National

प्रधानमंत्री आवास योजना में छत्तीसगढ़ देश में पहले स्थान पर

छत्तीसगढ़ को प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत गरीब परिवारों के लिए पक्के मकानों के निर्माण में देश में पहला स्थान मिला है। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री अजय चन्द्राकर की अध्यक्षता में जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों की समीक्षा बैठक में कल यह जानकारी दी गई।

Prime Minister Housing Scheme
Prime Minister Housing Scheme

 

योजना के तहत राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में अब तक लगभग तीन लाख 52 हजार मकानों का निर्माण पूरा कर लिया गया है। चन्द्राकर ने प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण), स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) और पंचायत एवं ग्रामीण विकास प्रशिक्षण संस्थान के कार्यों की समीक्षा की। उन्होने कहा कि नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद वर्ष 2015 में ग्रामीण गरीब परिवारों को स्वयं का मकान उपलब्ध कराने की मुहिम शुरू हुई है।

राज्य सरकार ने इस योजना का न केवल मैदानी क्षेत्रों में बल्कि दूरस्थ वनाचंल क्षेत्रों में भी बेहतर क्रियान्वयन किया। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना और स्वच्छ भारत मिशन प्रधानमंत्री की प्राथमिकता वाली योजना है। उन्होने योजना के तहत निर्मित आवास में स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय निर्माण सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। चन्द्राकर ने स्वच्छ भारत मिशन के कार्यों की जानकारी प्राप्त की।

उन्होंने नक्सल प्रभावित क्षेत्रों को छोड़कर प्रदेश मे शत-प्रतिशत शौचालय निर्माण के लिए खुशी जाहिर करते हुए शत-प्रतिशत स्वच्छता स्थायित्व ओर आगे बढने के निर्देश अधिकारियों को दिए। बैठक में केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय के संयुक्त सचिव प्रशांत कुमार ने प्रधानमंत्री आवास योजना के बेहतर क्रियान्वयन कर छत्तीसगढ़ को पहले स्थान प्राप्त करने के लिए बधाई दी। उन्होने छत्तीसगढ़ के आवास मॉडल की प्रशंसा करते हुए कहा कि वे अन्य राज्यों में इस योजना की समीक्षा के दौरान यहां के आवास मॉडल का उदाहरण प्रस्तुत करते है।


(इस खबर को मोबाइल पे न्यूज संपादकीय टीम ने संपादित नहीं किया है। यह एजेंसी फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

मोबाइल पे न्यूज पर प्रकाशित किसी भी खबर पर आपत्ति हो या सुझाव हों तो हमें नीचे दिए गए इस ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हैं:

[email protected]

हिन्दी में राष्ट्रीय, राज्यवार, मनोरंजन, खेल, व्यापार, अजब—गजब, विदेश, हैल्थ, क्राइम, फैशन, फोटो—वीडियो, तकनीक इत्यादि समाचार पढ़ने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक, ट्विटर पेज को लाइक करें:

फेसबुक मोबाइलपेन्यूज

ट्विटर मोबाइलपेन्यूज

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Notifications    Ok No thanks