Warning: session_start(): open(/var/cpanel/php/sessions/ea-php56/sess_dedbb8ab4eae51975ee1d57978c5de5a, O_RDWR) failed: No such file or directory (2) in /home/mobilepenews/public_html/wp-content/plugins/accelerated-mobile-pages/includes/redirect.php on line 218

Warning: session_start(): Failed to read session data: files (path: /var/cpanel/php/sessions/ea-php56) in /home/mobilepenews/public_html/wp-content/plugins/accelerated-mobile-pages/includes/redirect.php on line 218
शिवराज सिंह चौहान के राज्य में सहरिया महिलाओं हो रहा है भ्रम - Mobile Pe News
Thursday , December 12 2019
Home / National / शिवराज सिंह चौहान के राज्य में सहरिया महिलाओं हो रहा है भ्रम

शिवराज सिंह चौहान के राज्य में सहरिया महिलाओं हो रहा है भ्रम

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा सहरिया आदिवासी महिलाओं एवं बच्चों को पौष्टिक आहार उपलब्ध कराने के लिए शिवपुरी जिले के कोलारस में की गई घोषणा के बाद संबंधित विभाग ने आदिवासी महिलाओं के लिए एक हजार रुपए प्रतिमाह भेजना शुरू कर दिया है।

madhya pradesh woman

यह भी देखिये-देखिये क्यों लगाए जा रहे है राजधानी दिल्ली में दस लाख पौधे

हालांकि इसके बाद कुछ सहरिया आदिवासी महिलाओं को यह भ्रम हो गया कि परिवार की सभी महिलाओं को प्रतिमाह यह राशि मिलेगी, जबकि यह राशि परिवार की मुखिया महिला को दी जानी है। आदिम जाति कल्याण विभाग के जिला प्रभारी संयोजक वीके माथुर के अनुसार सहरिया आदिवासी महिलाओं के बैंक खातों में एक हजार रुपए प्रतिमाह के हिसाब से मई तक की राशि डाल दी गई है, जबकि जून की राशि उन्हें जल्द ही खातों में पहुंचाई जाने वाली है।

यह भी देखिये-स्विस बैंक में भारतीयों के धन में बढ़ोत्तरी का जवाब दे मोदी सरकार: मायावती

उन्होंने बताया कि एक परिवार के आदिवासी बच्चों एवं महिलाओं को पौष्टिक आहार उपलब्ध कराने के लिए यह राशि परिवार की मुखिया महिला को दी जाती है। कई मामलों में परिवार की महिलाओं को यह भ्रम हो गया कि सभी महिलाओं को यह राशि मिलेगी, जानकारी सामने आने पर इस बारे में समझाइश दी गई है। उन्होंने बताया कि अब यह राशि प्रतिमाह हितग्राही के खातों में पहुंचाए जाने की व्यवस्था की गई है।

यह भी देखिये-अर्थव्यवस्था पर नहीं दिख रहा जीएसटी का असर: कांग्रेस

शहरी आदिवासी महिलाओं के लगभग 35 हजार खाते इस योजना के तहत आने की संभावना है। सहरिया आदिवासी जनजाति शिवपुरी जिले में पाई जाती है। यह लोग जंगलों के आसपास ही रहना पसंद करते हैं तथा आज भी अधिकतर सहरिया अपनी पुरानी परंपराओं से जुड़े रहते हैं। इनकी महिलाओं एवं बच्चों में कुपोषण के कई बार मामले सामने आते हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने फरवरी में इन महिलाओं को यह राशि देने की घोषणा की थी।

(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

mobilepenews@gmail.com

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

About panchesh kumar

Check Also

Railway RRC NER Gorakhpur Apprentice Online Form 2019: बेरोजगारों के लिए खुशखबरी, रेलवे में हजारों पदों पर होंगी नियुक्तियां, आवेदन ऐसे करें

Railway RRC NER Gorakhpur Apprentice Online Form 2019: पूर्वोत्तर रेलवे में एक्ट अपरेंटिस प्रशिक्षण 2019-20 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *