कांग्रेस ने हमेशा देश के हितों से किया समझौता : नरेंद्र मोदी

कोलकाता | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कांग्रेस पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि आतंकवादियों से लोहा लेने वाली भारतीय सेना के मनोबल को हतोत्साहित करने वाले कांग्रेस के घोषणा पत्र की मियाद 23 मई को लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के साथ समाप्त हो जायेगी।मोदी ने यहां के ‘ब्रिगेड परेड ग्राउंड’ में पहली बार एक भव्य रैली को संबोधित करते हुए लोगों से ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेखने तथा स्वामी विवेकानंद के दृष्टिकोण के अनुसार देश को नयी ऊंचाई पर ले जाने के लिए अपनी सरकार की कोशिशों का समर्थन करने का आह्वान किया। उन्होंने गत 19 जनवरी को कोलकाता में हुई विपक्षी पार्टियों की रैली को लेकर हमला बोला और कहा कि विपक्षी नेता ‘मोदी हटाओ, मोदी हटाओ’ का नारा लगा रहे थे। मैं पूछना चाहता हूं कि क्यों मोदी हटाओ?

उन्होंने कहा, “मोदी ने क्या गलत किया है? क्या गरीबों को घर देना, रसोई गैस सिलिंडर देना, शौचालय बनवाना गलत है? यदि हां, तो मैंने यह गलती की है। मैं दोषी हूं।” उन्होंने कहा कि लोगों के सहयोग से गत पांच सालों में राष्ट्रीय जनतांत्रिक सरकार (राजग) के लिए असंभव संभव बन गया है क्योंकि जनता ‘चौकीदार बन गयी है।प्रधानमंत्री ने कहा, “कांग्रेस के घोषणा पत्र की मियाद 23 मई को समाप्त हो जायेगी और हमारी सरकार आतंकवादियों से लड़ाई के लिए सेना को मजबूत करेगी। हम सेना को सशक्त बनायेंगे।” उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में जो कहा है, उससे सिर्फ पाकिस्तान में पनाह लिये हुए आतंकवादियों की मदद होगी।उन्होंने कहा, “क्या इससे पाकिस्तानी आतंकवादियों को मदद नहीं मिलेगी? उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस वजह से नाराज है क्योंकि हर जगह चौकीदार है। यहां तक की सीमाओं पर भी चौकीदार है।

उन्होंने कहा कि देश और इस राज्य में कई ऐसे लोग है जो बालाकोट में आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के ठिकाने पर भारतीय वायुसेना की कार्रवाई, सर्जिकल स्ट्राइक और हवा में घातक सैटेलाइट को मार गिराकर अंतरिक्ष में भारत का वर्चस्व स्थापित होने का सबूत मांग रहे हैं। उन्होंने कहा, “भारत के पास इस तरह की क्षमता हमेशा थी, लेकिन तब की सरकार ने अपने दुश्मनों के खात्मे के लिए इसका उपयोग नहीं किया था। कांग्रेस ने हमेशा देश के हितों से समझौता किया है। यहां तक की नक्सलियों और अलगावादियों के खिलाफ लागू होने वाले कानून को भी कमजोर किया है तथा अब तृणमूल कांग्रेस भी उसी विचारधारा पर काम कर रही है।”

उन्होंने कहा कि कानून देश के लोगों का जीवन आसान बनाने के लिए है। उन्होंने कहा, “हमने 1400 नये कानून पास किये लेकिन कांग्रेस हमारे सैनिकों को कमजोर कर रही है। उनका मनोबल तोड़ रही है। मैं उनके साथ खड़ा हूं। मोदी कभी भी कांग्रेस को सफल नहीं होने देगी।”मोदी ने अपने आधे घंटे के भाषण के दौरान विपक्षी पार्टियों द्वारा ‘एयर स्ट्राइक’ का सबूत मांगने की आलोचना करते हुए कहा कि यह सुरक्षा बलों का अपमान है। उन्होंने कहा, “यह किसने कहा कि हमें आतंकवादियों की लाश दिखाओ? क्या आप लोगों को इस कार्रवाई पर गर्व नहीं है? किसने इसे ड्रामा करार दिया है?”

उन्होंने कहा, “‘सर्जिकल स्ट्राइक’, ‘एयर स्ट्राइक’ ‘स्पेस स्ट्राइक’ या कोलकाता से बनारस तक ‘वाटरवे’ किसके कारण संभव हुआ? गत पांच सालों में यह किसने किया? नहीं, मोदी की वजह से नहीं? यह आपके आशीर्वाद से हुआ। यह आपकी वजह से संभव हुआ। असंभव संभव है।” इस दौरान दर्शक मोदी-मोदी के नारे लगा रहे|