Categories
Jobs National

चौकाने वाला खुलासा, सलमान खान को जान से मारने की दी धमकी

Salman Khan Deer Controversy सलमान खान काफी लम्बे समय से कोर्ट की पेशियों से गुजर रहे है। सलमान खान पर चिंकारा हिरण को मारने का मामला उच्चन्यायालय जोधपुर में चल रहा है। सलमान खान ने 1998 में फिल्म “हम साथ-साथ है” में हिरण का शिकार का आरोप लगा था, इस मामले में सैफ अली खान, सोनाली बांद्रे, तब्बू भी आरोप के घरे में आ चुके है।

Salman Khan Deer Controversy
Salman Khan Deer Controversy

यहाँ भी देखिये-दुनिया का नंबर 1 एकीकृत ट्रैक्टर मैन्युफैक्चरिंग प्लांट तैयार किया भारत में जानिए कौनसा

4 जनवरी को सलमान खान को जोधपुर कोर्ट में सुनवाई पर आये थे। दरअसल ये मामला राजस्थान के विश्नोई समाज ने लगाया है। विश्नोई समाज के लोग वन्य प्राणी की हमेशा रक्षा करते है। माना जाता है आज कई साल पहले विशनोई समाज की औरतें हिरण को अपने बच्चे की तरह दूध पिलाती थी, अपने बच्चों की तरह देखभाल करती थी। राजस्थान के जोधपुर के कांकाणी गांव में सलमान की फिल्म सूटिंग में शिकार का मामला था। शिकार को लेकर विश्नोई समाज ने सलमान खान के विरोध रिपोर्ट दर्ज करवा ली, अब सलमान खान कोर्ट के चक्कर में फसे है। 4 जनवरी को लॉरेंस विश्नोई की पेशी थी उसी दौरान लॉरेंस विश्नोई ने सलमान खान को जान से मारने की धमकी दी विश्नोई ने कहा की सलमान खान को यही जोधपुर में मार देंगे, अभी तक तो मैंने कुछ किया नहीं है लेकिन अब सलमान खान को मरुँगा तब पता चलेगा।

यहाँ भी देखिये-निसान ब्रेन-टु-व्हीकल टैक्नोलॉजी ने ड्राइविंग के भविष्य का बदला अंदाज

video credit: ABP news

यहाँ भी देखिये-संसद भवन में स्वामी विवेकानंद के जीवन पर आधारित पपेट शो का आयोजन

लॉरेंस विश्नोई एक अंतरराज्य गैंगस्टर है, विश्नोई पर कई आरोप है। लॉरेंस ने जोधपुर में एक वासुदेव नामक व्यापारी का मर्डर किया तब से विश्नोई पुलिस की कस्टडी में है। विश्नोई मूलतः पंजाब का रहने वाला है। विश्नोई पर राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़ में केस चल रहे है। लॉरेंस के पिता पुलिस में एक कॉन्टेबल है। लॉरेंस दावा कर रहा है की मुझे झूठे मामलों में फंसाया जा रहा है और आरोपों को साबित करने के लिए आज तक अदालत में कोई गवाह पेश नहीं हुआ है। इस धमकी की वजह से सलमान की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

यहाँ भी देखिये- यमुना चैलेंज ट्रॉफी क्रिकेट प्रतियोगिता के फाइनल मैच शिव विहार ने जीता

Categories
Entertainment Jobs

टीवी सीरियल “ये है मोहब्बतें” की ऐक्ट्रेस का बोल्ड सीन वायरल मचा बवाल

एकता कपूर के प्रोडक्शन में बनी अपकमिंग वेब सीरीज “Ragini MMS Return 2.2” का ट्रेलर रिलीज हो गया है। इस फिल्म (Ragini MMS Return 2.2) में “ये हैं मोहब्बतें” में काम कर रही एक्ट्रेस करिश्मा शर्मा का बोल्ड सीन दिखाई दे रहा है। ट्रेलर में करिश्मा का बॉयफ्रेंड सिद्धार्थ गुप्ता बताया गया है। करिश्मा सिद्धार्थ गुप्ता के साथ इंटिमेट होती है, लेकिन बाद में करिश्मा सिद्धार्थ गुप्ता को धोखा देकर दूसरा रिलेशन बनती दिख रही है। इसमें करिश्मा एक कॉलेज में पढाई करने वाली नजर आ रही है।

Ragini MMS Return 2.2
Ragini MMS Return 2.2

 

यहाँ भी देखिये-वसुन्धरा राजे ने महिला सशक्तिकरण तथा डेयरी विकास के लिए नये साल में सौगात दी

एकता कपूर का ये 6 एपिसोड की सीरीज का ये ट्रेलर अब तक का सबसे बोल्ड ट्रेलर माना जा रहा है।

 

यहाँ भी देखिये-अनुष्का ने विराट के साथ पुराने कपड़ें पहने जानिए वजह

इस ट्रेलर को बालाजी के इंस्ट्रा पर शेयर किया गया है। ट्रेलर इतना बोल्ड है की आप इसे परिवार के साथ नहीं देख सकते हो। इस फिल्म में करिश्मा शर्मा लीड रोल में है।

 

यहाँ भी देखिये-बाहुबली के एक्टर की आ रही एक और धांसू फिल्म, पोस्टर हुआ रिलीज

 

इस ट्रेलर से पहले भी इसके टीजर सामने आ चुके है। करिश्मा भी अपने सोशल अकाउंट अपने ब्प्लड सीन शेयर कर रही है। करिश्मा के अलावा इसमें सिद्धार्थ गुप्ता और रिया सेन नजर आ रहे है। इस फिल्म Ragini MMS Return 2.2 की कहानी दो लड़कियों पर आधारित है जो कहि कॉलेज के असामान्य घटनाओं में फस जाती है। दोनों इससे छुटकारा पाने के लिए एक एम एम एस की सीडी को ढूंढने में लग जाती है।

 

यहाँ भी देखिये-सोफिया ने पति के साथ किया बैडरूम वीडियो शेयर, बोला जबरबस्ती बनवाया

 

इस फिल्म के पहले इसके दो पार्ट आ चुके है पहला रागिनी एमएमएस जो 2011 में आया था ये फिल्म हॉरर फिल्म है। दूसरा पार्ट 2014 में रागिनी एमएमएस 2 इस हॉरर फिल्म में सनी लियोनी का ग्लैमरस लुक के कारण चर्चा में आ गई थी, इसी रागिनी एमएमएस 2 में सनी की तरह करिश्मा के बोल्ड सीन के कारण चर्चा में आ रही है।

https://www.instagram.com/p/BdMmSCxjh53/?hl=en&taken-by=karishmasharma22

 

यहाँ भी देखिये-http://www.mobilepenews.com/surwin-married-photo-video/

pic sours:karishmasharma22

Categories
Entertainment Jobs

सोफिया ने पति के साथ किया बैडरूम वीडियो शेयर, बोला जबरबस्ती बनवाया

Sofia Hayat इन दिनों अपने पति के साथ हनीमून इंजॉय कर रही है। बिग बॉस की एक्स कंटेस्टेंट और नन सोफिया हयात इन दिनों पति व्लाद स्टैन्श्यू के साथ इजिप्ट में अपनी हनीमून के चलते चर्चा में हैं। सोफिया ने अपने इंस्टा पर बैडरूम का वीडियो शेयर किया।

Sofia Hayat
Sofia Hayat

यहां भी देखिये-अभिताभ बच्चन ने दुःख नहीं जताया तो फैन्स ने माँगा जवाब

इस विडिओ को देखकर उनके फैन्स काफी गंदे कमेंट्स कर रहे है। Sofia Hayat ने दूसरे दिन एक दूसरी पोस्ट शेयर की और अपनी सफाई में कहा की ये विडिओ मैने अपनी मर्जी से शेयर नहीं किया बल्कि किसी अनजान ने बंदूक की नोक पर कराया। आगे सोफिया ने कहा की काइरो में एक शख्स ने हमें पकड़ लिया, और बन्दुक के जोर पर कहा की हम सबके सामने रोमांस करें।

Sofia Hayat
Sofia Hayat

यहां भी देखिये-बॉलीवुड एक्ट्रेस ने चुपके से की शादी फोटो और वीडियो वायरल

Sofia Hayat
Sofia Hayat

यहां भी देखिये- कैटरीना की हमशक्ल ने इंस्ट्रा पर पेश किये बोल्ड सीन

 

https://www.instagram.com/p/BdS2paTF3cL/

Sofia Hayat
Sofia Hayat

यहां भी देखिये-करीना कपूर की नई फोटो देखकर लोगों के होश उड़ गए

इस विडिओ पर कई लोंगो ने लिखा की अपने प्रसनल समय को सबके साथ शेयर करना अच्छी बात नहीं है और लोगों ने सोफिया को गलियां भी दी। सोफिया ने अपने पति के साथ किश करते हुए भी फोटास शेयर किये। इस फोटोज में समंदर के पास और बेडरूम में किश करते दिख रही है। इन फोटोज और विडिओ ने सोशल मीडिया में सनसनी मचा रखी है।

Sofia Hayat
Sofia Hayat

 

हाल ही में सरकार ने कंडोम पर जो एड टीवी पर आ रहे है उसके समय में परिवर्तन करने को कहा गया है। इस मुद्दे पर सोफिया ने अपना बयान देते हुए कहा की मैं तो इस बात से हैरान हूं कि अचानक यह विषय इतना बड़ा इश्‍यू क्‍यों बनता जा रहा है। इस पर तो हमें खुलकर बात करनी चाहिए, फिर हम विवाद में क्‍यों फंस रहे हैं। जितना इसको लेकर खुलापन रहेगा उतना ही हम अपने बच्चों को सिखा पाएंगे।

https://www.instagram.com/p/BdcQlKqFow4/?taken-by=sofiahayat

View this post on Instagram

English to Egyptian translation lol

A post shared by Sofia Hayat (@sofiahayat) on

 

 

pic sours:Sofia Hayat instragram

Categories
Jobs Results

भाजपा पर बरसे रणदीप सिंह सुरजेवाला जानिए क्या कहा

श्री Randeep Singh Surjewala ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि देश को बदनाम करने वाली और भ्रष्टाचार के झूठे आरोपों को धंधा बना, सत्ता में आने वाली भाजपा के ढोल की पोल आज खुल गई है। झूठ के काले बादल छंट गए और भाजपा द्वारा देश और कांग्रेस को बदनाम करने वाली साजिश का पर्दाफाश आज सीबीआई की स्पेशल अदालत के फैसले से हो। आखिर में सच्चाई की जीत हुई। भाजपा खासतौर से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी और सबको ज्ञान बांटने वाले वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली जी और भाजपा के पीठ्ठू श्री विनोद राय जी, इन तीनों द्वारा और भाजपा के नेताओं द्वारा जो षड़यंत्रकारी चक्रव्यूह बुना गया था, आज उसका सीना चिर कर, महाभारत की तरह सच्चाई अदालत के माध्यम से बाहर आ गई।

Randeep Singh Surjewala
Randeep Singh Surjewala

 

यह सच्चाई देश की सुप्रीम कोर्ट द्वारा मॉनीटर्ड सीबीआई अदालत के 2 जी के निर्णय से आई है, जिसमें पाया गया कि कोई 18 में से एक भी व्यक्ति दोषी नहीं है। क्या अब वो लोग समेत श्री नरेन्द्र मोदी, समेत श्री अरुण जेटली और भाजपा के वो सब लोग जो वर्षों तक झूठे इल्जामों को सत्ता की सीढ़ी बना देश की सत्ता पर काबिज हुए हैं। अब वो देश से माफी मांगेगे? क्या ये सच नहीं कि अब देश के सामने उनकी कलाई खुल गई कि झूठ बोलना, साजिश करना, षड़यंत्र करना भाजपा का असली DNA और चाल,चेहरा और चरित्र है।

Randeep Singh Surjewala

क्या इन षडयंत्रकारों के वो सब सरदार समेत प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी, श्री अरुण जेटली और उनके पिछलग्गू पिठ्ठू श्री विनोद राय उनकी जवाबदेही और जिम्मेदारी निश्चित नहीं की जानी चाहिए? क्या इस देश के 125 करोड़ लोगों से श्री नरेन्द्र मोदी जी, श्री अरुण जेटली जी और भारतीय जनता पार्टी को सार्वजनिक तौर से माफी नहीं मांगनी चाहिए? सच्चाई ये है कि आदरणीय दोस्तों ये पूरा देश आज सुप्रीम कोर्ट मॉनीटर्ड सीबीआई कोर्ट ने निर्णय के बाद उन सब लोगों से, जिन्होंने 2-G को घोटाले का नाम दे, सत्ता की सीढियाँ चढ़ी और देश के उच्चतम पदों पर काबिज हुए। आज उनसे जवाबदेही और जिम्मेवारी मांगने का दिन है। हमें उम्मीद है कि मीडिया के भी वो सब साथी, जो कई बार इस दुष्प्रचार से, इस षड़यंत्र और साजिश से प्रभावित हुए थे, आज वो भी उनसे जवाब मांगने का साहस दिखाएँगे। इसके साथ-साथ जहाँ हम 2-G के फैसले पर जो अदालत का निर्णय आया है, उस पर तसल्ली जाहिर करते हैं। उम्मीद करते हैं कि बजाए ‘खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे’ की तरह भारतीय जनता पार्टी अपना reaction दे और आज भी अपने झूठ, असत्य, साजिश और षड़यंत्र पर अड़ी रहे। समय आ गया है कि वो इस देश को जवाब दें कि 3 साल तक इस देश की बढ़ोतरी, इस देश की कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार के खिलाफ साजिश और इस देश को बदनाम करने का घिनौना षड़यंत्र, क्या केवल उन्होंने सत्ता पाने के लिए किया? क्योंकि अब ये बात जग-जाहिर है, प्रधानमंत्री जी ने पूर्व प्रधानमंत्री जी पर, पूर्व सेना के प्रमुख पर, पूर्व उप-राष्ट्रपति पर इसी प्रकार के उन्होंने पाकिस्तान से मिली भगत के झूठे आरोप लगाए और अब संसद में जवाब देने की बजाए कन्नी काटते घूम रहे हैं। तो चाहे वो 2014 से पहले और चाहे 2014 के बाद, भाजपा का चाल, चेहरा और चरित्र साजिशकारी, षड़यंत्रकारी है और 2-G के सुप्रीम कोर्ट मॉनीटर्ड सीबीआई की अदालत के फैसले से अब ये साबित हो गया है। देश उम्मीद करता है कि कम से कम आज प्रधानमंत्री मोदी जी, वित्त मंत्री अरुण जेटली जी, भारतीय जनता पार्टी के नेता सच्चाई का सामना करेंगे, क्योंकि उनके षड़यंत्रकारी काले बादलों से छंटकर जो सच्चाई निकली है, वो देश के सामने जग-जाहिर है और वो देश से माफी मांगेगे।

एक प्रश्न पर कि इसके बाद आप क्या करेंगे, जनता के पास जाएंगे या कोर्ट जाएंगे, श्री Randeep Singh Surjewala ने कहा कि जनता की अदालत में ये पूरा मामला है और कांग्रेस भी, DMK भी और सब राजनीतिक दल अब देश के 125 करोड़ लोगों से ये जरुर कहेंगे और देश के 125 करोड़ लोग नरेन्द्र मोदी जी, अमित शाह जी से, अरुण जेटली जी से, सुषमा स्वराज जी से और पूरी भाजपा से जिन्होंने 3 साल तक, इस देश की संसद को नहीं चलने दिया, इस देश में बदनामी का एक माहौल पैदा किया, पूरे देश की व्यवस्था को बदनाम किया, देश की संस्थाओं को बदनाम करने का षड़यंत्र किया। विनोद राय के साथ मिलकर जिस प्रकार से भाजपा ने षड़यंत्रकारी खेल, जिससे इस देश की अर्थव्यवस्था को और देश को नुकसान हुआ, उसके लिए मोदी जी और भाजपा को देश को जवाब तो देना ही पड़ेगा।

