Subscribe for notification
Categories: National

पहले अर्थव्यवस्था बिगाड़ी, अब राज्यों को कर्ज देने का लालच दे रही है मोदी सरकार

नई दिल्ली. दिन-​प्रतिदिन हमलों की धार तेज कर रहे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद की बैठक से पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर तीखा हमला किया है। उन्होंने मुख्यमंत्रियों से सवाल किया है कि वह मोदी के लिये लोगों के भविष्य को क्यों गिरवी रख रहे हैं। जीएसटी परिषद की बैठक में राज्यों के राजस्व बकाया के मुद्दे पर चर्चा होनी है।

राहुल का आरोप है कि पहले केंद्र सरकार ने जीएसटी लागू होने के बाद राज्यों को राजस्व नुकसान की भरपाई का वादा किया था, लेकिन जब प्रधानमंत्री मोदी और कोरोना महामारी की वजह से अर्थव्यवस्था ठप हो गई तो वह वादे से पीछे हट रहा है।

पीएम मोदी की वजह से अर्थव्यवस्था चरमरा गई

केरल के वायनाड से सांसद गांधी ने ट्वीट करके जीएसटी के पांच बिंदुओं को केन्द्र में रखकर मोदी सरकार को घेरा। उन्होंने कहा, केंद्र सरकार ने राज्यों से जीएसटी राजस्व देने का वादा किया था। कोरोना संकट और पीएम मोदी की वजह से अर्थव्यवस्था चरमरा गई। पीएम मोदी ने 1.4 लाख करोड़ की कर रियायत कॉरपोरेट को दे दी और स्वयं के लिए 8400 करोड़ के दो विमान खरीदे। अब केंद्र के पास राज्यों को देने के लिए कोई पैसा नहीं है। वित्त मंत्री राज्यों से कहती हैं कि उधार ले लीजिए। गांधी ने सवाल करते हुए लिखा, मुख्यमंत्री लोगों का भविष्य मोदी के पास क्यों गिरवी रख रहे हैं?