Wednesday , October 16 2019
Home / National / बेटी का मान रखकर पुत्र की उपाधी जीते जी किया अपना मृत्यु भोज

बेटी का मान रखकर पुत्र की उपाधी जीते जी किया अपना मृत्यु भोज

एक तरफ देश में लड़कियों पर अत्याचार की घटनाएं सामने आ रही है वहीं कई लोग ऐसे भी है जो बेटे से ज्यादा बेटियों का मान रखते हैं और उन्हें बेटे के समान दर्जा देते हैंएक ऐसा ही मामला राजस्थान के अलवर जिले के थानागाजी में सामने आया है जहाँ अशिक्षित समझे जाने वाले समाज की एक निसंतान दम्पत्ति ने एक मिसाल कायम की है।

baby
यह भी देखिये –जोधपुर के कारागार में लगेगी तीसरी अदालत

इस दंपति ने एक लड़की को गोद लेकर अपने जीते जी अपना मृत्यु भोज कर गोद ली बेटी के पगड़ी बांधी।ये सभी कार्यक्रम समाज के लोगो के सामने किये गए।थानागाजी कस्बे में रहने वाले समाज सेवी बलधारी रेबारी व सायर रैबारी ने आज जीवित मृत्युभोज करके बेटी को गोद लिया व सर्व समाज के सामने पगड़ी बाँध कर अपने पुत्र की उपाधि दी।दम्पति ने बताया कि उनके सन्तान नही है।

यह भी देखिये – शीना बोरा मर्डर केस, मुझे जेल में मारने की साजिश रची जा रही है-इंद्राणी

इसलिए सोमवार को जीवित मृत्युभोज का आयोजन किया व समाज के सामने बेटी को गोद लेकर पगड़ी रस्म करवाई, जिसमें में बालिका सरिता के नाम पांच लाख रुपए की एफडी व चल अचल संम्पति नाम की।बेटी गोद लेने के बारे में बलदारी ने बताया कि बेटा और बेटी में कोई फर्क नहीं होता है।बेटे से ज्यादा बेटी ज्यादा फर्ज अदा करती है।उनका मानना है अगर बेटी नहीं होंगी तो बेटे कहाँ से होंगे।जिस तरह बेटो के भविष्य की चिंता की जाती है उसी तरह बेटियों के भविष्य की भी चिंता माँ बाप को करनी चाहिए।

यह भी देखिये – मानव दिवस का लेबर बजट स्वीकृत किया गया

About Sandeep Kumar

Check Also

अबकी बार कार्बेट जब आएंगे मेहमान, नाचेगा बाघ, गाएगी कोयल, हाथी कराएंगे स्नान

देश के ऐतिहासिक नेशनल जिम कार्बेट पार्क के बिजरानी जोन को मंगलवार को पर्यटकों के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *