Sunday , May 19 2019
Home / Off Beat / फिर बोतल से बाहर आए कांग्रेस के जिन्न, खिल गया मोदी और भाजपा का चेहरा

फिर बोतल से बाहर आए कांग्रेस के जिन्न, खिल गया मोदी और भाजपा का चेहरा

कांग्रेस के भस्मासुर रूपी जिन्न फिर बोतल से बाहर आ गए हैं। पूरी तरह बेकाबू इन जिन्नों को कांग्रेस ने पिछले साल ही अलग—अलग बोतलों में बंद किया था, लेकिन उनका कार्क ढीला रह जाने से वे ​लोकसभा चुनाव के बीच ही बोतलों से बाहर आ गए हैं और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा भाजपा की खुलेआम मदद करने पर उतारू हो गए हैं। इन जिन्नों से निपटने का कांग्रेस को कोई उपाय नहीं सूझ रहा है लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी समेत पूरी भाजपा इनके बाहर आने से न सिर्फ आल्हादित है बल्कि अब उसे भरोसा हो गया कि जिन्नों के चलते वह लोकसभा चुनावों के अंतिम चरण में उसकी झोली में अनगिनत वोट आ जाएंगे।

 

बता दें कि कांग्रेस के ये जिन्न वे नेता हैं जिनकी जुबान काबू में नहीं है और वे चुनावों के दौरान ऊलजलूल टिप्पणियां कर भाजपा की मदद करते रहे हैं। हाल ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के तकनीकी सलाहकार सेम पित्रोदा ने विवादास्पद बयान देकर प्रधानमंत्री को एक मुद्दा थमा दिया था। वह विवाद थमा ही नहीं था कि कड़वे बयान देने के लिए कुख्यात मणिशंकर अय्यर ने अपना नीच वाले बयान का जिक्र करते हुए फिर यह कह दिया कि उन्होंने ना ​पहले कुछ गलत कहा था और ना ही अब कह रहे हैं।
इधर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व अध्यक्ष एवं केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर फिर से की गयी अभद्र टिप्पणियों पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से सवाल किया कि क्या वह इस दफा अय्यर के विचारों से सहमत हैं।

सिंह ने दिल्ली में पार्टी मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन में अय्यर के बयान के बारे में पूछे जाने पर कहा कि अय्यर ने गुजरात विधानसभा चुनाव के समय प्रधानमंत्री मोदी को नीच कहा था जिसके बाद अय्यर को पार्टी से निलंबित कर दिया गया था। बाद में उनकी कांग्रेस में बहाली हो गयी थी। अब फिर अय्यर उसी को दोहरा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस बताये कि उसका अब क्या विचार है।
अमेरिकी पत्रिका टाइम में प्रधानमंत्री मोदी को डिवाइडर इन चीफ लिखे जाने के बारे में पूछे जाने पर सिंह ने कहा कि डिवाइडर इन चीफ वो लोग हैं जो अल्पसंख्यकों में भय की भावना पैदा करके वोटों की फसल काटते हैं। मोदी ने तो सबको साथ लेकर चलने का प्रयास किया है। उन्होंने नारा दिया है ‘सबका साथ सबका विकास’। किसी के कह देने या लिख देने से कुछ नहीं होता है।

सिंह ने कहा कि उन्होंने लोकसभा चुनावाें में देश के तकरीबन हर भाग में अब तक 110 चुनावी सभायें की हैं। कुल मिला कर देश की जनता का मूड देख कर उनका अनुमान है कि वर्ष 2014 की तुलना में भाजपा को पहले से अधिक सीटें हासिल होंगी और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को दो तिहाई बहुमत हासिल होने की संभावना से इन्कार नहीं किया जा सकता है।
इधर कांग्रेस ने मणिशंकर अय्यर की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में की गई टिप्पणी की निंदा करते हुए हुए कहा कि अपशब्दों का इस्तेमाल कर दिये जाने वाले बयान सुर्खियों में बने रहने की कोशिश होती है और पार्टी अय्यर सहित अन्य किसी भी नेता के राजनीतिक मर्यादा का उल्लंघन करने वाले बयान की निंदा करती है।

About admin

Check Also

विधायकों को फिर मिलेगा रिसॉर्ट में मस्ती करने का मौका, भाजपा के हो गए हैं मुरीद

कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के आपरेशन लोटस के मद्देनजर गठबंधन सरकार के सहयोगी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *