Categories
sports

WWE Super Showdown 2020: सउदी अरब में लड़ेंगे ये विश्व​प्रसिद्ध पहलवान, (WWE) डब्ल्यू डब्ल्यू ई कराएगी ये मुकाबला

रेसलिंग प्रमोशन कंपनी WWE सुपर शोडाउन नाम का शो 27 फरवरी को सउदी अरब में आयोजित करेगी। यह साल में एक बार कराया जाता है और शुरुआत 2018 में हुई थी। इसका आयोजन सउदी अरब में होगा।

सुपर शोडाउन पीपीवी की शुरुआत 2018 में हुई थी और पहला ऑस्ट्रेलिया में हुआ था। पीपीवी को इस कारण शुरु कराया गया था ताकि WWE इवेंट्स अमेरिका से बाहर ले जाए जा सके। 2019 में इसे सउदी अरब ले जाया गया।
इस साल का सबसे बड़ा मुकाबला यूनिवर्सल चैंपियनशिप का होगा। यूनिवर्सल चैंपियन द फीन्ड का सामना दिग्गज रेसलर गोल्डबर्ग से होगा। मुकाबला पीपीवी का मेन इवेंट होगा।
ब्रॉक लेसनर और रिकोशे के बीच भी WWE मुकाबला होगा। रोमन रेंस और बैरन कॉर्बिन स्टील केज मुकाबले में आमने-सामने होंगे। रेसलर हल्क होगन के आने की भी उम्मीद है।
सुपर शोडाउन के मेन इवेंट 2018 में ट्रिपल एच और द अंडरटेकर के बीच हुआ था। अंडरटेकर का साथ केन ने और ट्रिपल एच का साथ शॉन माइकल्स ने दिया था। 2019 के मेन इवेंट में गोल्डबर्ग और अंडरटेकर के बीच फाइट हुई थी।
WWE ने 2014 में पहली बार सउदी अरब में अपना शो किया था। 2018 में सउदी सरकार ने WWE के साथ 10 साल का कॉन्ट्रैक्ट साइन किया था। इसके तहत हर साल WWE सउदी अरब में कम से कम एक पीपीवी होगा। WWE का सउदी अरब में पहला शो ग्रेटेस्ट रॉयल रंबल हुआ था। 2019 क्राउन ज्वेल में पहली बार महिला रेसलर्स को मैच लड़ने की छूट मिली थी।

Categories
sports

अब चुटकी बजाते ही विश्व के बड़े पहलवानों को अखाड़े में चित्त कर देंगे भारत के योद्धा

ऑस्ट्रेलिया के मशहूर स्पोर्ट्स न्यूट्रिशन मुसाशी ने भारत के विशाल खेल बाजार में अपनी मजबूत जगह बनाने के उद्देश्य के साथ दिग्गज भारतीय एथलीटों की उपस्थिति में गुरूवार को भारत में अपना कदम रख दिया।
टोक्यो में 2020 में होने वाले ओलम्पिक खेलों में बस एक साल से भी कम का समय रह गया है और ऐसे समय में मुसाशी ने भारतीय बाजार उतरने की घोषणा की। राजधानी स्थित ऑस्ट्रेलियाई उच्चायोग में आयोजित एक कार्यक्रम में यह घोषणा की गयी। मुसाशी पिछले 30 वर्षों से अधिक समय से ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड का नंबर एक स्पोर्ट्स न्यूट्रिशन ब्रांड है। इस अवसर भारतीय गोलकीपर पीआर श्रीजेश, ड्रैग फ्लिकर रुपिंदर पाल सिंह, हरमनप्रीत सिंह और हार्दिक, कुश्ती से अमित धनखड़, क्रिकेटर राहुल शर्मा और पूर्व हॉकी खिलाड़ी जुगराज सिंह तथा भारतीय जूनियर हॉकी टीम को विश्व चैंपियन बनाने वाले कोच हरेंद्र सिंह मौजूद थे। इन खिलाड़ियों ने कहा, “हम मुसाशी और स्मार्ट ब्रांड्स के प्रति एकजुटता दिखाने के लिए यहां हैं। हम अपने करियर की शुरुआत से ही उनके उत्पादों का उपयोग कर रहे हैं और हमें अपने खेल को बेहतर बनाने में इनसे मदद मिली है।

स्मार्ट ब्रांड्स प्रोडक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड 2005 से भारतीय खेलों के विभिन्न क्षेत्रों को बढ़ावा दे रहें है जिसमें क्रिकेट, बैडमिंटन, कुश्ती, हॉकी, टेनिस और कई अन्य खेल महासंघ और खेल अकादमी इनके ग्राहक हैं। लॉन्च पर स्मार्ट ब्रांड्स प्रोडक्ट्स के सीईओ राज मखीजा ने कहा, “अब भारत में न्यूट्रास्यूटिकल और हेल्थ सप्लीमेंट्स के लिये एफएसएसएआई के नए नियमों के आयात में हमें गर्व और खुशी हैं कि भारत में आधिकारिक तौर पर हम मुसाशी ब्रांड के भागीदार बन रहे हैं। खेल पोषण के लिए भारत में एक बड़ा बाजार है और इसके जरिये हम भारतीय एथलीटों को अपने ओलंपिक सपनों को पूरा करने में मदद दे सकते हैं।”
श्रीजेश ने कहा, “मुझे खुशी है कि मुसाशी ने आखिरकार भारतीय बाजार में प्रवेश किया। उनके उत्पाद मेरी पहली पसंद रहे है और इससे मुझे अपने कई फिटनेस लक्ष्य हासिल करने में मदद मिली है। उन्होंने स्मार्ट ब्रांड्स के साथ हाथ मिलाया है जिससे उन्हें भारतीय बाजार में बेहतर पहुंच मिलेगी। मैं बहुत खुश हूं कि मुझे इस लॉन्च समारोह का हिस्सा बनाया गया।

विटको हेल्थ और मुसाशी के सीईओ क्रेग कियेर्नी ने कहा,“हम ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड दोनों में खेल पोषण बाजार के लगभग 30 फीसदी हिस्से के साथ सबसे बड़े प्रोटीन-आधारित खेल पोषण ब्रांड हैं। हम भारतीय बाजार में प्रवेश कर रहे हैं क्योंकि हम मानते हैं कि खेलों में भारत एक बढ़ता हुआ राष्ट्र है। हम ओलंपिक, राष्ट्रमंडल खेलों और अन्य कई खेल प्रतियोगिताओं के लिए भारतीय एथलीटों की तैयारियों में भूमिका निभाना चाहते हैं और भारत की खेल और फिटनेस की सफलता की कहानी को बढ़ाना चाहते हैं।

Categories
sports

ये हैं देश के सर्वश्रेष्ठ तलवारबाज, एक ही वार से उड़ा देते हैं भैंसे की गर्दन

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित टी टी नगर स्टेडियम में देश के विभिन्न राज्यों की 24 टीमों के करीब 700 खिलाड़ी 9 से 12 नवम्बर आयोजित 27वीं राष्ट्रीय जूनियर फेंसिंग चैम्पियनशिप में प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। यह पहला अवसर है जब खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा फेंसिंग फेडरेशन आफ इंडिया (एफएफआई) के सहयोग से राष्ट्रीय जूनियर फेंसिंग चैम्पियनशिप का आयोजन किया जा रहा हैं।

संचालक खेल और युवा कल्याण डाॅ. एस.एल. थाउसेन ने बताया कि चैम्पियनशिप में अंडर-20 वर्ग में करीब 700 बालक एवं बालिका खिलाड़ी एवं आफिशियल्स की भागीदारी को दृष्टिगत रखते हुए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई हैं। एफएफआई द्वारा आर्मी (सर्विसेस) पुणे के दीपक सिंह को काॅम्पटीशन डायरेक्टर नियुक्त किया गया है। चार दिवसीय इस प्रतियोगिता में सेबरे, ईपी और फोइल इवेन्ट में खिलाड़ी प्रतिभा प्रदर्शन करेंगे। इसके तहत तीस-तीस स्वर्ण और रजत तथा 60 कांस्य सहित कुल 120 पदक दाव पर रहेंगे। चैम्पियनशिप का शुभारंभ 9 नवम्बर को खेल संचालक डाॅ. एस. एल. थाउसेन के मुख्य आतिथ्य में होगा।

