A panacea is a black salt: रामबाण औषधि है काला नमक, दिल को बनाता है मजबूत

A panacea is a black salt: घरों में सफेद नमक का इस्तेमाल होता है। काले नमक का इस्तेमाल कोई नहीं करता है, क्योंकि काले नमक के फायदों से आम आदमी वाकिफ नहीं है। काला नमक रामबाण का काम करता है। आयुर्वेद में काले नमक के बहुत सारे फायदे बताए गए हैं।

कोलेस्ट्रॉल और उच्च रक्तचाप नियंत्रक

काले नमक के सेवन से हृदय की अनियमित धड़कनों को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। काले नमक का सेवन कोलेस्ट्रॉल और उच्च रक्तचाप को भी नियंत्रित करता है। जिससे दिल का दौरा और स्ट्रोक जैसे जोखिम का खतरा कम हो जाता है। काला नमक आसानी से घुल जाता है इसलिए इसका इस्तेमाल एंटी-कोलेस्ट्रॉल पदार्थों को बनाने में किया जाता है।

मधुमेह कम करने में सहायक

पाचन ग्रंथियों में इंसुलिन हार्मोन का बनना कम हो जाता है तो खून में ग्लूकोज का स्तर बढ़ने लगता है, जिसके प्रभाव से मधुमेह जैसी समस्या उत्पन्न होती है। मधुमेह के साइड इफेक्ट कम करने में काले नमक का सेवन मददगार साबित हो सकता है, क्योंकि खून में ग्लूकोज के स्तर को नियंत्रित करने में काला नमक बहुत ही प्रभावी पाया गया है। अगर मधुमेह से पीड़ित हैं तो काले नमक का सेवन जरूर करें।

मांसपेशियों की ऐंठन को दूर करता है

काला नमक मांसपेशियों की दर्दनाक ऐंठन से राहत देने में मदद करता है। काला नमक पोटेशियम जैसे पोषक गुणों से समृद्ध होता है जो मांसपेशियों के विकास के लिए बहुत आवश्यक होता है। अगर नियमित रूप से उपयोग किए जाने वाले नमक की जगह काले नमक का सेवन करें तो जल्द ही मांसपेशियों में दर्द और ऐंठन से छुटकारा मिल सकता है।

सीने में जलन खत्म करता है

हर पांचवा व्यक्ति सीने में जलन की समस्या से परेशान है मगर काले नमक का उपयोग इससे जल्द छुटकारा दिलाने में मदद कर सकता है। काले नमक की तासीर ठंडी होती है। यह बिना किसी दुष्प्रभाव के सीने की जलन को दूर करने में लाभदायक हो सकता है

वजन कम करने में मददगार

सफेद नमक के मुकाबले काले नमक में सोडियम कम होता है, जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है। शोध के अनुसार, मोटापे से ग्रसित व्यक्तियों को काले नमक का सेवन जरूर करना चाहिए।