अरुण जेटली जी द्वारा दिए बयान पर पूछे गए प्रश्न के उत्तर में श्री Randeep Singh Surjewala ने कहा कि एक पुरानी कहावत है – खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे। वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली जी, जो झूठों के सरदार हैं। आज उनकी यही हालत है। क्योंकि झूठों की सरदारी और सरकार की जिम्मेवारी में यही अंतर है, जो सच का आईना आज उनको अदालत ने दिखाया है। हम श्री अरुण जेटली जी से पूछते हैं, कि उनके कार्यकाल में तीन घोटाले CAG सामने लेकर आया। एक 46 हजार करोड़ का घोटाला, जो कांग्रेस ने ऊजागर किया। एक 23 हजार 821 करोड़ रुपए का घोटाला, जो कांग्रेस ने उजागर किया, CAG की रिपोर्ट के आधार पर। और एक जो 4 दिन पहले CAG की रिपोर्ट आई है, जो ढाई हजार करोड़ रुपए का घोटाला CAG ने बताया है स्पेक्ट्रम की recovery में। क्या इसके लिए अरुण जेटली जी जिम्मेवारी लेंगे, क्या जांच करवाएंगे? क्या उन्होंने 43 महीने में इन टेलिफोन स्पेक्ट्रम घोटाले की जांच करवाई, वो पैसा जनता का पैसा recover करवाया?

आज फिर मैं Randeep Singh Surjewala दोहराता हूं कि जब श्री अरुण जेटली जी और श्री नरेन्द्र मोदी जी ने झूठे इल्जामात घड़े, श्री विनोद राय के साथ लकर, तो कांग्रेस ने फिर भी प्रजातंत्र की जवाबदेही को सुनिश्चित करते हुए कार्यवाही की थी। हमने ना केवल मुकदमा दर्ज किया, ना केवल जांच करवाई और उस जांच का आज पटाक्षेप हो गया। पर क्या अरुण जेटली जी और श्री नरेन्द्र मोदी GSPC घोटाला, 20 हजार करोड़ का जो घोटाला, CAG ने बताया है, जो मोदी जी की नाक के नीचे हुआ, उसकी जांच करवाएँगे और मोदी जी की जिम्मेवारी और जवाबदेही सुनिश्चित करेंगे? क्या श्री नरेन्द्र मोदी और श्री अरुण जेटली व्यापम घोटाले में श्री शिवराज सिंह चौहान से इस्तीफा लेंगे? क्या माईनिंग घोटाले और छोटा मोदी घोटाले के अंदर वो वसुंधरा राजे जी से इस्तीफा लेंगे? क्या छत्तीसगढ़ के छत्तीस हजार करोड़ के PDS घोटाले में डॉ. रमन सिंह से इस्तीफा लेंगे? क्या अपने उन सारे मंत्रियों और संत्रियों से इस्तीफा लेंगे, जिनके घोटाले की परतें आए दिन खुल रही हैं? आज जब भारतीय जनता पार्टी भ्रष्टाचार के अंदर ऊपर से नीचे तक लिप्त नजर आती है, तो उनको ‘सावन के अंधे को सबकुछ हरा-हरा नजर आता है’। आज वो सुप्रीम कोर्ट की वित्त मंत्री अवमानना कर रहे हैं। वो स्पेशल कोर्ट सीबीआई के ऊपर प्रश्न चिन्ह खड़ा कर रहे हैं। देश के वित्त मंत्री को ये शोभा नहीं देता। न्यायपालिका, जिसका पूरा का पूरा कैरियर न्यायपालिका के अंदर से देश के वित्त मंत्री तक आया हो, ऐसे सम्मानित व्यक्ति से हम विनम्रता से अनुरोध करेंगे कि देश की सुप्रीम कोर्ट जो हर महीने इस स्पेशल सीबीआई कोर्ट की proceeding को सील कवर में मंगवाती थी और स्पेशल सीबीआई कोर्ट पर इस प्रकार के इल्जामात लगाना बंद करे। अपने षडयंत्र के प्रतिशोध में अब अदालत की प्रक्रिया को इसके अंदर ना संलिप्त करें और सर झुका कर देश से माफी मांगे कि हाँ उन्होंने षड़यंत्र किया था। हाँ मोदी जी और जेटली जी, सुषमा जी और पूरी भाजपाई ताकतों ने मिलकर, इस देश को बदनाम करने की साजिश की थी।

