगी, तब भी स्पेशल पुलिस और खुफिया इकाई की तरफ से पुलिस को कई अलर्ट भेजे गए थे। हालांकि पुलिस ने इन अलर्ट पर किसी भी तरह की लापरवाही बरतने की बात से इनकार किया है।
एक पुलिस अधिकारी ने टाइम्स आॅफ इंडिया से कहा, अलर्ट मिलने के बाद सभी आवश्यक कदम उठाए गए। इसी कारण एक वरिष्ठ अधिकारी मिश्रा के साथ था और उसने ये सुनिश्चित किया कि वो जल्द से जल्द इलाके से बाहर जाएं। इन प्रयासों के बावजूद CAA विरोधियों ने मिश्रा के समूह पर पत्थरबाजी शुरू कर दी।

Categories
National

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने किया इतना महान काम छह वर्ष की इस मासूम बच्ची के लिए

नयी दिल्ली । मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शनिवार को दिल्ली के उपनगर द्वारका में दुष्कर्म पीड़ित छह वर्ष की मासूम से मिलने सफदरजंग अस्पताल पहुंचे।

छह वर्ष की मासूम के साथ मंगलवार को द्वारका में फुसलाकर पड़ोस के ही एक व्यक्ति ने दुष्कर्म किया। बच्ची की हालत गंभीर है और उसका सफदरजंग अस्पताल में उपचार चल रहा है। दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की मदद से गिरफ्तार कर लिया है।

अस्पताल में मासूम बालिका का हालचाल और उसके परिजनों से मुलाकात के बाद केजरीवाल ने कहा दिल्ली सरकार पीड़ित के परिवार को दस लाख रुपए की आर्थिक मदद देगी। उन्होंने कहा बालिका का उपचार कर रहे डाक्टरों से मिलकर जानकारी ली है। बालिका का स्वास्थ्य अब स्थिर है और वह खतरे से बाहर है।

मुख्यमंत्री ने कहा दिल्ली सरकार पीड़ित बालिका के परिवार को कानूनी मदद के लिए एक वकील की सेवाएं मुहैया करायेगी।गौरतलब है कि शुक्रवार को दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल भी बालिका से मिलने अस्पताल गई थीं।

Categories
Off Beat

यूपी महोत्‍सव में इस बीजेपी सांसद ने कांग्रेस-AAP के नेताओं को दी गालीया

पश्चिमी दिल्ली से भाजपा सांसद प्रवेश सिंह वर्मा ने यूपी महोत्‍सव में कांग्रेस-AAP नेताओं को बहुत गालीया देकर हंगामा खड़ा कर दिया,सांसद के भाषण पर कार्यक्रम में मौजूद लोगों ने उनका खूब विरोध किया। विवाद इतना ज्यादा बढ़ गया कि सांसद को अपना भाषण बीच में ही विराम देना पड़ा | भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा दिल्ली के यूपी महोत्सव कार्यक्रम में जनता को संबोधित करने के लिए पहुंचे। इस कार्यक्रम में इन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल के अलावा कांग्रेस नेताओं पर खूब तंज कसे। यह तक की गालियां तक दे डालीं। इस पर कार्यक्रम में मौजूद लोगों ने उनका विरोध करना शुरू कर दिया। प्रवेश सिंह वर्मा ने नेताओं के खिलाफ ऐसे शब्दों का इस्तेमाल किया जिन्हें यहां लिखा भी नहीं जा सकता

संबोधन में सांसद ने कहा कि पहले के कांग्रेस सांसदों पर खूब आरोप लगते थे मगर साढ़े चार साल के उनके कार्यकाल पर सवाल नहीं उठा सकता। उन्होंने कहा कि पिछले सांसद पूर्वांचल के थे उन्होंने कुछ नहीं किया। मगर वह खुद पूर्वांचल के नहीं हैं मगर उन्होंने 40 छठ घाटों का निर्माण करवाया। इस दौरान प्रवेश वर्मा अपना आपा खो गए और विपक्षी नेताओं को अपशब्द कहने लगे।

इस दौरान एक शख्स सांसद के समीप पहुंच गया और उनसे दिल्ली में सीलिंग पर बोलने को कुछ कहा। इसपर भी सांसद भड़क गए और शख्स के पूछा कि क्या उनके यहां सील लगी है। सांसद के इस बयान के बाद भी काफी विवाद हुआ। हालांकि तब मामले को किसी तरह संभाल लिया गया। प्रवेश वर्मा पूर्व मुख्यमंत्री साहिब सिंह वर्मा के बेटे हैं। साल 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के महाबल मिश्रा को हराते हुए पश्चिमी दिल्ली से चुनाव जीता था। इससे पहले वह महरौली से विधायक से चुने जा चुके हैं।

Categories
National

अरविंद केजरीवाल ने मेजर अमित सागर के परिजनों को एक करोड़ रूपए की सहायता राशि का चेक सौंपा

नयी दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जनवरी 2017 में कश्मीर के सोनमर्ग में भीषण हिमस्खलन के दौरान ड्यूटी पर देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले मेजर अमित सागर के परिजनों को आज एक करोड़ रूपए अनुदान राशि का चेक सौंपा।

 Arvind Kejriwal

इस दाैरान उनके साथ राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत और स्थानीय विधायक जगदीप सिंह भी थे।दिल्ली सरकार ने पिछले माह मेजर सागर के अलावा दिल्ली पुलिस और दमकल विभाग के ऐसे कईं कर्मियों को एक करोड़ रूपए देने की घोषणा की थी जिन्होंने ड्यूटी पर रहते हुए देश की सेवा के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी थी।मेजर सागर 115वीं इन्फैंट्री बटालियन महार रेजीमेेेेंट की आतंकवाद निरोधक शाखा में थे और उनकी तैनाती सोनमर्ग में थी और वह 25 जनवरी 2017 को हुए भीषण हिमस्खलन की चपेट में आ गए थे।

Categories
National

अरविंद केजरीवाल पर युवक ने मिर्ची पाउडर फेंका, बाद में गरमाया माहौल

नयी दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर दिल्ली सचिवालय में मंगलवार को एक शख्स के कथित रूप से मिर्ची पाउडर फेंकने को लेकर सियासत शुरू हो गयी है। आम आदमी पार्टी (आप) ने आरोप लगाया है कि हमलावर को केंद्र की भाजपा सरकार का समर्थन है, वहीं राजौरी गार्डन से विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने इस घटना को ‘केजरीवाल का स्वयं रचित ड्रामा’ करार दिया है।सुरक्षाकर्मियों ने मिर्ची पाउडर फेंकने वाले व्यक्ति को पकड़ लिया। उसका नाम अनिल शर्मा बताया जा रहा है। मुख्यमंत्री की आंख में मिर्ची पाउडर गिरा है और धक्का.मुक्की के दौरान केजरीवाल का चश्मा भी टूट गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री दिल्ली सचिवालय कार्यालय में आये हुए थे और बैठक के लिए अपने चैंबर में जा रहे थे। इसी दौरान चैंबर के बाहर खड़े युवक ने उन पर मिर्ची पाउडर फेंका। युवक इसे एक डिब्बी में लाया था। पुलिस ने युवक को पकड़ लिया है और उसे दिल्ली सचिवालय से कुछ ही दूरी पर स्थित आईपी एक्सटेंशन थाने ले जाया गया है। घटना अपराह्न करीब दो बजे की बताई जा रही है।

आम आदमी पार्टी (आप) ने इसे घातक हमला करार देते हुए कहा है कि दिल्ली पुलिस ने मुख्यमंत्री की सुरक्षा में गंभीर चूक की है। पार्टी ने कहा है कि दिल्ली में मुख्यमंत्री तक सुरक्षित नहीं है।सिरसा ने कहा,“ पहले भी हम केजरीवाल के ऐसे नाटक देख चुके हैं। उनके ऊपर पहले स्याही अथवा जूता फेंका गया, यह भी उनके पैदा किये गये विवाद थे।

