Deprecated: title is deprecated since version WPSEO 14.0 with no alternative available. in /home/mobilepenews/public_html/wp-includes/functions.php on line 4723

Deprecated: WPSEO_Frontend::get_title is deprecated since version WPSEO 14.0 with no alternative available. in /home/mobilepenews/public_html/wp-includes/functions.php on line 4723

Deprecated: title is deprecated since version WPSEO 14.0 with no alternative available. in /home/mobilepenews/public_html/wp-includes/functions.php on line 4723

Deprecated: WPSEO_Frontend::get_title is deprecated since version WPSEO 14.0 with no alternative available. in /home/mobilepenews/public_html/wp-includes/functions.php on line 4723
भारत वर्ल्ड फूड फैक्ट्री बन सकता है हरसिमरत कौर बादल – Mobile Pe News

भारत वर्ल्ड फूड फैक्ट्री बन सकता है हरसिमरत कौर बादल

नयी दिल्ली खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने आज कहा कि विश्व की जनसंख्या लगातार बढ़ रही है और इसके लिए जितने खाद्य पदार्थों की मांग होगी उसे भारत पूरा कर सकता है।बादल ने इंडो डच चैम्बर आफ कामर्स एंड सांइसेंज की ओर से पौष्टिक खाद्य पदार्थों पर आयोजित एक सेमिनार को सम्बोधित करते हुए कहा कि भारत वर्ल्ड फूड फैक्ट्री बन सकता है।

Harsimrat Kaur Badal

उन्होंने फसलों के तैयार होने के बाद होने वाले नुकसान पर चिन्ता व्यक्त करते हुए कहा कि इसकी रोकथाम नयी नयी प्रौद्योगिकी के माध्यम से की जा सकती है।उन्होंने कहा कि देश में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग को बढ़ावा देने के लिए हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं और इसके लिए विशेष कोष की व्यवस्था भी की गयी है।देश में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग के लिए आधारभूत ढांचा के विकास के वास्ते विदेशों से चार अरब डालर का समझौता किया गया है।

यह भी दखिये-महिलाआें की सुरक्षा और सशक्तिकरण हेतु खट्टर की दस घोषणाएं

खाद्य प्रसंस्करण मंत्री ने कहा कि लोगों में स्वास्थ्य के प्रति जागरुकता बढ़ रही है और वे खानपान पर विशेष ध्यान दे रहे हैं।भारत योग और आयुर्वेद का देश है जो विश्व को स्वस्थ्य खानपान को लेकर नया रास्ता दिखा सकता है।देश में नारियल, तुलसी,मखाना, हल्दी और औषधीय पौधे हैं जिसके प्रसंस्करण की भी जरुरत नहीं है और विभिन्न बीमारियों में लोग इसका सीधे सेवन करते हैं।

यह भी दखिये- तीस सितम्बर तक प्रदेश को खुले में शौच मुक्त बनाया जाये: चौधरी

उन्होंने कहा कि देश के हर राज्य की अपनी-अपनी भोजन पकाने की विशेषतायें हैं और लोग स्थानीय स्तर पर पैदा होने वाले खाद्यान्नों को अपने आहार का हिस्सा बनाते हैं।इस अवसर पर नीदरलैंड के राजदूत अल्फांसस स्टोइलिंगा ने कहा कि उनके देश के भारत के साथ मधुर संबंध हैं और वह खाद्य सुरक्षा के क्षेत्र में सहयोग को तैयार हैं।उन्होंने कहा कि सरकार यहां के किसानों की आय दोगुना करने को लेकर प्रतिबद्ध है और उनका देश इसमें सहयोगी बनना चाहता है।

यह भी दखिये- सात लाख बिंयालीस हजार किसानों को मिले ऋणमाफी प्रमाण पत्र