एक अन्य प्रश्न पर कि आप इस मामले को संसद में किस तरह से उठाएंगे, श्री Randeep Singh Surjewala ने कहा कि इस मामले को संसद से सड़क तक भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस और इस देश का हर जागरुक नागरिक लेकर जाएगा। सवाल ये है कि क्या आप तीन साल तक देश की संसद को रोक सकते हैं, केवल क्योंकि आप सत्ता की सीढिय़ों पर चढ़ना चाहते हैं। क्या आप एक साजिश के तहत पूरे देश को बदनाम कर सकते हैं, क्या आप एक साजिश के तहत देश की सारी संस्थाओं पर कीचड़ फेंक सकते हैं? श्री नरेन्द्र मोदी जी और श्री अरुण जेटली जी ने यही किया। उन्होंने एक बड़े ढोल में, झूठ के ढोल में कीचड़ रख लिया और वो कीचड़ फेंकते गए, फेंकते गए, जब तक मीडिया औऱ देश के कुछ लोगों ने उस कीचड़ की बातों पर विश्वास करना शुरु नहीं कर दिया। पर इस प्रकार के ओच्छे और षड़यंत्रकारी इल्जामों का जवाब हमने नहीं दिया। देश की जनता के सामने न्यायपालिका ने स्पष्ट तौर और सच्ची बात सामने रख दी है। इसलिए कम से कम आज जब उनके कीचड़ के ढोल, पोल फट गया है, इसलिए आज तो माफी मांगे और देश से क्षमा मांगे।

एक अन्य प्रश्न के उत्तर में श्री Randeep Singh Surjewala ने कहा कि एक हकीकत ये भी है कि 700 Mhtz का स्पेक्ट्रम जिसकी ऑक्शन सरकार ने लगाई, वो दो बार लगा चुके, एक आदमी भी खरीददार नहीं आया। जब आदरणीय साथी आप स्पेक्ट्रम की बात करेंगे तो उस स्पेक्ट्रम के साथ 5 या 6 महत्वपूर्ण बातें लगातार जुड़ी रहेंगी कि, उस स्पेक्ट्रम की ऑक्शन के बाद जो आम जनमानस है, उसको उसकी क्या लागत आएगी? दूसरी बात उस स्पेक्ट्रम की recovery आप कितने साल में करेंगे? तीसरी बात, उस स्पेक्ट्रम में upfront पैसा आएगा और कितने साल के बाद बाकी की पेमेंट आएगी? जो देश की सुप्रीम कोर्ट ने कहा था, वो ये कहा था कि सारी रिसोर्सिस को जहाँ तक हो सके पब्लिक ऑक्शन कीजिए। हम उससे असहमत नहीं। परंतु भाजपा ने एक धंधा बना कर, भ्रष्टाचार के इल्जामों से सत्ता की सीढ़ी पाई है। इसी 2G की झूठी भ्रष्टाचार की सीढ़ी पर आज नरेन्द्र मोदी जी, प्रधानमंत्री और अरुण जेटली जी, वित्त मंत्री बनकर बैठे हैं। आज वो सीढ़ी नीचे से खिसक गई है। क्योंकि सच्चाई का आईना न्यायपालिका ने सुप्रीम कोर्ट मॉनीटर्ड कोर्ट ट्रायल में उनको दिखाया है। तो क्या आज उनके ढोल की पोल देश के सामने नहीं, तिल का ताड़ और राई का पहाड़ बनाने वाले, झूठे लोगों का षड़यंत्र का आज पर्दाफाश नहीं हो गया? और अगर हो गया तो क्यों वो सामने आकर अपनी जिम्मेवारी से बचकर भाग रहे हैं, बहाने बनाकर?

एक अन्य प्रश्न के उत्तर में श्री Randeep Singh Surjewala ने कहा कि आदरणीय साथी इसलिए मैंने कहा, अब जब भाजपा का षड़यंत्र से अदालत ने पर्दाफाश कर दिया है, पर्दा उजागर कर दिया, जब झूठ के बादल छंट गए, जब साजिश बेनकाब हो गई, तो फिर अरुण जेटली जी और भाजपा का एक ही नारा है, ‘खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे’। किसी तरह से भी आप पूरे मामले को भटकाओ और उलझाओ, परंतु मामला साफ है। ना अदालत पर इल्जाम लगाईए, ना सुप्रीम कोर्ट पर, क्योंकि अगर भ्रष्टाचार हुआ होता तो भ्रष्टाचार आज उजागर हो गया होता। जिसको लेकर आज आप बाछें बिछाए बैठे थे। परंतु आज जब आपका झूठ पकड़ा गया, आज जब आप सरेराह पकड़े गए हैं, कि आपने झूठ और झूठे और षड़यंत्रकारी इल्जामों पर सत्ता की सीढ़ियाँ चढ़ी हैं, तो आज आप झूठ के पीछे उस आवरण में नहीं छुप सकते।

इसी संदर्भ में पूछे गए प्रश्न के उत्तर में श्री Randeep Singh Surjewala ने कहा कि श्री अरुण जेटली आज भी अदालत का फैसला मानने से इंकार करते हैं। क्या वो एक बहुत अच्छे वकील नहीं, क्या उन्हें कानून की परिपाटी की जानकारी नहीं, क्या आज वो आपके सामने आकर जिस प्रकार की मनघढंत और झूठी बाते कर अपनी साजिश पर पर्दा ड़ालने की कोशिश कर रहे हैं, वो निंदनीय नहीं, क्या वो खँडन योग्य नहीं? क्या अरुण जेटली जी को अदालत के निर्णय के आगे सर झुका कर और खासतौर से उस सीबीआई अदालत के आगे, जिसको सुप्रीम कोर्ट ने डे-टू-डे ट्रायल को मॉनीटर किया है, आज जब वो उस पर भी प्रश्नचिन्ह खड़े कर रहे हैं, तो ये खिसियानी बिल्ली नोचे तो है ही, परंतु ये भी है कि ‘नाच ना जाने आंगन टेढ़ा’। आज जब उऩके झूठ पकड़े गए तो वो सब पर इल्जाम लगा रहे हैं। इल्जामों के सरदार भाजपा को ये समझना पड़ेगा कि वास्तविकता सच्चाई थोडी देर छुप सकती है, जब काले बादल झूठ के सामने आते हैं, पर जब सच्चाई का सूर्य, जब उनके षड़यंत्रकारी चक्रव्यहू को तोड़कर निकलता है, तो फिर उसे कोई रोक नहीं सकता। ये महाभारत से लेकर अनंतकाल से लेकर और 2017 तक का शास्वत सत्य है।

एक अन्य प्रश्न के उत्तर में श्री Randeep Singh Surjewala ने कहा कि ना केवल सदन अब मोदी जी अपनी जवाबदेही से बच नहीं सकते। माननीय नरेन्द्र मोदी जी को और उनके सारे मित्र मंडल को समेत श्री अरुण जेटली के अपने झूठे इल्जामों, साजिशों औऱ षड़यंत्र के लिए देश और संसद दोनों को जवाबदेही देनी पडेगी। देश का तीन साल तक एक सोची-समझी पूर्व नियोजित साजिश और षड़यंत्र के तहत भाजपा ने जो नुकसान किया, उसका जवाब उनको देना पड़ेगा। 125 करोड़ लोग, देश की संस्थाएँ और संसद आज मोदी जी से और अरुण जेटली जी से जवाब मांगते हैं।

Categories
Jobs

लड़कियों के इस डांस वीडियो Ghoomar dance को देख करने लगेगें आप भी डांस, देखें वीडियोज़

पद्मावती मूवी का विरोध तो आज पुरे देश में हो रहा है ,विरोध के चलते इसी मूवी का गाना ghoomar dance बहुत ही अच्छी धूम मचा रहा है। घूमर का वीडियो आजकल अपने युवाओं में ज्यादा रास आ रहा है। यूट्यूब पर आये दिन नए- नए वीडियो देखने को मिल रहे है। इस मूवी का विवाद राजपूत करनी सेना ने किया, करनी सेना का कहना है की जो घूमर गाने में दीपिका पादुकोण डांस कर रही है वह डांस पद्मावती माँ नहीं करते थे।

ghoomar dance
ghoomar dance

 

यूट्यूब पर आये दिन लडकिया ghoomar dance गाने पर अपने-अपने अंदाज में डांस कर रही है। ये डांस युवा पीढ़ी पसंद कर रही है, और युवाओ का मनोरंजन कर रहा है।

Source: Deep Brar

लड़कियां ऐसा डांस कर रही है की देखने वालों के होश उड़ जाते है। आजकल ये डांस लड़कियों में देखने का ज्यादा क्रेज है। और ये डांस हर जगह यानी की शादियों में तो धूम मंच रहा है और युवा लड़कियां अपने- अपने अंदाज में डांस कर रही है। कई राजनेताओ के परिवार में भी चल रहा है। सरकार ने इस गाने पर बेन भी लगा दिया है पर मंच पर बहुत झलक रहा है।

इस वीडियो में गर्ल्स राजपूती ड्रेस में ज्यादा पसंद किया जा रहा है ghoomar dance तो लड़कियां राजपूती ड्रेस और गहने उपयोग में ले रहे है। आप जानते की आजकल भरी ड्रेस और गहने काम पहनना पसंद करती है लेकिन फिर भी इस गाने में डांस करने के लिए ये सब कर रही है। वैसे राजपूती ड्रेस और गहने भरी होते है लड़कियां पहने के परेशान हो जाती है। लेकिन घूमर गाने के लिए ये सब सहा जा रहा है।

राजस्थान का लोक नृत्य भी ghoomar dance है। ये नृत्य औरतों के समूह में किया जाता है। राजस्थान का लोकप्रिय नृत्य है। इस नृत्य में राजस्थानी परम्परा निभाई जाती है। राजपूती ड्रेस और गहने ये सब।

Categories
Jobs Results

आंतकवादियों से बढ़ाते प्रकोप का दुःख जताया आनद शर्मा ने

आनंद शर्मा ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि नए साल में मैं पहली बार आपसे मुखातिब हो रहा हूं, इसलिए आप सबको और आपके परिवार को हार्दिक शुभकामनाएँ। नए साल की शुरुआत देश के लिए अच्छी नहीं है, जो घटनाक्रम चला है, उससे गहरी चिंता है, हमारी सुरक्षा की, देश की सुरक्षा की, सीमाओं की सुरक्षा की। और सरकार जो बड़े दावे करती है, देश की जनता को ये आश्वस्त करने में बिल्कुल विफल रही हैं कि Terrorism हमलों से और सीमा पार हमलों से हमारे देश की जनता सुरक्षित है। निरतंर हमले (Terrorism) जारी हैं और हमारी सेना के अफसर और जवान शहीद हो रहे हैं, पुलिसकर्मी शहीद हो रहे हैं।

Terrorism
Anand Sharma

यह भी देखिये-ऐशवर्या बच्चन नजर आ रही है बड़े पर्दे पर, जानिए फिल्म

आज भी सोपोर के अंदर चार पुलिसकर्मी मारे गए और कुछ अन्य घायल हुए। कुछ दिन पहले हमारी सेना के एक मेजर की हत्या हुई। उनके साथ कई जवान भी मारे गए। कोई दिन ऐसा नहीं जा रहा है, जब कहीं, किसी हिस्से के अंदर ऐसा हमला ना हो। सरकार की इसमें जवाबदेही बनती है। माननीय प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री की जवाबदेही बनती है।

यह भी देखिये-अंडर-गारमेंट्स रखने के लिए खर्च किये 60000 पाउंड, जानिए किसने

हमने पहले भी ये प्रश्न किया था कि, 25 दिसंबर के बाद 26 तारीख को बैंकॉक में कौन सी ऐसी बातचीत हुई थी, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल और पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जनरल जांजुआँ के बीच में। अभी तक सरकार ने विपक्ष के नेतृत्व को विश्वास में नहीं लिया है। निरंतर इस सरकार की ये कार्यशैली रही है। पहले भी जब राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मिले हैं, 2015 में भी बैंकॉंक में मिले थे, दिसंबर के महीने में ही मिले थे, इसके बाद प्रधानमंत्री अचानक बिना बुलाए लाहौर गए थे और उसके बाद हमको अपमानित भी होना पड़ा, जब भारत के प्रधानमंत्री को वहाँ पर गार्ड of Honor नहीं दिया गया, सलामी नहीं दी गई और तीन दिन के बाद एक बड़ा हमला पठान कोट के अदंर हुआ। इसलिए हमारी ये मांग है कि सरकार सुरक्षा स्थिति के बारे में देश को आश्वस्त करे और ये बार-बार सीमा पार कार्यवाही करने के दावे छोड़कर पुख्ता कदम उठाएँ। जिससे लोगों को ये दिखे, देश को ये दिखे कि सही मामले में ऐसे हमलों पर काबू पा लिया गया है।

यह भी देखिये-भारतीय सिनेमा का दबदबा विदेशों में, जानिए बूम-बूम इन