National

भारत नेपाल के अब संबंध में होगा सुधार

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की शुक्रवार से शुरु हो रही नेपाल यात्रा से नये संविधान के क्रियान्वयन के बाद गणतांत्रिक व्यवस्था में हुए पहले चुनाव में प्रचंड बहुमत से आयी वाममोर्चा की ‘स्थिर सरकार’ के साथ संबंधों में सहजता एवं गर्मजोशी आने की उम्मीद है।

Narendra Modi
Narendra Modi

 

सूत्राें ने यहां कहा कि मोदी की यह तीसरी नेपाल यात्रा है। एक द्विपक्षीय यात्रा और एक यात्रा दक्षेस शिखर सम्मेलन के लिए हुई थी। उनकी यह यात्रा देश में आम चुनाव के बाद दो तिहाई बहुमत से बनी नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी (एमाले) एवं माओवादी सेंटर की ‘स्थिर सरकार’ के साथ संबंधों को अनुकूल बनाने की कवायद के तहत हो रही है। नया संविधान और गणतांत्रिक व्यवस्था लागू होने के बाद संघीय एवं प्रांतीय चुनाव के बाद नेपाल ने एक नये युग में प्रवेश किया है।

सूत्रों के अनुसार भारत ने नये संविधान के क्रियान्वयन को लेकर मधेसी समुदाय के अधिकारों को समाहित करने के आग्रह को नरम कर लिया है। तराई की प्रांतीय सरकाराे में मधेसी राजनीतिक दलों के सत्ता में आने और संघीय सरकार में भी भूमिका को देखते हुए भारत ने रुख में बदलाव किया है। गणमान्य नागरिकों के गैर सरकारी समूह द्वारा 1950 की भारत नेपाल मैत्री संधि की समीक्षा की मांग पर भी भारत सरकार नरम रुख अपनायेगी। सूत्रों के अनुसार श्री मोदी 11 मई को सुबह जनकपुर पहुंचेंगे जहां वह नेपाली प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली से मिलेंगे और जानकी मंदिर के दर्शन एवं पूजा अर्चना करेंगे।

दोनों नेता रामायण सर्किट की घोषणा करने के साथ जनकपुर से अयोध्या के लिए बस सेवा का भी शुभारंभ करेंगे। बाद में मोदी जनकपुर के नगर निगम द्वारा अभिनंदन समारोह में शिरकत करेंगे। माेदी दोपहर बाद काठमांडू जाएंगे और वहां ओली के साथ द्विपक्षीय शिखर बैठक में हिस्सा लेंगे। इस दौरान दोनों देशों के बीच कुछ समझाैतों पर हस्ताक्षर किए जाएंगे। दोनों नेता अरुण -3 जलविद्युत परियोजना का संयुक्त रूप से उद्घाटन करेंगे। नौ सौ मेगावाट क्षमता वाली इस परियोजना का निर्माण सतलुज जल विद्युत निगम ने किया है तथा इस पर करीब 6000 करोड़ रुपए की लागत आयी है। दोनों पक्ष पंचेश्वर परियोजना की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट को भी अंतिम रूप देने के बारे में बात करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Notifications    Ok No thanks