जूनियर राष्ट्रीय तलवारबाजी प्रतियोगिता के लिए चयनित मध्य प्रदेश की टीम में फोइल इवेन्ट बालक वर्ग:-टी. साई संकेत, हर्षल भक्ते, लक्ष्य श्रीवास, आम यादव, फोईल इवेन्ट बालिका वर्ग:- अरूणिमा श्रीवास्तव, निशा तायडे, अचिन्त कौर, संजना चैपड़ा, ईपी इवेन्ट बालक वर्ग:- अंकुर जैन, शंकर पाण्डे, आयुष निबोरिया, आर्यन सेन शामिल है। इसी तरह ईपी इवेन्ट बालिका वर्ग:- खुशी दभाड़े, प्रज्ञा सिंह, अंजली बाथरे, पूजा दांगी, सेबरे इवेन्ट बालक वर्ग:-सात्विक सिंह, सौरभ मिश्रा, शाश्वत कटारे, आयुष्मान, सेबरे इवेन्ट बालिका वर्ग:- पूर्णा सिंह, रक्षा राजा, चारू, अंशिका भाग लेगी।

Categories
sports

अखाड़े में धड़ाम से गिरे भारत के साजन भनवाल, पदक भी खोया

भारत के साजन भनवाल हंगरी के बुडापेस्ट में चल रही अंडर-23 विश्व कुश्ती प्रतियोगिता में ग्रीको रोमन के 77 किग्रा वर्ग में शनिवार को कांस्य पदक मुकाबले में हार गए जबकि रवि को 97 किग्रा के रेपेचेज में उतरने का मौका मिल गया है।

77 किग्रा वर्ग में विश्व जूनियर चैंपियनशिप में तीन पदक हासिल कर चुके साजन ने क्वालिफिकेशन में अमेरिका के जैसी एलेक्जेंडर पोर्टर को 6-0 से, प्री क्वार्टरफाइनल में अजरबैजान के तुन्जय वजीरजादे को 3-1 से और क्वार्टर फाइनल में स्वीडन के पेर एल्बिन ओलोफसन को 6-2 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई जहां उन्हें जापान के कोदई सकुराबा से नजदीकी संघर्ष में 4-5 से हार का सामना करना पड़ा। साजन को फिर कांस्य पदक मुकाबले में तुर्की के सेरकान अकोयुन ने एकतरफा अंदाज में 10-1 से हरा दिया।
55 किग्रा में अर्जुन हलाकुरकी को क्वार्टर फाइनल में रूस के एमिन सेफरशायेव से जबरदस्त संघर्ष में 12-14 से हार का सामना करना पड़ा। सेफरशायेव फाइनल में पहुंच गए जिससे अर्जुन को रेपेचेज में उतरने का मौका मिला लेकिन वह अर्मेनिया के नोरायर हखोयान से 2-10 से हार गए।

63 किग्रा में रजीत को प्री क्वार्टर फाइनल में ही अर्मेनिया के स्लाइक गल्स्त्यान से 0-8 से हार का सामना करना पड़ा। गल्स्त्यान के क्वार्टरफाइनल में हार जाने से रजीत की चुनौती भी समाप्त हो गयी। 87 किग्रा में सुनील कुमार प्री क्वार्टर फाइनल में वह यूक्रेन के सेमेन नोविकोव से 0-8 से हार गए। नोविकोव फाइनल में पहुंच गए लेकिन सुनील रेपेचेज में क्रोएशिया के इवान हुकलेक से 3-6 से हार गए। 130 किग्रा में दीपक पुनिया को क्वालिफिकेशन में अमेरिका के डेविड ओर्नडोर्फ़ से 1-6 से हार का सामना करना पड़ा। अमेरिकी पहलवान के प्री क्वार्टर फाइनल में हारने के साथ ही दीपक बाहर हो गए। 60 किग्रा में सचिन राणा को क्वालिफिकेशन में चीन के लिगाओ काओ से 2-5 से , 67 किग्रा में रविंदर को तुर्की के हासी कराकस से प्री क्वार्टरफाइनल में 1-2 से, 72 किग्रा में राहुल को क्वालिफिकेशन में रूस के मैगोमेद यारबिलोव से क्वालिफिकेशन में 0-8 से, 82 किग्रा में नीरज को क्वालिफिकेशन में सर्बिया के ब्रांको कोवसेविच से 1-10 से और 97 किग्रा में रवि को जार्जिया के जियोर्जी मेलिया से प्री क्वार्टरफाइनल में 0-8 से हार का सामना करना पड़ा। लेकिन मेलिया के फाइनल में पहुंचने से रवि को रेपेचेज में उतरने का मौका मिल गया है।

Categories
sports

गरीब देशों से ज्यादा खराब हालत में हैं इस महाशक्ति के खेल मैदान, चोटी के खिलाड़ी ने दिखाया आईना

अर्जेंटीना के कप्तान लियोनल मैसी ने ब्राजील में कोपा अमेरिका फुटबाल टूर्नामेंट के लिये तैयार किये गये मैदानों की स्थिति पर नाराज़गी जताते हुये उसकी आलोचना की है।


अर्जेंटीना ने रविवार को कतर के खिलाफ 2-0 से जीत दर्ज करने के बाद कोपा अमेरिका के नॉकआउट चरण में प्रवेश कर लिया था। मैसी के अलावा मैदानों के खस्ता हाल की अधिकारियों ने भी शिकायत की है जिसमें अर्जेंटीना के मैनेजर लियोनल स्कालोनी और उरूग्वे के स्ट्राइकर लुईस सुआरेज़ शामिल हैं।

मैसी ने एरेना डो ग्रेमियो में हुये मैच के बाद पत्रकारों से कहा, हमने यहां पर जिन भी मैदानों पर मैच खेले हैं उनकी हालत बहुत खराब है। अर्जेंटीना के लिये दोनों हाफ में लॉटारो मार्टिनेज़ और सर्जियो एगुएरो ने गोल किये। मैसी के लिये भी मैच के 72वें मिनट में गोल का बढ़िया मौका आया जब उन्होंने 10 यार्ड की दूरी से हवा में गेंद को उछाला जो स्टैंड की ओर चला गया।

पांच बार के बैलन डी ओर विजेता ने कहा, इस तरह की पिच पर खेलना काफी मुश्किल होता है। आपको हमेशा गेंद को रोकना पड़ता है। इस जीत के बाद क्वार्टरफाइनल में जगह बनाने के लिये अर्जेंटीना और वेनेजुएला के बीच माराकाना स्टेडियम में मुकाबला खेला जाएगा। मैसी ने कहा, हमें सभी की खुशी के लिये इस तरह का प्रदर्शन करना होगा, साथ ही यह हमारे आत्मविश्वास को बनाये रखने के लिये भी जरूरी है ताकि अहम पड़ाव पर हम बेहतर खेल सकें।

Categories
sports

करोड़ों भारतीयों की उम्मीदों का भार लिये विश्व कप सेमी फाइनल में उतरेगी विराट एंड कंपनी

मैनचेस्टर । करोड़ों भारतीयों की उम्मीदों का भार लिये विराट एंड कंपनी मंगलवार को आईसीसी विश्वकप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ खिताबी मुकाबले का टिकट हासिल करने के लक्ष्य के साथ उतरेगी।

दो बार की चैंपियन भारतीय टीम विश्वकप के इतिहास में पहली बार सेमीफाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड से भिड़ेगी जबकि दूसरे सेमीफाइनल में क्रिकेट इतिहास के दो सबसे प्रबल प्रतिद्वंद्वियों ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच मुकाबला होगा।

भारत विराट की कप्तानी में पहली बार अाईसीसी विश्वकप में उतर रहा है और उसका प्रदर्शन लाजवाब रहा है। ग्रुप चरण में टीम ने केवल एक मैच हारा था और वह आखिरी ग्रुप मैच में श्रीलंका पर सात विकेट की जीत और दक्षिण अफ्रीका की ऑस्ट्रेलिया पर 10 रन की रोमांचक जीत के चलते तालिका में शीर्ष स्थान पर रहा है।

वहीं आईसीसी वनडे रैंकिंग में भी भारतीय टीम शीर्ष पर है और उसकी मौजूदा फार्म को देखते हुये उम्मीद है कि विराट एंड कंपनी विश्वकप-2019 में चैंपियन बनकर लौटेगी। यह 12वां विश्वकप है और यह पहला मौका है जब भारतीय टीम सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से खेलेगी। भारत का इस विश्वकप में लीग दौर में न्यूजीलैंड के साथ मुकाबला बारिश के कारण धुल गया था इस तरह दोनों टीमें मैदान पर पहली बार आमने-सामने होंगी और मुकाबला भी सेमीफाइनल का होगा।

भारत विश्वकप के सेमीफाइनल में सातवीं बार पहुंचा है जबकि न्यूजीलैंड की टीम आठवीं बार सेमीफाइनल में पहुंची है। केन विलियम्सन की कप्तानी में न्यूजीलैंड टीम ने भी विश्वकप अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन एक समय ग्रुप चरण में शीर्ष पर रहने के बाद वह पटरी से उतर लय खो बैठी। अंतत: उसने चौथे नंबर पर रहकर 11 अंकों के साथ उसने अंतिम चार में जगह बनाई। टीम के लिये राहत की बात रही कि पाकिस्तानी टीम उससे रनरेट में पिछड़ गयी जिसके उसी के समान 11 अंक थे।

Categories
sports

विराट कोहली ने बनाया ऐसा रिकॉर्ड, सचिन और लारा को भी छोड़ा पीछे

मैनचेस्टर । भारतीय कप्तान विराट कोहली मैदान पर आते हैं तो नये रिकार्ड बनना आम बात है, आईसीसी विश्वकप में गुरूवार को वेस्टइंडीज़ के खिलाफ भी उन्होंने नया कीर्तिमान अपने नाम करते हुये सबसे तेज़ 20 हज़ार अंतरराष्ट्रीय रन बना लिये।

विराट ने मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर और वेस्टइंडीज़ के ब्रायन लारा को इस मामले में पीछे छोड़ा और सबसे तेज़ 20 हज़ार अंतरराष्ट्रीय रनों का रिकार्ड अपने नाम कर लिया। विराट ने विंडीज़ के खिलाफ विश्वकप मैच में अपने 37 रन पूरे करने के साथ ही यह रिकार्ड बना लिया।

भारतीय कप्तान ने 20 हजार रनों का यह आंकड़ा 417वीं पारी में पा लिया है। उन्होंने करियर में अब तक 131 टेस्ट, 224 वनडे और 62 ट्वंटी 20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। वहीं सचिन और लारा ने यह आंकड़ा अपनी 453 पारियों में छुआ था।

30 वर्षीय विराट ने इससे पहले इसी विश्वकप में सबसे तेज़ 11 हज़ार एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय रन बनाने का रिकार्ड भी अपने नाम किया था, उन्होंने इस मामले में भी सचिन को पीछे छोड़ा था। विराट ने पाकिस्तान के खिलाफ ओल्ड ट्रेफर्ड में यह कारनाम किया था।

Categories
sports

आईसीसी विश्वकप के सेमीफाइनल में पुहंचकर ये बोले आस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच

लंदन, । आईसीसी विश्वकप के सेमीफाइनल में आठवीं बार पहुंचने के बाद गत चैंपियन आस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच ने कहा है कि विश्व की नंबर एक टीम तथा मेजबान इंग्लैंड को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचना उनके लिये बहुत सुखद है।

इंग्लैंड के खिलाफ कल 64 रन की महत्वपूर्ण जीत हासिल करने के बाद फिंच ने कहा कि उनकी टीम इस टूर्नामेंट में संतुलित होकर खेल रही है और वह बहुत अच्छी लय में है। फिंच ने कहा, “हमने अब तक अच्छा क्रिकेट खेला है।

टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में क्वालीफाई करना इस विश्वकप का पहला पड़ाव है। मैं टीम के प्रदर्शन से काफी खुश हूं। हम सही दिशा में खेल रहे हैं। इंग्लैंड मजबूत टीम है और वह बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों ही क्षेत्रों में इतनी आसानी से हमें आगे बढ़ने नहीं दे सकती थी।”

Categories
sports

146 रन की साझेदारी से दिया 307 का लक्ष्य, भारत के पडोसी को वर्ल्ड कप में मिली शिकस्त

ओपनर डेविड वार्नर (107) के शानदार शतक और उनकी कप्तान आरोन फिंच (82) के साथ 146 रन की ओपनिंग साझेदारी के बदौलत गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान के खिलाफ आईसीसी विश्वकप मुकाबले में बुधवार को 49 ओवर में 307 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बना लिया।

ऑस्ट्रेलियाई टीम अपने ओपनरों के शानदार साझेदारी के दम पर एक समय 350 से ऊपर के स्कोर की तरफ बढ़ती नजर आ रही थी लेकिन पाकिस्तानी गेंदबाजों खासतौर पर बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने शानदार वापसी करते हुए ऑस्ट्रेलिया के बढ़ते कदमों को रोक दिया। आमिर ने 10 ओवर में 30 रन पर पांच विकेट झटके। आमिर ने पहली बार वनडे में पांच विकेट लिए और अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।

वार्नर और फिंच ने 22.1 ओवर में 146 रन की बेहतरीन साझेदारी की। एक समय ऑस्ट्रेलिया ने 34वें ओवर तक दो विकेट पर 223 रन बना लिए थे लेकिन इसके बाद बल्लेबाज पाकिस्तान की प्रभावशाली गेंदबाजी के सामने अपने विकेट गंवाते चले गए और पूरी टीम 49 ओवर में सिमट गयी। ऑस्ट्रेलिया ने अपने आखिरी छह विकेट मात्र 30 रन जोड़कर गंवाए। ऑस्ट्रेलिया को पिछले मुकाबले में भारत से हार का सामना करना पड़ा था।

वार्नर ने अपना 15वां शतक बनाया और 111 गेंदों पर 107 रन की पारी में 11 चौके और एक छक्का लगाया। वार्नर का पाकिस्तान के खिलाफ पिछले तीन मैचों में यह लगातार तीसरा शतक है।

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान फिंच ने पाकिस्तान के खिलाफ अपने शानदार प्रदर्शन को विश्वकप में बरकरार रखते हुए 84 गेंदों पर 82 रन में छह चौके और चार छक्के लगाए। फिंच ने विश्वकप से पहले पाकिस्तान के खिलाफ पांच मैचों की सीरीज में 116, नाबाद 153, 90, 39 और 53 रन बनाए थे।

Categories
sports

दो पूर्व चैंपियन ट्रॉफी के लिए आज करेंगे मुकाबला

पांच बार के चैंपियन ऑस्ट्रेलिया और एक बार के विजेता पाकिस्तान के बीच बुधवार को यहां होने वाले आईसीसी विश्व कप मुकाबले में विस्फोटक संघर्ष होने की पूरी उम्मीद है।

ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान ने विश्व कप से पहले पांच वनडे मैचों की सीरीज यूएई में खेली थी जिसे ऑस्ट्रेलिया ने 5-0 से जीता था। इस आधार पर ऑस्ट्रेलिया इस मैच में जीत के दावेदार के रूप में उतरेगा लेकिन भारत से पिछले मुकाबले में मिली हार के बाद उसे सतर्क रहना होगा। ऑस्ट्रेलिया ने अपने तीन मैचों में अब एक दो मैच जीते हैं और उसके खाते में चार अंक हैं।

पाकिस्तान के तीन मैचों में एक जीत, एक हार और एक रद्द परिणाम से तीन अंक हैं। पाकिस्तान ने वेस्ट इंडीज से पहले मुकाबले में मिली हार के बाद शानदार वापसी करते हुए विश्व की नंबर एक टीम और मेजबान इंग्लैंड को 14 रन से चौंकाया था। पाकिस्तान का श्रीलंका के खिलाफ मुकाबले बारिश के कारण बिना कोई गेंद फेंके रद्द हो गया था।

दोनों टीमों के लिए चौथा मैच ख़ासा महत्वपूर्ण है और इस मैच के परिणाम से उनके लिए आगे की दिशा तय होगी। गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को भारत के खिलाफ मिली से झटका लगा है और पाकिस्तान अपने पड़ोसी की जीत से मनोवैज्ञानिक लाभ ले सकता है। भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 352 रन बनाकर चैंपियन टीम को दबाव में ला दिया था जबकि पाकिस्तान ने 348 रन बनाकर इंग्लैंड पर दबाव बनाया था।