Deprecated: title is deprecated since version WPSEO 14.0 with no alternative available. in /home/mobilepenews/public_html/wp-includes/functions.php on line 4723

Deprecated: WPSEO_Frontend::get_title is deprecated since version WPSEO 14.0 with no alternative available. in /home/mobilepenews/public_html/wp-includes/functions.php on line 4723

Deprecated: title is deprecated since version WPSEO 14.0 with no alternative available. in /home/mobilepenews/public_html/wp-includes/functions.php on line 4723

Deprecated: WPSEO_Frontend::get_title is deprecated since version WPSEO 14.0 with no alternative available. in /home/mobilepenews/public_html/wp-includes/functions.php on line 4723
मनोविज्ञानियों ने खोजा नया रहस्य, फंतासी की दुनिया में जीने वाले होते हैं सबसे बड़े डरपोक – Mobile Pe News

मनोविज्ञानियों ने खोजा नया रहस्य, फंतासी की दुनिया में जीने वाले होते हैं सबसे बड़े डरपोक

दुनिया के जाने माने मनोविज्ञानियों ने निष्कर्ष निकाला है कि फंतासी की दुनिया में जीने वाले सर्वाधिक डरपोक होते हैं और वे कल्पनाओं में स्वयं को बहादुर के रूप में देखते हैं, लेकिन जैसे ही वे वास्तविक दुनिया में नमूदार होते हैं, डर फिर से उन पर हावी हो जाता है और कई बार वे अपने डर को उसी तरह सार्वजनिक कर देते हैं, जैसे हाल ही पर्दे पर बहादुरी के अनेक कारनामे दिखा चुके बॉलीवुड एक्शन हीरो अजय देवगन ने किया है।

देवगन ने स्वीकार किया है कि उन्हें लिफ्ट से बहुत डर लगता है और इसी वजह से वे कितनी ही ऊंची बिल्डिंग क्यों न हो, ​उसमें ऊपर की मंजिलों पर जाने के लिए लिफ्ट की अपेक्षा सीढ़ियों से जाते हैं। हालांकि अजय देवगन को इंडस्ट्री का एक्शन हीरो माना जाता है और वह अपनी फिल्मों में खुद स्टंट करते हैं इसके बावजूद उन्हें लिफ्ट से डर लगता है।

हाल ही में वह ‘द कपिल शर्मा शो’ में तब्बू और रकुल प्रीत सिंह के साथ अपनी आने वाली फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ के प्रमोशन के लिए आए अजय देवगन ने स्वयं यह स्वीकार किया कि उन्हें सबसे ज्यादा डर लिफ्ट से लगता है। शो में अजय देवगन, रकुल प्रीत और तब्बू ने इस दौरान लोगों का काफी मनोरंजन किया। जहां तीनों कलाकारों ने मिलकर अपनी-अपनी जिंदगी के कई अहम राज खोले।

अजय देवगन इसका खुलासा खुद किया। उन्होंने बताया कि फिल्म ‘भूत’ की शूटिंग करते समय वह बिल्डिंग के 28 फ्लोर सीढ़ियों से चढ़ते थे। ये सिलसिला लगभग एक महीने से ज्यादा समय तक चला। उन्होंने अपने इस डर की वजह का हवाला देते हुए बताया कि एक बार वो लिफ्ट में थे और उसी बीच लिफ्ट खराब हो गई थी। लिफ्ट चौथे फ्लोर से सीधे ग्राउंड फ्लोर पहुंच गई थी। इस दौरान वो लिफ्ट में एक घंटे तक फंसे रहे। जिसका असर उन पर काफी गहरा पड़ा। उन्होंने बताया कि उन्होंने अपने घर में लगे लिफ्ट का दरवाजा बदलवाकर ट्रांसपेरेंट दरवाजा लगवाया था।