अब सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए यह योजना बनाई गयी जिससे कि मीडिया का ध्यान उनकी ओर आकर्षित हो सके।”उन्होंने कहा, “ दिल्ली सचिवालय में उनकी अपनी सुरक्षा व्यवस्था है और कोई भी व्यक्ति बिना पास के अंदर घुस नहीं सकता।”इस घटना के बाद आप पार्टी के प्रवक्ता राघव चड्ढा और सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया कि यह कृत्य भाजपा की केंद्र की सरकार के समर्थन से हुआ है। दोनों ने कहा, “ भाजपा की केंद्र सरकार ऐसा माहौल पैदा कर रही है जिससे समाज विरोधी तत्व मुख्यमंत्री केजरीवाल पर हमला करें और इन्हें केंद्र सरकार का संरक्षण मिला हुआ है।”दोनों ने कहा, “ यदि ुख्यमंत्री सुरक्षित नहीं हैं और उनकी हत्या का प्रयास होता है तो आम आदमी कैसे सुरक्षित हो सकता है।”

भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस घटना की कड़ी भर्त्सना की है। उन्होंने कहा कि नाराजगी कितनी भी हो ऐसे व्यवहार को कभी उचित नहीं कहा जा सकता है।

Categories
National

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली में नहीं है सुरक्षित

नयी दिल्ली । मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर दिल्ली सचिवालय में मंगलवार को एक शख्स ने मिर्ची पाउडर फेंक दिया।

 Arvind Kejriwal

सुरक्षाकर्मियों ने मिर्ची पाउडर फेंकने वाले व्यक्ति को पकड़ लिया। उसका नाम अनिल शर्मा बताया जा रहा है। मुख्यमंत्री की आंख में मिर्ची पाउडर गिरा है और धक्का.मुक्की के दौरान केजरीवाल का चश्मा भी टूट गया।प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री दिल्ली सचिवालय कार्यालय में आये हुए थे और बैठक के लिए अपने चैंबर में जा रहे थे। इसी दौरान चैंबर के बाहर खड़े युवक ने उन पर मिर्ची पाउडर फेंका।

युवक इसे एक डिब्बी में लाया था। सुरक्षा कर्मियों ने युवक को पकड़ लिया है और उसे दिल्ली सचिवालय से कुछ ही दूरी पर स्थित आईपी एक्सटेंशन पुलिस थाने ले जाया गया है। घटना अपराह्न करीब दो बजे की बताई जा रही है।आम आदमी पार्टी (आप) ने इसे घातक हमला करार देते हुए कहा है कि दिल्ली पुलिस ने मुख्यमंत्री की सुरक्षा में गंभीर चूक की है। पार्टी ने कहा है कि दिल्ली में मुख्यमंत्री तक सुरक्षित नहीं है।

Categories
National

माेदी, राहुल के धार्मिक स्थलाें में जाने पर पर केजरीवाल का हमला

नयी दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 2019 के लोकसभा चुनावों से पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के धार्मिक स्थलों पर जाने को लेकर तंज कसते हुए रविवार को कहा कि ‘राष्ट्र’ निर्माण मंदिर मस्जिद से नहीं बल्कि लोगों को स्कूल, अस्पताल, सड़कें, बिजली और पानी देने से बनेगा।

 

 Arvind Kejriwal

 

केजरीवाल ने हिंदी में एक ट्वीट में कहा,“राहुल जी मंदिरों में घूम रहे हैं, मोदी जी आजकल मस्जिदों में घूम रहे हैं।राष्ट्र निर्माण मंदिर मस्जिद से नहीं बल्कि लोगों को स्कूल, अस्पताल, सड़कें, बिजली, पानी देने से बनेगा। स्कूल ,उच्च शिक्षण संस्थान और विश्वस्तरीय शोध संस्थान ही 21वीं सदी के भारत के मंदिर और मस्जिद हैं।”गौरतलब है कि मोदी शुक्रवार को मध्य प्रदेश के इंदाैर में स्थित सैफी मस्जिद में दाऊदी बोहरा समाज द्वारा मुहर्रम के अवसर पर आयोजित अशरा मुबारक कार्यक्रम में शामिल हुए थे।गांधी हाल ही में कैलाश मानसराेवर की यात्रा कर लौटे हैं।

Categories
National

पुलिसकर्मियों को ठुल्ला कहने के मामले में केजरीवाल बरी

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी की एक अदालत ने दिल्ली पुलिस को ‘ठुल्ला’ कहे जाने के आपराधिक मानहानि के मामले में आम आदमी पार्टी के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सोमवार को बरी कर दिया।

 

अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल ने कांस्टेबल अजय कुमार तनेजा की याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि शिकायतकर्ता केजरीवाल की टिप्पणी से सीधे प्रभावित नहीं हुआ है। इसलिए मानहानि की यह शिकायत विचारणाीय नहीं है।

[divider style=”solid” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

Categories
National

दिल्ली में 40 सेवाओं की घर-घर आपूर्ति शुरू

नयी दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सरकारी सेवाओं को जनता के द्वार तक पहुंचाने के मकसद से 40 सेवाओं की ‘डोरस्टेप डिलीवरी’ यानी घर-घर आपूर्ति की सोमवार को शुरुआत की।

 

केजरीवाल ने सुबह दिल्ली सचिवालय में उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया अौर अन्य कैबिनेट मंत्रियाें के साथ इस योजना का शुभारंभ किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा, “ यह एक क्रांतिकारी कदम है। आप 1076 पर कॉल करके अपने द्वार पर सेवाएं पा सकते हैं। अगर फोन लाइन व्यस्त मिलती है तो कंपनी आपको वापस कॉल करेगी। ये सेवाएं रात 10 बजे तक उपलब्ध होंगी। इसके लिए 50 रुपये की फीस का भुगतान करना होगा। ”

ये 40 सेवाएं राजस्व, समाज कल्याण, परिवहन, दिल्ली जल बोर्ड, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति, श्रम और अनुसूचित जाति/ जनजाति/ अन्य पिछड़ा वर्ग/ अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के अंतर्गत हैं।

दिल्ली सरकार इस योजना के जरिये इन विभागों की 40 सेवाओं को सीधा आवेदक के घर तक पहुंचाएगी। सरकार इसके तहत जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, विवाह पंजीकरण, जन्म एवं मृत्यु पंजीकरण और दिव्यांगों को स्थायी पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन, नया पानी या सीवर कनेक्शन लगवाने या कटवाने के लिए आवेदन जैसी कुल 40 सेवाएं देगी हालांकि सिसोदिया का दावा है कि बाद में ये सेवाएं बढ़ाकर 70 तक की जा सकती हैं। फिलहाल जिन 40 सेवाओं को घर-घर पहुंचाया जा रहा है, साल 2017 में उनके लिए करीब 25 लाख आवेदन आये थे।

Categories
National

अंशु प्रकाश के साथ मारपीट मामले में आरोप पत्र दाखिल

नयी दिल्ली ।दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ कथित तौर पर मारपीट के मामले में पुलिस ने आरोप पत्र दाखिल कर दिया।

 Anshu Prakash

पटियाला हाउस कोर्ट में दाखिल आरोप पत्र में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के अलावा 11 विधायकों को आरोपी बनाया गया है। यह मामला इसी वर्ष 19 फरवरी का है। मुख्य सचिव को मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर बैठक के लिए बुलाया गया था। आरोप है कि मुख्यमंत्री की मौजूदगी में प्रकाश के साथ मारपीट की गयी। मेडिकल रिपोर्ट में मुख्य सचिव के साथ मारपीट की पुष्टि भी हुई थी। पुलिस ने इस मामले में मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री से पूछताछ भी की थी। आम आदमी पार्टी के दो विधायकों को गिरफ्तार भी किया गया था। इस मामले ने बहुत तूल पकड़ा था। नौकरशाही और सरकार के बीच आरोप-प्रत्यारोप भी लगाये गये। दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता ने आरोपपत्र दाखिल हो जाने पर केजरीवाल से इस्तीफे की मांग की है गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल हो गया है, इसके मद्देनजर उन्हें नैतिक आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए।

 

[divider style=”dashed” top=”10″ bottom=”10″]

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज